Sunday, 7 July, 2019
Home / Featured / इस वर्ष 2.45 लाख विद्यार्थी जेईई-एडवांस्ड के लिये क्वालिफाई

इस वर्ष 2.45 लाख विद्यार्थी जेईई-एडवांस्ड के लिये क्वालिफाई

जेईई-मेन,2019 रिजल्ट : एनटीए स्कोर से 31 एनआईटी, 24 ट्रिपल आईटी, 24 जीएफटीआई की 28000 से अधिक सीटों पर मिलेंगे एडमिशन

अरविंद

न्यूजवेव@कोटा
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने 7वीं इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन का रिजल्ट सोमवार रात घोषित कर दिया। ऑल इंडिया मेरिट सूची में दिल्ली के शुभम श्रीवास्तव एआईआर-1 के साथ टॉपर रहे, जबकि आंध्रप्रदेश की छात्रा कोंडा रेणु एआईआर-9 के साथ गर्ल्स टॉपर रही। पेपर-1 में देश के 24 विद्यार्थियों ने 100 परसेंटाइल प्राप्त किया। इनमें से सर्वाधिक 9 विद्यार्थी कोटा के कोचिंग संस्थानों से हैं।

इनमें एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के छात्र केविन मार्टिन रैंक-2, जयेश सिंगला रैंक-4, निशांत अभांगी रैंक-6, संबित बेहेरा रैंक-11, अंकित मिश्रा रैंक-13, कार्तिकेय चंद्रेश गुप्ता रैंक-18 व समीक्षा दास रैंक-20 पर सफल रहे। वहीं रेजोनेंस संस्थान के क्लासरूम छात्र शुभांकर गंभीर नेे रैंक-12, बंसल क्लासेस के छात्र प्रखर जगवानी नेे रैंक-15 पर सफलता दर्ज की।
इस वर्ष में जनवरी एवं अप्रैल में हुई परीक्षा के परसेंटाइल स्कोर को 7 डिजिट तक नॉर्मलाइज करके रैंक दी गई है। परीक्षा में शीर्ष स्कोर से चयनित 2.45 लाख विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड के लिये क्वालिफाई घोषित किया है।
जेईई-एडवांस्ड के लिये कटऑफ
जेईई एडवांस्ड की पात्रता के लिए विभिन्न श्रेणियों की कटऑफ परसेंटाइल जारी कर दी गई है। सर्वाधिक कटऑफ परसेंटाइल सामान्य वर्ग में 89.7548849 तथा न्यूनतम कटऑफ परसेंटाइल दिव्यांग श्रेणी के लिए 0.11371736 रही। याद दिला दें कि जेईई-मेन के जनवरी,2019 अटैम्प्ट में 9,29,198 विद्यार्थियों ने 8 से 12 जनवरी तक दो पालियों में पेपर-1 दिया था। इसके बाद 8 से 12 अप्रैल तक 9,35,741 विद्यार्थियों ने पेपर-1 दिया। कुल 6,08,440 विद्यार्थियों ने दोनों अटैम्प्ट में पेपर दिया। जिसमें 2,97,932 के स्कोर में सुधार होने से उन्हें अच्छी रैंक मिली।

केटेगरी             परसेंटाइल
सामान्य        –     89.7548849
सामान्य EWS-  78.2174869
ओबीसी       –     74.3166557
एससी          –    54.0125155
एसटी          –    44.3345172
पीडब्ल्यूडी  –    0.11371736

‘मानक आंसर की’ जारी हुई

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने जईई-मेन अप्रैल के पेपर-1 की आंसर की में कुल 5 प्रश्न रद्द किये जबकि 3 प्रश्नों के एक से अधिक विकल्प सही दिये गये। सर्वाधिक 3 प्रश्न केमिस्ट्री से, एक प्रश्न फिजिक्स से तथा एक सवाल मैथ्स से रद्द किया गया। 3 प्रश्नों में एक से अधिक विकल्प सही पाये गये। मानक आंसर की में रद्द प्रश्नों को कोड-5 से प्रदर्शित किया गया है। रद्द प्रश्नों में सभी विद्यार्थियों को एक समान अंक प्रदान किए गए हैं।

जेईई-मेन से 28000 सीटों पर दाखिला
देश के 31 NIT की 18,602 सीटें, 24 IIIT की 4023 सीटें एवं 24 GFTI में 4703 सीटें मिलाकर गत वर्ष 27,328 सीटें थी, जो इस वर्ष बढकर 28000 से अधिक हो गई हैं। जेईई-मेन के स्कोर से विभिन्न राज्यों के इंजीनियरिंग संस्थानों एवं प्राइवेट यूनिवर्सिटी में भी दाखिला मिलेगा। इस वर्ष का रिजल्ट प्राप्तांकों के आधार पर न होकर परसेंटाइल आधार पर है। पेपर-1 के स्कोर को नॉर्मलाइज करने के लिये उस अवसर में फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स तीनों विषयों के स्कोर तथा उस अटैम्प्ट में कुल स्कोर के आधार पर नॉर्मलाइज किया गया। इसके आधार पर ऑल इंडिया मेरिट लिस्ट जारी की गई है।

3 मई से जेईई-एडवांस्ड के लिये आवेदन

जेईई-मेन,2019 के शीर्ष 2.45 लाख सफल विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड,2019 के लिये क्वालिफाई किया गया है। जेईई-मेन,2018 से 2.31 लाख विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड के लिये क्वालिफाई घोषित किया गया था, जिसमें से 1.55 लाख परीक्षार्थियों ने ही परीक्षा दी थी। चयनित परीक्षार्थी 3 से 9 मई तक जेईई-एडवांस्ड के लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आईआईटी के लिये यह प्रमुख प्रवेश परीक्षा 27 मइ,201र्9 को होगी।

Check Also

तप से कटते हैं कर्मों के बंधन – आचार्य विभव सागर

न्यूजवेव@ कोटा परम पूज्य आचार्य 108 श्री विभव सागर महाराज ने कहा कि जिस तरह …

error: Content is protected !!