Wednesday, 27 March, 2019
Home / News / नीट काउंसलिंग में 1 दिन बाद ही संशोधित हुआ सीट आवंटन

नीट काउंसलिंग में 1 दिन बाद ही संशोधित हुआ सीट आवंटन

3 जुलाई तक आवंटित मेडिकल कॉलेजों में होगी रिपोर्टिंग

न्यूजवेव @ कोटा

मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (एमसीसी) द्वारा नीट-2018 की काउंसलिंग प्रक्रिया के प्रथम राउंड में रविवार को विभिन्न केटेगरी में सीटों की संख्या बढाते हुए सीट आवंटन का संशोधित रिजल्ट जारी किया गया है। उल्लेखनीय है कि इन दिनों नीट,2018 में क्वालिफाई 7,14,562 विद्यार्थी 15 प्रतिशत कोटा के सीट आवंटन पर नजरें टिकाए हुए हैं।

देश के प्रमुख गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस व बीडीएस सीटों पर प्रवेश के लिए एक दिन बाद ही संशोधित सूची जारी हो जाने से विद्यार्थी चकित रह गए।

मेडिकल काउंसलर पारिजात मिश्रा के अनुसार, प्रथम राउंड में सीट आवंटित होने पर अभ्यार्थियों को 3 जुलाई तक मेडिकल कॉलेज मंे रिपोर्टिंग करनी होगी। काउंसलिंग के दूसरे राउंड में 6 से 8 जुलाई तक पंजीयन, फीस एवं च्वाइस फिलिंग कर सकेंगे।

प्रथम राउंड के एमबीबीएस सीटों के संशोधित आवंटन को देखें तो देश के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेजों में सामान्य वर्ग के एआईआर-8281तक, ओबीसी वर्ग में एआईआर-8347, एससी वर्ग में रैंक-51,117, एसटी वर्ग में रैंक-70,612 तक एमबीबीएस सीटें आवंटित की गई है।

इसी तरह, 15 प्रतिशत बीडीएस की सीटों के लिए प्रथम राउंड में सामान्य वर्ग में एआईआर-13268, ओबीसी वर्ग मंे एआईआर-11,207, एससी वर्ग में रैंक-62,994, एसटी वर्ग में रैंक-87,795 तक सीट आवंटन किए गए हैं।

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के लिए बाहरी कोटा से रैंक-2613 तक एवं आंतरिक कोटा से रैंक-11,010 तक दाखिले दिए गए हैं।

आईएमएस, बीएचयू, वाराणसी में सामान्य वर्ग में एआईआर-507, ओबीसी में रैंक-951, एससी वर्ग में 11,342 तथा एसटी वर्ग में रैंक-24,700 पर एमबीबीएस सीटें आवंटित कर दी गईं।

इसी तरह, दिल्ली स्टेट इंटरनल कोटा की 85 प्रतिशत सीटों के लिए सामान्य वर्ग में एआईआर-4382 तक, ओबीसी में रैंक-13,513, एससी वर्ग में रैंक-51,280 तथा एसटी वर्ग में रैंक-1,21,221 तक सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की सीटें आवंटित की गई हैं।

काउंसलिंग में दो बडे़ बदलाव

एमसीसी ने वेबसाइट पर बताया कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा 09मई,2017 को दिए गए निर्णय के अनुसार, परीक्षार्थी इस वर्ष दो बातों का ध्यान रखें-

1,ऐसे विद्यार्थी जो ऑल इंडिया कोटा (15 प्रतिशत) सीट से एडमिशन ले चुके हैं, उन्हें नीट में दूसरे राउंड की काउंसलिंग के पश्चात् रिक्त सीटों के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी।
इसे ध्यान में रखते हुए चयनित विद्यार्थी दूसरे राउंड में भाग लें, क्योंकि उनके पास दूसरे राउंड से बाहर निकलने का कोई विकल्प नहीं रहेगा। याद रखें, ऑल इंडिया कोटा में दूसरे राउंड की काउंसलिंग के बाद वे अगले राउंड में भाग नहीं ले सकेंगे।

2. एमसीसी के निर्णयानुसार, अब तक 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा के लिए सीटों से 5 गुना परीक्षार्थियों को काउसंलिंग में बुलाया जाता था, इस वर्ष इस नियम को खत्म कर दिया गया है। अब न्यूनतम कटऑफ परसेंटाइल से क्वालिफाई हुए सभी परीक्षार्थी ऑल इंडिया कोटा (15 प्रतिशत) की ऑनलाइन काउंसलिंग में भाग ले सकते हैं।

Check Also

सीए फाइनल, फाउंडेशन व सीपीटी का रिजल्ट 20 जुलाई को

न्यूजवेव @ कोटा आईसीएआई द्वारा सीए फाइनल एग्जाम, फाउंडेशन एवं कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट (सीपीटी) का रिजल्ट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!