Saturday, 7 December, 2019
Home / एडिटर्स चॉइस / नई उर्जा से जम्मू-कश्मीर को जन्नत बनाएंगे – नरेंद्र मोदी

नई उर्जा से जम्मू-कश्मीर को जन्नत बनाएंगे – नरेंद्र मोदी

खास बातें-

– तीन दशकों में जम्मू-कश्मीर में 42 हजार निर्दोषोें ने जान गंवाई।
– अनुच्छेद 370 व 35 ए हटने से गुड गवर्नेंस के जरिये विकास की गंगा बहेगी
– टूरिज्म, फिल्म शूटिंग, एडवेंचर, टेक्नोलॉजी, हर्बल मेडिसीन व स्पोर्ट्स में नये अवसर
– जम्मू-कश्मीर व लद्दाख के लोगों के लिये शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार की योजनाएं

न्यूजवेव नईदिल्ली
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुरूवार को देश के नाम संदेश में कहा कि हम सब एक साथ उठें और 130 करोड़ भारतीयों के सपनों को पूरा करते हुये जम्मू-कश्मीर को जन्नत बनाने में जुट जायें। अब जम्मू-कश्मीर व लद्दाख की डेढ़ करोड़ जनता को देश की मुख्यधारा से जोडने का वक्त आ गया है।
उन्होने कहा कि जम्मू-कश्मीर पर ऐतिहासिक विधेयक पारित होना संसदीय लोकतंत्र के लिए महत्वपूर्ण है। कई दशकों तक चंद स्वार्थी तत्वों ने कश्मीर की जनता के अधिकारो की चिंता नहीं की। दुर्भाग्य से पिछले तीन दशकों में 42000 निर्दोष लोगों को हिंसा के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी। उन्हें देश के अन्य राज्यों की तरह अपना हक नहीं मिला। ऐसे हालात में मैं जम्मू कश्मीर के निवासियो के साहस और जज्बे को सलाम करता हूं।
प्रधानमंत्री ने स्थानीय नागरिकों का आव्हान किया कि हम अलगाववाद को परास्त करें और जम्मू-कश्मीर व लद्दाख एक नई सुबह, एक बेहतर कल के लिए तैयार हो जायें। नई पीढी व नौजवान विकास का ख्वाब देखें और उसे पूरा करने में जुट जायें। शांति व सद्भाव के साथ शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार के नये द्वार खोलें। केंद्र सरकार हर कदम पर जम्मू-कश्मीर की जनता के साथ रहेगी।
जम्मू-कश्मीर में केसर, कहवा, सेब, खूबानी की खुशबू महकेगी
प्रधानमंत्री ने अपने चिर-परिचित अंदाज में कहा कि कश्मीर भारत का मुकुट है। इसकी रक्षा के लिये हमारे कई वीर शहीद हुये हैं। इसे हम सब मिलकर फिर से स्वर्ग बनाने की कोशिश करेंगे। यहां की केसर, कहवा,सेब, खूबानी दुनियाभर में लोकप्रिय है, हम इसके निर्यात से यहां के लोगों की आय बढ़ायेंगे। प्रधानमंत्री ने कश्मीर वासियों को चहुमुंखी विकास का भरोसा दिलाया-
– जम्मू-कश्मीर में दुनिया में सबसे बडा टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनेगा – फिर से होगी हॉलीवुड एवं बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग
– युवाओं के लिये स्पोर्ट्स एकेडमी व स्टेडियम तैयार होंगे, जिससे वे खेल के मैदान में अपना टेलेंट दिखायेंगे।
– ब्लॉक डवलपमेंट काउंसलिंग का गठन करके पादर्शिता से लोकतंत्र को मजबूत बनायेंगे।
– प्रत्येक पंचायत में निर्वाचित प्रतिनिधी अपने क्षेत्र में विकास की कमान संभालेंगे।
– जल्द ही विधानसभा चुनाव होंगे, जिसमें युवाओं को नेतृत्व करने का अवसर मिलेगा।
– प्रत्येक जिले में अस्पताल, शिक्षा संस्थान व अन्य स्किल डवलपमेंट सेंटर खोले जाएंगे।

लद्दाख में हर्बल मेडिसीन का भंडार है
प्रधानमंत्री मोदी ने लद्दाख की भौगोलिक रचना के कारण हर्बल औषधियों के लिये प्राकृतिक पौधों की समृद्ध सम्पदा है। इस भूमि में ‘सोलो’ पौधा बर्फीली क्षेत्रों में काम करने वालों के लिये संजीवनी है। यह कम ऑक्सीजन वाले पर्वतीय क्षेत्रों में शरीर को नई उर्जा देता है। ऐसे अनगिनत दुर्लभ हर्बल पौधे यहां मिलेंगे। इसे फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाकर दुनिया में निर्यात कर सकते हैं, जिससे किसानों की आय बढे़गी। लद्दाख में एडवेंचर व इको टूरिज्म को विकसित करने के लिये अथाह संभावनायें हैं। अब नये केंद्र शासित प्रदेश के रूप में यहां केंद्र सरकार अन्य राज्यों की तरह हर वर्ग के विकास के लिये नई योजनाएं लागू करेंगी।

Check Also

लोकसभा अध्यक्ष ने आपदा राहत के लिये उच्चस्तरीय बैठक ली

कोटा सहित राजस्थान में वर्षा के कारण ध्वस्त मकानों व फसलों के लिये सहायता राशि …

error: Content is protected !!