Wednesday, 27 March, 2019
Home / Featured / कोटा में 1.05 लाख युवाशक्ति ने बनाया योग का विश्व रिकॉर्ड

कोटा में 1.05 लाख युवाशक्ति ने बनाया योग का विश्व रिकॉर्ड

अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस :

  • राज्य सरकार व स्वामी रामदेव के सान्निध्य में हुआ एतिहासिक योग महासंगम
  •  गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम ने दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेट
  • योग शिविर स्थल पर बार कोड से दर्ज हुई 1.05 लाख उपस्थिति

न्यूजवेव @ कोटा

चौथे अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस पर राजस्थान में कोटा शहर में 1.05 लाख विद्यार्थियों, युवाओं एवं नागरिकों ने एक ही स्थान पर 30 मिनट तक सामूहिक योगाभ्यास कर नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। मुख्य समारोह में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, लंदन की प्रतिनिधी रैबेका ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे एवं स्वामी रामदेव को वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेट प्रदान किया। उन्होने बताया कि इससे पहले 2017 में मैसूर में 55,506 लोगों ने योग का रिकॉर्ड बनाया था, जो आज कोटा में टूटा है।

खचाखच भरे आरएसी ग्राउंड में मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि राज्य में सभी जिला मुख्यालयों पर ‘योग पार्क’ बनाए जाएंगे, जहां आचार्य नागरिकों को योगाभ्यास करवा सकेंगे। उन्होंने कहा कि योग के इस कीर्तिमान से दुनिया में देश और राज्य का गौरव बढ़ा है। इस मौके पर चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ, चिकित्सा राज्यमंत्री बंषीधर खंडेला, सांसद दुष्यंत सिंह, ओम बिड़ला, राज्य हज कमेटी के चेयरमैन अमीन पठान, पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण, विधायकगण एवं अन्य जनप्रतिनिधिगण, मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, डीआईजी ओपी गल्होत्रा, एलन के निदेशक गोविंद माहेश्वरी, बृजेश माहेश्वरी एवं रेजोनेंस के निदेशक आरके वर्मा सहित 50 विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधी मौजूद रहे।

गिनीज बुक के भारतीय प्रतिनिधी स्वप्निल ने बताया कि शिविर स्थल पर प्रातः 5 बजे से 7 बजे तक 10 प्रवेश द्वार पर बार कोड से 1.05 लाख संख्या दर्ज की गई, इसके बाद आने वाले नागरिकों की संख्या को बाद में जोड़ दिया जाएगा। यह संख्या बढ़कर 2 लाख से अधिक हो सकती है।

स्वामी रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल से आज दुनिया के 177 देशों में योग दिवस मनाया गया। सही नीति और नीयत से राजस्थान भी आगे बढ़ रहा है। राज्य के प्रत्येक जिले में मंत्रियों ने योग शिविरों में भाग लेकर जागरूकता पैदा की। शिविर के अंत में ‘जमीं सलाम करे, आसमां सलाम करे, करो वो काम, जिसे सारा जहां सलाम करे..’ योग गीत पर पतंजलि गुरूकुल के विद्यार्थियों ने हैरतअंगेज योग मुद्राओं से सबका दिल जीता।

2 लाख ने किया योग, 100 कीर्तिमान बनाए 


तीन दिवसीय योग महोत्सव में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने से कोटा को योग नगरी में रूप में पहचान मिली। योग दिवस पर 2 लाख से अधिक लोगों ने सामूहिक योग किया। इस महोत्सव में गिनीज बुक के अलावा गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी 100 से अधिक रिकॉर्ड बनाए गए।
स्वामी रामदेव ने करीेब 2 लाख जनसमूह को विभिन्न यौगिक क्रियाएं, योगासन और प्राणायाम कराए। उन्होंने कहा कि नियमित योग करने से शरीर में नई उर्जा  व खुशियों का संचार होता रहेगा। मानसिक शांति के लिए सहज योग को अपनाएं। स्वस्थ व शांत मन आपको आनंद की अनुभूति कराएगा। कोटा में तीन दिवसीय प्रवास में स्वामी रामदेव हजारों कोचिंग विद्यार्थियों से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि योग में विश्व रिकॉर्ड बनाकर कोटा शहर ने नया इतिहास रच दिया है। यहां के विद्यार्थियों में सभी प्रांतों की संस्कृति देखने को मिलती है।

विद्यार्थियों को योग से मिली नई उर्जा

कोटा में विभिन्न राज्यों के हजारों कोचिंग विद्यार्थियों ने जैसे ही सामूहिक योग प्रारंभ किया तो शिविर स्थल पर चारों ओर उत्साह की हिलौरें उठने लगी। उन्हें तनावमुक्त पढाई करने के लिए विशेष योगासन व प्राणायाम बताए गए। विद्यार्थियों ने कहा कि वे स्ट्रेस से बचने के लिए नियमित योग करेंगे। इससे मन और मस्तिष्क को बहुत शांति मिली। शिविर के अंत में हजारों छाते हवा में लहराकर उन्होनेे खुशियां जाहिर की।

सरकार व जिला प्रशासन का आभार 

स्वामी रामदेव ने इस ऐतिहासिक आयोजन को सफल बनाने के लिए राज्य सरकार, शासन सचिव, डीजीपी, कमिश्नर केसी वर्मा, आईजी विशाल बंसल, कलक्टर गौरव गोयल, एसपी अंशुमान भौमिया सहित 50 से अधिक संस्थाओं, रेजोनेंस, एलन व अन्य कोचिंग संस्थानों एवं शहरवासियों का आभार जताया।

Check Also

स्टार्टअप का रक्षा कवच है बौद्धिक संपदा अधिकार-डॉ.दवे

इंटेलेक्चुअल प्रोपर्टी राइट पर सेमिनार में पेटेंट व कॉपीराइट् पर दी उपयोगी जानकारी न्यूजवेव @ कोटा …

One comment

  1. बहुत बढ़िया खबर कोटा में हुई सराहनीय पहल Antar Rashtriya योग दिवस पर विश्व कीर्तिमान बनाने में योगदान करने वाले सभी महानुभावों को साधुवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!