Tuesday, 19 January, 2021

आरटीयू में पांच दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ

न्यूजवेव @ कोटा
राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग में अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद द्वारा प्रायोजित ऑपरेशंस मैनेजमेंट विषय पर पांच दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ 23 नवम्बर को हुआ। उद्घाटन राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय कुलपति प्रोफेसर आर ए गुप्ता ने किया। कार्यक्रम समन्वयक प्रो. रोहिताश्व श्रंगी ने सभी महानुभावों का स्वागत करते हुए बताया कि इस कोर्स में देश के नामी- गिरामी संस्थानों से जानेमाने प्रोफेसर व्याख्यान देंगे। जिनमें प्रमुख आईआईटी दिल्ली से प्रोफेसर एसपी सिंह, आईआईटी बॉम्बे के भूतपूर्व प्रोफेसर एवं वर्तमान में SOA यूनिवर्सिटी उड़ीसा के वाइस चांसलर प्रोफेसर आरपी मोहंती, आईआईएम तिरुचिरापल्ली के प्रोफेसर एयोन चक्रवर्ती विशेष रुप से व्याख्यान देंगे।

प्रोफेसर श्रंगी ने बताया कि इनके अलावा उद्योग जगत के उच्चतम अधिकारी जैसे थर्मो फिशर के विवेक सरभाई, संजय अंबरदार, सीएफसीएल के अजय तायल, श्रीराम रेयंस के अमित कटारा भी अपना व्याख्यान देंगे। इसके अलावा ईस्ट कोस्ट रेलवे के ज्वाइंट सेक्रेट्री सुधांशु गुप्ता प्रतिभागियों को स्ट्रेस मैनेजमेंट एवं मेडिटेशन पर व्याख्यान देंगे। प्रोफेसर श्रृंगी ने बताया कि कार्यक्रम में देश के कोने कोने से विभिन्न शैक्षणिक एवं औद्योगिक संस्थानों से 200 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं।
उद्धाटन भाषण में कुलपति प्रोफ़ेसर आर ए गुप्ता ने बताया कि राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय तकनीकी शिक्षा में दिनोंदिन नए आयाम स्थापित कर रहा है। अपने प्रतिवेदन में प्रोफ़ेसर गुप्ता ने बताया कि राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय शीघ्र ही अपना दसवां दीक्षांत समारोह आयोजित करने जा रहा है जिसमें 24000 से ज्यादा डिग्रियां वितरित की जाएंगी। राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय ने निर्णय लिया है कि कोविड-19 को देखते हुए प्रथम वर्ष बीटेक के छात्रों के लिए पाठ्यक्रम में 30% की कमी की जाएगी। अब बीएससी और वोकेशनल डिप्लोमा कोर्स कर रहे छात्र भी सीधे द्वितीय वर्ष बीटेक में एडमिशन ले सकेंगे।

चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम लागू
प्रोसेसर गुप्ता ने बताया कि अब आरटीयू कोटा के एमटेक, एमबीए एवं एमसीए पाठ्यक्रमों में भी चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम लागू कर दिया गया है। प्रोफ़ेसर गुप्ता ने बताया कि राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय कोटा ने हाल ही में एक ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म विकसित किया है जिसके माध्यम से 63 कॉलेज के करीबन 55000 छात्र-छात्राएं ऑनलाइन शिक्षण सामग्री का लाभ उठा सकेंगे। यह शिक्षण सामग्री आरटीयू कोटा के चुने हुए प्रोफेसर द्वारा तैयार की गई है। आरटीयू कोटा के 1 छात्र एवं 1 छात्रा का रिपब्लिक डे परेड में हाल ही में चयन हुआ है जो इस बात का सूचक है कि कोविड-19 जैसे हालात में भी यहां के छात्र उत्तरोत्तर प्रगति कर रहे हैं।
डीन फैकल्टी अफेयर प्रोफेसर अनिल के माथुर ने सभी का स्वागत किया एवं कार्यक्रम की वृहद रूपरेखा की जानकारी दी। कार्यक्रम में फैकल्टी प्रोफेसर धीरेंद्र माथुर, प्रोफेसर संजीव मिश्रा, प्रोफेसर रंजन माहेश्वरी, प्रोफेसर एसके राठौर, प्रोफेसर मनीष चतुर्वेदी, प्रोफेसर गीतेश विजय, प्रोफेसर आशुतोष कुमार, प्रोफेसर संदीप शारदा भी उपस्थित थे।
प्रारंभिक व्याख्यान में आईआईटी दिल्ली के प्रोफेसर एसपी सिंह ने दो सत्रों के माध्यम से सप्लाई चैन के बारे में विस्तार से चर्चा की एवं सप्लाई चैन डिजाइन करने में सहायक सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी दी। दोपहर के सत्र में थर्मो फिशर के डायरेक्टर विवेक सरभाई ने कॉर्पोरेट में सप्लाई चैन विकसित करने में लिए जा रहे हैं उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। अंत में धन्यवाद देते हुए प्रोफेसर संजीव मिश्रा ने बताया कि ऐसे कार्यक्रम से शिक्षकों का उत्तरोत्तर विकास होगा एवं उन्हें शोध के नए विषयों के बारे में जानकारी मिलेगी।

(Visited 70 times, 1 visits today)

Check Also

JEE-Main की तैयारी के लिए अब अमेजन अकादमी शुरू

*देशभर के स्टूडेंट्स को मिलेगा फ्री कंटेंट व स्टडी मेटेरियल* न्यूजवेव @ नई दिल्ली अमेजन …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: