Monday, 8 July, 2019
Home / देश / देश की 50 यूनिवर्सिटी ने कोचिंग स्टूडेंट्स को दिये करिअर के नए अवसर

देश की 50 यूनिवर्सिटी ने कोचिंग स्टूडेंट्स को दिये करिअर के नए अवसर

 ‘हैप्पीनेस करिअर कॉन्क्लेव’ : नए विकल्प मिलने से 25 हजार कोचिंग विद्यार्थियों के चेहरे खिले।

न्यूजवेव @ कोटा

हैप्पीनेस इनिशिएटिव एवं के-2 लर्निंग द्वारा आयोजित दो दिवसीय ‘करिअर कॉन्क्लेव’ में कोटा के 25 हजार से अधिक कोचिंग विद्यर्थियों ने कक्षा-12वीं के बाद नवीनतम बैचलर डिग्री कोर्सेस की जानकारियां ली।

एक ही छत के नीचे देश की 50 प्राइवेट यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग, मेडिकल, ग्राफिक डिज़ाइन, स्पेस, ऑयल एंड गैस, सोलर एनर्जी, आईटी, कम्प्यूटर साइंस, साइबर सिक्युरिटी, क्रिप्टो करेंसी, क्लाउड कम्प्यूटिंग, सेप आदि में इंटीग्रेटेड व ड्यूल डिग्री, बीबीए, एमबीए, बीसीए, एमसीए, मर्चेंट नेवी, लिबरल एजुकेशन व फॉरेन यूनिवर्सिटी के डिग्री कोर्सेस के बारे में जानकारी व गाइडेंस दी गई।

मुख्य अतिथी जिला परिषद के सीईओ बीएम बैरवा ने कहा कि इस प्लेटफॉर्म से विद्यार्थियों को पढ़ाई के नए अवसरों का पता चल रहा है। आज इंडस्ट्री में किस फील्ड की डिमांड ज्यादा है, उसमे रुचि लें। असफलता एक नई सफलता के द्वार खोल देती है।

अपना विश्लेषण खुद करें

विशिष्ट अतिथी करिअर पॉइंट यूनिवर्सिटी के चांसलर आईआईटीयन प्रमोद माहेश्वरी ने कहा कि आप खुद विश्लेषण करें कि हम चाहते क्या है और क्यों बनना चाहते हैं। फिर सभी रास्तों की पहचान करें। सलेक्शन न हो तो भी माइंड को दूसरी दिशा के लिये तैयार कर लें। आपकी मेहनत केवल नम्बरों तक सीमित नही है। अपनी क्षमताओं से जीत की जिद करें और आगे बढ़ें।

इस मौके पर एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के निदेशक बृजेश माहेश्वरी, मोशन आईआईटी के निदेशक नितिन विजय, ई. प्रदीप सिंह गौड़, डीईओ पुरुषोत्तम माहेश्वरी, निवेश गुरु पंकज लड्ढा, नंदकिशोर अग्रवाल, के-2 लर्निंग के सीए श्रीपाल जैन, इटोस ग्रुप के नीलेश अग्रवाल व हैप्पीनेस टीम के सिद्धार्थ जैन, अनंत लड्ढा सहित कई गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

एक सत्र में पीसीईटी, पुणे के इंडस्ट्री हेड शिवानंद सुब्रम्हनयम ने बताया कि हमारे 10 कॉलेज में स्टूडेंट्स 2 साल क्लास में व 2 साल इंडस्ट्री में सीखते हैं। उसी कम्पनी में उनका प्लेसमेंट हो जाता है। जेएनयू, जयपुर के प्रो. चन्द्रशेखर राजोरा ने बताया कि यूनिवर्सिटी में इस समय 7 हजार स्टूडेंट है। मेडिकल कॉलेज में 150 एमबीबीएस सीट हैं।

प्रेक्टिकल लर्निंग पर जोर

सिम्बोयसिस स्किल यूनिवर्सिटी,पुणे व इंदौर की प्रो-चान्सलर डॉ स्वाति मजूमदार ने बताया कि हमारे कैम्पस में देश मे एकमात्र जर्मनी निर्मित लुकास न्यूले लेबोरेटरी है, जहां 70 प्रतिशत प्रेक्टिकल लर्निंग दी जा रही है। लखनऊ की इरा यूनिवर्सिटी के हेड ने बताया कि लिबरल एजुकेशन में नई सम्भावनाये हैं। बीए, बीकॉम या बीएससी के स्टूडेंट 2 माइनर व एक मेजर सब्जेक्ट लेकर अपनी रुचि के अनुसार डिग्री ले सकते हैं।

करिअर फॉर वुमन पर विशेष सेमिनार

इस विशेष सेमिनार ‘करिअर फ़ॉर वुमन’ में कोचिंग छात्राओं को इंजीनियरिंग व मेडिकल में न्यू एज कोर्सेस की काउंसलिंग की गई। मोदी यूनिवर्सिटी, लक्ष्मणगढ़ के प्रेसिडेंट एम के मदान ने कहा कि इंजीनियरिंग में गर्ल्स को फाइनल ईयर में ही ऊँचे जॉब आफर मिल रहे हैं। हिसार की आस्था ने बताया कि उसे बीटेक फाइनल में बैंगलुरु की टेक्सास कम्पनी से 12.3 लाख रु. का वार्षिक पैकेज मिला है। अबोहर(पंजाब) की मुस्कान सिंगला ने बताया कि उसे बीटेक फाइनल ईयर में चार बड़ी कम्पनियों से जॉब आफर मिल चुके हैं। जयपुर की छात्रा नव्या माथुर व अदिति सिंह ने कहा कि क्वालिटी एडुकेशन से हमे अच्छा एक्सपोजर मिल रहा है।

बेगूसराय व गाजीपुर से कोटा में कोचिंग ले रहे अभिनव कुमार, सुधाकर यादव, प्रियांशू व गौतम रोमियो ने कहा कि 45 दिन बाद हम जेईई-मेन देंगे, उससे पहले हमें यहां कई अच्छे कोर्सेस का पता चला, जिससे टेंशन दूर हो गई है। वापी की छात्रा संगीता ने बताया कि वह मेडिकल फील्ड में जाना चाहती है। कोटा में इस प्लेटफॉर्म से उसे अच्छे कोर्सेस के बारे में पता चला। भाई पार्थ यहां जेईई की तैयारी कर रहा है।

कोटा में मैराथन, लेकिन रेस अभी बाकी है..

सेमीनार में संदीप यूनिवर्सिटी, नासिक के कॉरपोरेट ट्रेनर प्रो. हार्दिक गोसावी ने कहा कि कोटा में डेढ़ लाख विद्यर्थियों के बीच प्रतिवर्ष मैराथन हो रही है, सभी को रैंक व सर्टिफिकेट मिल जाएंगे लेकिन इसके बाद 100, 200 व 400 मीटर की रेस भी है। रेस खत्म होते ही खुद को खत्म मत करो। रैंक -3000 भी है तो उससे बाहर आकर बैकअप प्लान बनाओ। सभी यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों ने कोटा के कोचिंग स्टूडेंट्स को निशुल्क करिअर गाइडेंस व काउंसलिंग दी।

Check Also

5 किमी सेलिब्रेशन रन के साथ रनिंग फेस्टिवल का समापन

रनिंग फेस्टिवल-2019 में जून में दौडने वाले 150 शहरवासियों को मेडल व पौधों से किया …

error: Content is protected !!