Saturday, 7 December, 2019
Home / Highlights / कोटा में KVPY का परीक्षा केंद्र क्यों नहीं

कोटा में KVPY का परीक्षा केंद्र क्यों नहीं

सर्वाधिक परीक्षार्थी होने से कोटा में JEE-Advanced तथा KVPY के सेंटर बहाल किये जाये
न्यूजवेव कोटा
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस,बैंगलुरू द्वारा 3 नवंबर को आयोजित होने वाली किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY) परीक्षा के लिये राजस्थान में 5 शहरों में परीक्षा केंद्र घोषित किये गये हैं जबकि शिक्षा नगरी कोटा में इस परीक्षा का सेंटर नहीं दिया गया है।

एनजीओ ‘कोशिश’ की संचालिका वंदना गुप्ता ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र भेजकर मांग की है कि कोटा शहर में एमएचआरडी द्वारा सभी प्रवेश परीक्षाओं तथा प्रमुख राष्ट्रीय परीक्षाओं के परीक्षा केंद्र घोषित करने के निर्देश जारी किये जायें। जिससे हजारों कोचिंग विद्यार्थियों को परीक्षा से ठीक पहले दूसरे शहरों में नहीं जाना पडेगा तथा उनका शारीरिक, मानसिक व आर्थिक बोझ कम होगा।
KVPY में प्रतिवर्ष कोटा से 10 हजार से अधिक कोचिंग विद्यार्थी पेपर देते हैं तथा शीर्ष रैंक पर सफलता भी प्राप्त करते है। इस परीक्षा के लिये राज्य में जयपुर, जोधपुर, अजमेर, उदयपुर व सीकर में सेंटर दिये गये हैं जबकि सर्वाधिक परीक्षार्थी होने के बावजूद कोटा की उपेक्षा की गई है। इसी तरह, लगातार आवाज उठाने के बावजूद जेईई-एडवांस्ड का सेंटर कोटा में अभी तक बहाल नहीं किया गया है। जिससे छात्राओं को भी अन्य शहरों में पेपर देने जाना पडता है।

Check Also

किसान अब घर बैठे खेत के पम्प को बंद कर सकेंगे

नवाचार: आरटीयू के इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स ने कृषि क्षेत्र के लिये ऑटो डिवाइस ‘गुरूजी’ विकसित की। …

error: Content is protected !!