Monday, 8 July, 2019
Home / धर्म-समाज / ब्राह्मण समाज ने मनाया भगवान परशुराम का प्राकट्य महोत्सव

ब्राह्मण समाज ने मनाया भगवान परशुराम का प्राकट्य महोत्सव

विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम के प्राकट्य महोत्सव पर भगवा रंग में दिखा कोटा
न्यूजवेव@ कोटा
विष्णु के छठे अवतार परशुराम की जय-जयकार, जब जब ब्राह्मण बोला राजसिंहासन डोला…जैसे शंखनाद से कोटा शहर गूंज उठा। यह नजारा मंगलवार को ब्राह्मण समाज महानगर कोटा, सर्व ब्राह्मण समाज, ब्राह्मण कल्याण परिषद, राजस्थान ब्राह्मण महासभा एवं विप्र फाउंडेशन की ओर से परशुराम जयंती के अवसर पर भगवान परशुराम प्राकट्य महोत्सव के दौरान देखने को मिला।
तलवंडी स्थित परशुराम सर्किल पर ब्राम्हण समाज के सभी घटकों व उप घटकों के लोग एकत्रित होकर शोभायात्रा में रवाना हुए। गोदावरी धाम के महंत शैलेंद्र भार्गव, कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा, कांग्रेस शहर जिलाध्यक्ष रविंद्र त्यागी, राखी गौतम एवं मिस इंडिया श्रृति शर्मा ने भगवा ध्वज लहराकर शोभायात्रा को रवाना किया। सर्किल पर ब्राह्मण समाज के पदाधिकारियों ने भगवान परशुराम की पूजा अर्चना की।
इस मार्ग से निकली शोभायात्रा
गोदावरी धाम के महंत व कार्यक्रम संयोजक शैलेंद्र भार्गव ने बताया कि शोभायात्रा परशुराम सर्किल से होते हुए ओपेरा रोड, सेंट्रल पब्लिक स्कूल, केशवपुरा मेन रोड, महावीर नगर तृतीय चौराहा, घटोत्कच्छ चौराहा होते हुए बालाजी मार्केट स्थित परशुराम वाटिका पहुंची, जहां 501 दीपकों के साथ ब्राह्मण समाज के लोगों ने भगवान परशुराम की महाआरती उतारी। महाआरती के बाद भजन संध्या का आयोजन रखा गया, जिसमें भजन कलाकारों ने सुमधुर भजनों की प्रस्तुति दी। इसके बाद महाप्रसादी हुई।
*भगवा रंग में मातृशक्ति*
ki
ब्राह्मण नेता ईश्वर शर्मा व अनिल तिवारी ने संयुक्त रूप से बताया कि शोभायात्रा में छोटे से बड़े लोग हाथ में केसरिया झंडे लेकर डीजे की धुन पर भगवान परशुराम के जयकारों पर नाचते गाते हुए नजर आए। शोभायात्रा में आगे लोग भगवान परशुराम के जयकारे लगाते व डीजे के साथ वाहन रैली निकाली गई। इस दौरान मातृशक्ति भी पीली साड़ी के साथ साफा पहने नजर आई। शोभायात्रा में ब्राह्मण समाज के महापुरुषों की जीवंत झांकी, जिसमें झांसी की रानी, मंगल पांडे, बाल गंगाधर तिलक, चंद्रशेखर आजाद, पंडित राम प्रसाद बिस्मिल आदि की जीवंत झांकी सजाई गई।
भगवान परशुराम की जीवंत झांकी
गोदावरी धाम व केशवपुरा अखाड़े के कलाकारों ने अपने हैरतअंगेज करतब दिखाए। साथ ही बूंदी के आतिशबाजी कलाकारों ने आकाश में रंगबिरंगी रोशनी से सब का दिल जीत लिया। शोभायात्रा में 1000 से अधिक युवकों ने भगवान परशुराम का फरसा धारण कर रखा था, जो शोभायात्रा की एक अलग ही शान बढ़ा रहा था। 21 बुलेट मोटरसाइकिल पर समाज के लोग आगे-आगे भगवा ध्वज लेकर चल रहे थे। उनके पीछे घुड़सवार भगवा साफा बांधकर हाथ में भगवा पताका लेकर चल रहे थे, जिससे शोभायात्रा का पूरा मार्ग भगवामय हो गया। शोभायात्रा में भगवान परशुराम की जीवंत झांकी के साथ कच्छी घोड़ी, 21 ढोल, 4 भजन मंडली व बघ्घियां चल रही थी। विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के लोगों ने शोभायात्रा का जगह-जगह पर पुष्पवर्षा के साथ ब्राह्मण समाज के लोगों का आत्मिक स्वागत किया। शोभायात्रा में शामिल लोगों का जगह-जगह ठंडे पानी, शर्बत समेत शीतल पेय पदार्थों से स्वागत सत्कार किया।
इन्होंने शोभायात्रा को बनाया सफल
राजेंद्र गौतम व रम्मू पंडित ने बताया कि शोभायात्रा को सफल बनाने में ब्राह्मण कल्याण परिषद, सर्व ब्राह्मण समाज राजस्थान, ब्राह्मण महासभा, विप्र फाउंडेशन, सनाढ्य ब्राह्मण समाज, गौतम समाज, भार्गव समाज, पारीक समाज, दाधीच समाज, गौड़ ब्राह्मण समाज, पाराशर ब्राह्मण समाज, सरयू पारीण ब्राह्मण समाज, औदीच्य ब्राह्मण समाज, नंदवाना ब्राह्मण समाज, त्यागी ब्राह्मण, सारस्वत समाज, सूर्य बीज ब्राह्मण समाज, गालव ब्राह्मण समाज, आदि गौड़ ब्राह्मण समाज, मैथिल, गुजराती, श्रृंगी, चतुर्वेदी, बालोतरा, महाराष्ट्र, कान्यकुब्ज, पालीवाल, खांडल, विप्र समाज, हरियाणा गौड़, चमन, श्रीमाली, नागर व पंजाबी ब्राह्मण समाज का अग्रणी योगदान रहा है। इस मौके पर राजेंद्र गौतम, रम्मू पंडित, विकास शर्मा, भुवनेश्वर शर्मा चच्चू, राज दाधीच, बृजराज गौतम, रासबिहारी पारीक, धर्मेंद्र दीक्षित, विद्याशंकर गौतम, गोविंद शर्मा, उप महापौर सुनीता व्यास, देवेश तिवारी, अनिल औदिच्य, कांग्रेस प्रवक्ता अनूप ठाकुर, तरुण चतुर्वेदी, पूर्व महापौर सुमन श्रृंगी, सीताराम शर्मा, सुनील गौतम, रिंकू शर्मा, शीला तिवारी, अवधेश पाराशर, सतीश शर्मा व अजय चतुर्वेदी आदि समाज के लोग उपस्थित थे।

Check Also

खुशी एक पल नहीं बल्कि यात्रा है – के.एम.टंडन

ISTD कोटा चेप्टर द्वारा स्वर्ण जयंती वर्ष में ‘टेक्नोलॉजी ऑफ हैप्पीनेस’ पर हुई वर्कशॉप न्यूजवेव …

error: Content is protected !!