Tuesday, 28 September, 2021

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला टोक्यो में अप्रवासी भारतीयों से मिले

G-20 देशों के संसद अध्यक्षों का जापान में सम्मेलन

न्यूजवेव @ कैंप टोक्यो
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने G-20 देशों की संसदों के अध्यक्षों के सम्मेलन में भाग लेने के लिए जापान यात्रा के दौरान प्रवासी भारतीयों से मुलाकात की और उन्हें भारतीय अर्थव्यवस्था के सढृढीकरण के लिए लिए जा रहे कदमों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि विश्वव्यापी आर्थिक मंदी से निबटने के लिए भारत सरकार हर तरह से तैयार है। कॉर्पोरेट टैक्स में कमी का जिक्र करते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि इससे आर्थिक परिप्रेक्ष में महत्वपूर्ण परिवर्तन आएगा। उन्होंने कहा कि विश्व बैंक के ईज़ ऑफ डूइंग बिजनेस में भी भारत की रैंक काफी सुधरी है।


भारत में और निवेश करने का आह्वान करते हुए बिरला ने कहा कि भारत सरकार का लक्ष्य देश की अर्थव्यवस्था को पाँच ट्रिलियन तक ले जाने का है। उन्होने इस बात का उल्लेख भी किया कि भारत में विगत कुछ वर्षों में आर्थिक सुधार किये गए हैं और भारत सरकार की हाल की कुछ नीतियों के अंतर्गत अब भारत में व्यापारियों को पहले से ज्यादा सुविधाएं प्राप्त है। केंद्र सरकार का प्रयास है कि देश में आर्थिक गतिविधियों की बढ़ोतरी हो जिससे जनमानस की आर्थिक दशा को सुधारा जा सके। उन्होंने यह भी कहा कि भारत वसुधैव कुटुंबकम की परम्परा के अनुसार अपनी आर्थिक प्रगति के साथ ही विश्व कल्याण के सपने को भी साकार करना चाहता है।
बिरला ने व्यापारियों को विश्वास दिलाया कि भारत सरकार और भारतीय संसद उनकी समस्याओं के प्रति संवेदनशील है और उनके मुख्य सरोकारों की ओर ध्यान देते हुए यह सुनिश्चित करेगी कि व्यापार में आने वाली बाधाओं को दूर करे।

उन्होंने टोक्यो में ज्वेलर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी राजेन्द्र जैन के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाक़ात की। व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल ने भारत में और निवेश करने का संकल्प किया। मुलाक़ात के दौरान भारत-जापान के प्रगाढ़ सम्बन्धों तथा दोनों देशों के बीच हुए व्यापारिक और सांस्कृतिक समझौतों का जिक्र किया गया। लोकसभा अध्यक्ष भारतीय राजदूत संजय कुमार वर्मा द्वारा आयोजित रात्रिभोज में शामिल हुए।

(Visited 91 times, 1 visits today)

Check Also

2.50 लाख विद्यार्थी 3 अक्टूबर को देंगे जेईई-एडवांस्ड परीक्षा

न्यूजवेव @ नईदिल्ली /कोटा इस वर्ष देश की 23 आईआईटी की लगभग 16,500 सीटों के …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: