Monday, 24 June, 2019
Home / धर्म-समाज / खैराबादधाम में मां फलौदी दर्शन के लिये उमडे़ 10 हजार श्रद्धालु

खैराबादधाम में मां फलौदी दर्शन के लिये उमडे़ 10 हजार श्रद्धालु

बसंत महासंगम: रविवार को बसंत पंचमी पर मेड़तवाल वैश्य समाज की सिद्धपीठ में देशभर से पहुंचे श्रद्धालु ।

न्यूजवेव खैराबाद/कोटा

बसंत पंचमी महोत्सव पर मेड़तवाल (वैश्य) समाज के तीर्थस्थल खैराबादधाम में 10 फरवरी रविवार को श्रीफलौदी माता मंदिर पर श्रद्धालुओं का सैलाब उमडा। मंदिर के गर्भगृह में मां फलौदी की प्रतिमा का दिव्य अभिषेक व श्रृंगार हुआ। उसके पश्चात माताजी को बाहर सिंहासन पर विराजित किया गया। विभिन्न राज्यों से पहुंचे 10 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने मंदिर परिसर में लंबी कतारों में खडे़ होकर बारी-बारी से चरणस्पर्श व पूजा अर्चना की।

समाज के महामंत्री भंवरलाल सिंगी ने बताया कि वर्ष में एक बार समाजबंधुओं व दर्शनार्थियों को फलदायिनी फलौदी माताजी महाराज के चरण वंदन एवं दिव्य प्रतिमा की पूजा अर्चना करने का अवसर मिला। मध्यप्रदेश मंदिर परिसर में जलकुंड के चारों ओर से श्रद्धालु कतारों में दर्शन के लिये पहुंचे। शाम 6 बजे मां फलौदी की भव्य सामूहिक महाआरती हुई, जिसमें महू के आनंद गुप्ता ने मुख्य आरती एवं मुंबई के पूजा आशीष गुप्ता ने कपूर आरती की। उसके बाद स्वर्ण चंवर, चांदी छडी के साथ चंवर व माला आरती हुई, जिसमें हजारों महिलाओं ने मंत्रोच्चार के साथ माताजी का गुणगान किया। दर्शन के लिये राजस्थान, मध्यप्रदेश, दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, दिल्ली आदि राज्यों से बडी संख्या में श्रद्धालु परिवार सहित पहुंचे ।

अ.भा. मेडतवाल वैश्य समाज के अध्यक्ष मनीष गुप्ता ने बताया कि मंदिर परिसर में युवा टीमें दर्शन व्यवस्था जुटी रहीं। सोयत से खैराबाद पहुंचे मां फलौदी के रथ के साथ पदयात्रियों का रविवार को जगह-जगह भव्य स्वागत हुआ।

सुबह मेला ग्राउंड से शुरू हुई कलश यात्रा में पारंपरिक परिधानों में हजारों महिलाओं व पुरूषों ने भाग लिया। शोभायात्रा में घुडसवार व चांदी कलश मुख्य आकर्षण रहे। फलौदी माताजी के जयकारों से समूचा खैराबादधाम गूंजायमान हो उठा। इस अवसर पर विशाल भंडारे में 10 हजार से अधिक समाजबंधुओं ने महाप्रसादी ग्रहण की।

11 जोडों को मिली दाम्पत्य की सौगात
मंदिर श्रीफलौदी माताजी महाराज समिति, खैराबादधाम के तत्वावधान में 9 फरवरी को हुये अ.भा.युवक-युवती परिचय सम्मेलन में 11 जोडों के रिश्ते तय हुए। इन नवयुगल दम्पतियों ने परिजनों के साथ फलदायिनी फलौदी माता मंदिर पर माताजी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। सैकडों युवक-युवतियों ने मंदिर में मनपसंद जीवनसाथी की मनोकामना करते हुए दर्शन किये। हाडौती एवं मालवा के गांव-कस्बों व शहरों में बसंत महोत्सव पर शोभायात्राओं के साथ उत्सवी माहौल देखने को मिला।

Check Also

महामंडल विधान के साथ जिनागम संस्कार शिक्षण शिविर का समापन

न्यूजवेव @ कोटा पूज्य आचार्य 108 श्री विद्यासागरजी महाराज के सान्निध्य एवं पूज्य मुनिश्री 108 सुधासागर …

error: Content is protected !!