Friday, 24 May, 2019
Home / हैल्थ / कोटा में 5 हजार पुलिसकर्मियों ने कराया हैल्थ चेकअप

कोटा में 5 हजार पुलिसकर्मियों ने कराया हैल्थ चेकअप

हैप्पीनेस इनीशिएटिव, रामदुलारी जिंदल मैमोरियल एंड हैल्थ केअर सोसायटी व पुलिस प्रशासन के निःशुल्क 10 दिवसीय मेगा हैल्थ चेकअप कैम्प का समापन

न्यूजवेव @कोटा
एसपी कोटा सिटी दीपक भार्गव एवं एसपी कोटा ग्रामीण राजन दुष्यंत ने बुधवार को पुलिस लाइन परिसर में चल रहे 10 दिवसीय निःशुल्क मेगा स्वास्थ्य जांच शिविर का समापन किया। दोनों पुलिस अधीक्षक व एएसपी हर्ष रत्नू ने अपनी सम्पूर्ण स्वास्थ्य जांच करवाकर डिजीटल हैल्थ कुंडली बनवाई।

पुलिस अधीक्षक शहर दीपक भार्गव ने कहा कि पुलिसकर्मी कानूनी सीमाओं में रहते हुये रात-दिन कठिन परिस्थितियों में भी अपने दायित्व निर्वहन को प्राथमिकता देते हैं। इमरजेंसी सेवाएं होने से कई बार वे शारीरिक व मानसिक दबाव भी झेलते हैं। कार्य के अधिक घंटे और पर्याप्त नींद नहीं लेने से उन्हें शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। तमाम परेशानियों से जूझते हुये वे स्वास्थ्य जाच करवान में पीछे रह जाते हैं। कुछ जवान बीमारियों से पीडित होकर भी ड्यूटी देते हैं। पुलिसकर्मियों की इन समस्याओं को ध्यान में रखते हुये कोटा में पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में 10 दिवसीय निःशुुल्क मेगा हैल्थ चेकअप कैम्प आयोजित किया, जिसमें कोटा शहर व ग्रामीण पुलिस, सीआईडी, आरएसी, महिला व यातायात पुलिस के 3856 जवानों व परिजनों की सम्पूर्ण स्वास्थ्य जांच की गई। इससे पहले नवंबर माह में 1200 जवानों की जांच हो चुकी है। सभी 5 हजार परिवारों का हैल्थ डेटा आजीवन सुरक्षित रहेगा।

फील्ड के लिय सही मेनपावर मिलेगी

एसपी ग्रामीण राजन दुष्यंत ने कहा कि शिविर से पुलिसकर्मियों में स्वास्थ्य जांच के प्रति जागरूकता बढ़ी है। ‘सेहत की बात’ में विशेषज्ञों ने उन्हें सही दिनचर्या व आहार-विहार संतुलित रखने की सलाह दी। पुलिस विभाग को पुलिसकर्मियों के नियोजन, नियुक्ति व फील्ड की कठिन परिस्थितियों से निबटने के लिये शारीरिक व मानसिक रूप से दक्ष जवानों की उपलब्धता मिल सकेगी।

हैप्पीनेस इनीशिएटिव टीम के प्रेरक व संरक्षक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि इस निःशुल्क मेगा जांच शिविर में रामदुलारी जिंदल मैमोरियल एंड हैल्थ केअर सोसायटी, मेडकॉर्ड्स, कोटा हार्ट हॉस्पिटल के सीईओ दीपक कुलश्रेष्ठ, हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. कार्तिक जायसवाल, श्रीजी हॉस्पिटल की डॉ. अनुराधा अग्रवाल, डॉ. दिव्या चौधरी व महावीर ईएनटी हॉस्पिटल के विशेषज्ञ सहित हैप्पीनेस सिटी टीम के सदस्यों ने 10 दिन तक निःस्वार्थ सहयोग दिया।
इस शिविर से प्रभावित राज्य के अतिरिक्त डीजीपी भूपेंद्र ढक ने हैप्पीनेस सिटी इनीशिटिव टीम को अगले सप्ताह बातचीत के लिये जयपुर बुलाया है। जिससे अन्य जिलांे में तैनात पुलिसकर्मियों के लिये भी ऐसे मेगा जांच शिविर आयोजित किये जा सकें। एसपी दीपक भार्गव ने आधुनिक मशीनों से 5 हजार पुलिसकर्मियों व परिजनों की निःशुल्क स्वस्थ्य जांच करने के लिये हैप्पीनेस सिटी इनीशिएटिव, रामदुलारी जिंदल मैमोरियल एंड हैल्थ केअर सोसायटी व मेडकॉडर््स सहित सभी विशेषज्ञों का आभार जताया।

यातायात पुलिसकर्मियों की स्पाइरोमेट्री से विशेष जांच


मेगा जांच शिविर में शहर के मुख्य मार्गों पर शोरगुल व प्रदूषित वातावरण में ड्यूटी करने वाले यातायात पुलिसकर्मियों की स्पाइरोमेटीª मशीन से विशेष जांच की गई। महावीर ईएनटी हॉस्पिटल के निदेशक व सर्जन डॉ. विनीत जैन ने बताया कि कानों की जांच के लिये एंट्राव्यू डिवाइस से कान की कैनाल व पर्दे की जांच की गई। कोटा हियरिंग सेंटर द्वारा साउंड प्रूफ कमरे में ऑडियोमेट्री जांच के लिये निशुल्क कूपन दिये गये।

हैल्थ कुंडली से जुडे़ 5 हजार पुलिसकर्मी

मेडकॉर्ड्स के सीईओ श्रेयांस मेहता ने बताया कि सभी पुलिसकर्मियों व परिजनों की जांच रिपोर्ट को एप से जोड़ दिया जायेगा, जिससे डिजिटल हैल्थ कुंडली के रूप में आधुनिक सुविधाएं मिलने लगेगी। पुलिसकर्मी धर्मराज, योगेंद्र सिंह, सुनील सोनी, सत्यनारायण व गणेशराम ने कहा कि इस शिविर में पहली बार ईसीजी व सभी स्वास्थ्य जांच होने से सुकून मिला। पहले हमें ड्यूटी से समय नहीं मिलता था, जिससे समय पर चेकअप नहीं कराते थे।

Check Also

कोटा रनिंग फेस्टिवल-2019 में 200 से अधिक महिलाएं दौडेंगी

देश-विदेश के प्रतिभागी जून माह में 100 किमी से अधिक दौडेंगे, ऑनलाइन पंजीयन 10 मई …

error: Content is protected !!