Thursday, 4 March, 2021

सीबीएसई 10वीं व 12वीं बोर्ड की प्रेक्टिकल परीक्षायें 1 मार्च से

अच्छी खबर: सीबीएसई स्कूलों में कक्षा-9 एवं 11वीं की परीक्षायें भी आयोजित करने के निर्देश, स्कूलों में नया सत्र 1 अप्रैल से
न्यूजवेव @ कोटा

सभी राज्यों में कोरोना महामारी नगण्य हो जाने के बाद सीबीएसई ने सभी संबद्ध स्कूलों में कक्षा-10वीं एवं 12वीं बोर्ड के लिये प्रेक्टिकल परीक्षायें 1 मार्च से 11 जून,2021 तक आयोजित करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही विद्यार्थियों के प्रोजेक्ट व इंटरनल असेसमेंट भी 11 जून तक पूरे कर लिये जायें।


परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने सभी सीबीएसई स्कूल संचालकों व प्राचार्य को निर्देश दिये कि प्रेक्टिकल लैब में कोरोना सुरक्षा प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना की जाये। 25 विद्यार्थियों के बैच को दो ग्रुप में बांटकर प्रेक्टिकल परीक्षा ली जाये।
बोर्ड परीक्षा में 33 प्रतिशत पर उत्तीर्ण
बोर्ड के दिशानिर्देश के अनुसार, 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिये न्यूनतम उत्तीर्ण अंक 33 प्रतिशत होंगे। 12वीं बोर्ड में प्रत्येक विषय के थ्योरी पेपर में 80 में से न्यूनतम 26 अंक तथा इंटरनल असेसमेंट में 20 में से 6 अंक लाना अनिवार्य हैं। विज्ञान संकाय में फिजिक्स, केमिस्ट्री व बायोलॉजी के थ्योरी पेपर में 70 में से 23 तथा प्रेक्टिकल में 30 मंे से 9 अंक उत्तीर्ण होने के लिये अनिवार्य हैं।
9वीं एवं 11वीं की परीक्षायें जल्द
परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि स्कूलों में कक्षा-9 एवं 11वीं की परीक्षायें कोरोना सुरक्षा प्रोटोकॉल की अनुपालना करते हुये आयोजित करें। सीबीएसई ने मई-जून में होने वाली कक्षा-10वीं एवं 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की डेट शीट भी जारी कर दी हैं।
सीबीएसई के सिटी कॉर्डिनेटर प्रदीप सिंह गौड़ ने बताया कि अधिकांश राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में राज्य सरकारों ने सीबीएसई स्कूल चालू करने की अनुमति प्रदान कर दी है। बोर्ड का मानना है कि विद्यार्थियों को फेस-टू-फेस क्लासरूम पढ़ाई के लिये तैयार किया जाये, जिससे उनमें परीक्षा का भय दूर हो सके। स्कूल में सत्र प्रारंभ हो जाने से वे प्रेक्टिकल पूरे कर सकेंगे। साथ ही उनमें लिखने का कौशल विकसित होगा। स्कूलों में शिक्षक प्रत्येक स्टूडेंट पर फोकस करते हुये बीच के अंतराल में रहे डाउट्स दूर करने का प्रयास करें।
अधूरी पढाई ब्रिज कोर्स से पूरी करें
सीबीएसई ने निर्देश दिये कि स्कूलों में नियमित पढाई के साथ ही कोरोना के कारण बीच के अंतराल की पढाई को पूरा करने की योजना बनायें तथा विद्यार्थियों के लिये विशेष ब्रिज कोर्सेस प्रारंभ करें। सीबीएसई स्कूलों में नये शैक्षणिक सत्र 2021-22 की शुरूआत 1 अप्रैल,2021 से प्रारंभ की जा सकती है। इसके लिये राज्य सरकारों के दिशानिर्देश की सख्ती से अनुपालना की जाये।

(Visited 35 times, 1 visits today)

Check Also

RTU में नई शिक्षा पद्धति 2020 पर वेबिनार

न्यूजवेव @ कोटा राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय कोटा के यूनिवर्सिटी डिपार्टमेंट्स की TEQIP-III योजना के अंतर्गत …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: