Monday, 8 July, 2019
Home / Highlights / कोटा में 5 हजार पुलिसकर्मियों का मेगा हैल्थ चेकअप कैम्प 25 से

कोटा में 5 हजार पुलिसकर्मियों का मेगा हैल्थ चेकअप कैम्प 25 से

हैप्पीनेस इनीशिएटिव, मेडकॉर्ड्स व पुलिस प्रशासन के तत्वावधान में कोटा जिले के पुलिसकर्मियों व परिजनों की निःशुल्क हैल्थ कुंडली तैयार होगी,  ई-कंसलटेंसी सुविधा मिलेगी
न्यूजवेव@ कोटा
‘जो करे सबकी रक्षा, हम करें उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा’ जैसा संकल्प लेकर राज्य में पहली बार पायलट प्रोजेक्ट के रूप में कोटा जिले में सेवारत 5000 से अधिक पुलिसकर्मियों व उनके परिजनों की निःशुल्क डिजिटल हैल्थ कुंडली बनाई जाएगी। हैप्पीनेस सिटी इनीशिएटिव, मेडकॉर्ड्स एवं जिला पुलिस प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में सोमवार से निःशुल्क विशाल स्वास्थ्य जांच शिविर बारां रोड स्थित पुलिस लाइन में प्रारंभ हो रहा है।

प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर व एएसपी मुख्यालय उमेश ओझा ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस महानिरीक्षक कोटा रेंज बिपिन कुमार पांडेय एवं पुलिस अधीक्षक शहर दीपक भार्गव 25 फरवरी को मेगा स्वास्थ्य जांच शिविर का शुभारंभ करेंगे। उन्होंने बताया कि तीन माह पहले कोटा शहर से यह पायलेट प्रोजेक्ट शुरू किया था, जिसके रिजल्ट सकारात्मक आए। जांच रिपोर्टांे से पता चला कि 10 प्रतिशत पुलिसकर्मियों को विशेषज्ञों से इलाज की जरूरत है। आमतौर पर पुलिसकर्मी अपने क्षेत्रों में दिन-रात हार्ड ड्यूटी करते हुये अपने व अभिभावकों के स्वास्थ्य व जांच आदि पर प्रायः पूरा ध्यान नहीं दे पाते हैं। इस माह पूरे कोटा जिले के पुलिसकर्मियों को एक ही स्थान पर सभी जांच सुविधाएं उपलब्ध होंगी, साथ ही उन्हें ई-कंसलटेंसी जैसी आधुनिक सुविधाओं की जानकारी भी दी जाएगी।

एएसपी सिटी राजेश मील एवं अधिकारियों ने हैप्पीनेस स्वास्थ्य जांच शिविर के पोस्टर ‘हमारा संकल्प जो करे सबकी रक्षा, हम करेंगे उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा’ का विमोचन किया। उन्होंने बताया कि डिजिटल हैल्थ रिकार्ड उपलब्ध होने से स्वस्थ्य जवानों को पुलिस विभाग में ऐसी जगह नियुक्ति मिलेगी, जहां वे अच्छा आउटपुट दे सकते हैं। प्रत्येक पुलिसकर्मी की डिजिटल हैल्थ कुंडली आजीवन सुरक्षित होने से उनको बार-बार जांच करवाने से निजात मिलेगी।

हर उम्र को हैप्पीनेस से जोडे़ं


हैप्पीनेस सिटी इनीशिएटिव के संरक्षक व प्रेरक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि कोटा शहर में खुशहाली के लिये हैप्पीनेस टीम के युवाओं ने सामाजिक सरोकार के तहत पुलिस विभाग के लिये यह विशाल निःशुल्क जांच शिविर आयोजित किया है। आज की भागदौड़ में हमारी मुस्कान गुम हो रही है, हम चाहते हैं कि सभी चेहरों पर स्थायी मुस्कान हो। पुलिस के लिये जिंदगी में कोई अवकाश नहीं होता, त्यौहार पर भी वे मुस्तैदी से ड्यूटी करते हैं। यातायात पुलिस के जवान रोज धूप, धूल और धुएं में जीते हैं। उनकी स्वास्थ्य जांच बेहद जरूरी है। यदि वे मानसिक व शारिरीक रूप से फिट होंगे तो कार्य में दक्षता कई गुना बढ सकती है। कोटा जिले का यह मॉडल प्रोजेक्ट अन्य शहरों में भी पुलिस विभाग को ऐसे शिविर लगाने के लिये प्रेरित करेगा।

ये जांचें होंगी निःशुल्क

मेडकॉर्ड्स सीईओ श्रेयांस मेहता ने बताया कि इस मेगा हैल्थ चेकअप कैम्प में रोज सुबह 8 से 1 बजे तक सभी जांचें निःशुल्क की जाएगी। शिविर में हैप्पीनेस इनीशिएटिव, मेडकॉर्ड्स, कोटा हार्ट हॉस्पिटल, श्रीजी हॉस्पिटल, रामदुलारी जिंदल मैमोरियल एंड हैल्थ केअर सोसायटी व महावीर ईएनटी हॉस्पिटल के विशेषज्ञ, नेत्र रोग, स्त्री रोग, हड्डी रोग विशेषज्ञों की टीम रोजाना 400 से 500 पुलिसकर्मियों, आश्रितों व माता-पिता की जांच करके परामर्श भी देंगे। प्रत्येक पुलिसकर्मी का पंजीयन कर हैल्थ रिकॉर्ड को तुरंत डिजिटलाइज कर दिया जाएगा। प्रत्येक पुलिसकर्मी की लिपिड प्रोफाइल तैयार हो जाएगी, जिससे उनकोे 3 हजार रू. तक की बचत होगी।

विशेषज्ञों द्वारा निशुल्क परामर्श भी


कोटा हार्ट हॉस्पिटल के सीईओ दीपक कुलश्रेष्ठ ने बताया कि शिविर में कॉर्डियोलॉजी के अलावा किडनी, लीवर, ईसीजी, थायराइड, रक्त जांच, आंख, नाक, कान, गला, एसजीपीटी, अर्थराइटिस आदि जांचे एवं हृदय रोग व स्त्री रोग विशेषज्ञों द्वारा निशुल्क परामर्श भी दिया जाएगा। हैप्पीेनेस टीम के प्रणव मेहता, कपिल अरोडा, रोहन शर्मा व निशांत शर्मा ने कहा कि हैप्पीेनस इनीशिएटिव एच-3 मेट्रिक्स हैप्पीेनेस, हैल्थ और हाईजीन के जरिये शहर को खुशहाली से जोडने के लिये प्रयासरत है।

Check Also

कोटा में खोलें नया ‘डाटा साइंस कॉलेज’

मुख्यमंत्री ने राज्य की विभिन्न संस्थाओं व संगठनों के प्रतिनिधियों से किया बजट पूर्व संवाद …

error: Content is protected !!