Sunday, 7 July, 2019
Home / देश / कोटा स्टोन के ट्रकों पर थोपा 124 करोड़ का जुर्माना

कोटा स्टोन के ट्रकों पर थोपा 124 करोड़ का जुर्माना

संकट : राजस्थान सरकार के एक आदेश से कोटा स्टोन उद्योग में फैला आक्रोश

न्यूजवेव @कोटा
रामगंजमण्डी से कोटा स्टोन का लदान करने वाले 671 ट्रक मालिकों पर परिवहन विभाग द्वारा 1 अरब 24 करोड़ का जुर्माना लगाने से परेशान कोटा स्टोन लोकल ट्रक यूनियन ने 12 मार्च मंगलवार से कोटा स्टोन का लदान पूर्णतया ठप रखने का निर्णय किया है। इस मामले में कोटा स्टोन स्माल स्केल इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन ने बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी है। ओवरलोडिंग जुर्माना राशि से आहत कई ट्रक मालिकों ने 11 मार्च से वाहन नहीं चलाए।

रामगंजमंडी में कोटा स्टोन की करीब 70 से अधिक खदानें हैं। इसके अलावा झालावाड़ जिले की लाइम स्टोन खदानों से रामगंजमंडी क्षेत्र के ट्रक मालिक पत्थर का लदान करते हैं। 1 जनवरी 18 से लागू ई- रवन्ना व्यवस्था से ऑनलाइन रिकॉर्ड के आधार पर एक अप्रेल 2018 से 31 दिसम्बर 2018 तक ओवरलोड निकले ट्रकों पर प्रतिदिन टन के हिसाब से जुर्माना राशि आरोपित करके जुर्माना लगाया गया है। तहसील क्षेत्र में ओवरलोडिंग में ऐसे 671 ट्रक पंजीकृत हुए जिन पर 1 अरब 24 करोड़ रुपए शास्ति आरोपित की गई। नोटिस में 21 जनवरी से पहले राज्य सरकार द्वारा निकाली गई छूट का लाभ निकालने का संदेश दिया।

आरटीओ ने यह बताया फार्मूला

मोटी जुर्माना राशि देखकर ट्रक मालिक जिला परिवहन अधिकारी महावीर प्रसाद पंचोली से मिले। पंचोली ने बताया कि जिन ट्रक मालिकों पर एक लाख व उससे अधिक राशि आरोपित है वे प्रतिमाह 9 हजार रुपए की राशि के हिसाब से ओवरलोडिंग राशि जमा करवाकर सरकार की योजना का लाभ उठा सकते हैं। ऐसे ट्रक मालिक जिन पर 9 हजार से कम राशि है उनको आरोपित जुर्माना राशि जमा करानी पड़ेगी। जुर्माना राशि 21 मार्च तक जमा होगी। इसके बाद ट्रक मालिकों का पंजीयन लॉक कर दिया जाएगा और राशि में छूट नहीं मिलेगी।

दो लाख की लागत पर 81 हजार जुर्माना

कोटा स्टोन लोकल ट्रक यूनियन अध्यक्ष कमल पारेता ने बताया कि लाइम स्टोन का पत्थर लदान कार्य करने वाले इन पुराने ट्रकों की कुल कीमत दो से तीन लाख रुपए है। ट्रक मालिक जैसे-तैसे इन वाहनों को चलाकर अपने परिवार को पाल रहे हैं। ऐसे ट्रक मालिक 9 माह की पेनेल्टी राशि के रूप में 81 हजार रुपए कैसे जमा कराएंगे। उन्होंने कहा कि मंगलवार 12 मार्च को ट्रक मालिकों की बैठक होगी। जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा होगी।

जुर्माना सरासर अन्याय है
ट्रक मालिकों पर ओवरलोडिंग के नाम पर इतना जुमाना लगाने का सरकार का निर्णय अन्याय है। इसके खिलाफ रामगंजमंडी व कोटा एसोसिएशन आने वाले दिनों में बड़ा आंदोलन करेगा। – जगदीश सिंह शक्तावत, अध्यक्ष कोटा स्टोन स्माल स्केल इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन

Check Also

देश के टॉप-5 स्टार्टअप में राजस्थान से मेडकॉर्ड्स को अवार्ड

‘स्टार्टअप इंडिया-वाट्सअप चैलेंज’स्पर्धा में शीर्ष 5 स्टार्टअप को 1.74 करो़ड़ रूपये की वित्तीय मदद, प्रत्येक …

error: Content is protected !!