Friday, 23 February, 2024

सबके राम: मुस्लिम भी कर रहे हैं उत्सव की तैयारी

राम मंदिर : 22 जनवरी को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा
न्यूजवेव @जयपुर

राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए अयोध्या सजधज कर तैयार है। देश की आम जनता में दीवाली जैसा उत्सवी उल्लास है। दुनिया के सभी देशों में रहने वाले भारतीय परिवारों में 22 जनवरी के उत्सव की तैयारियां चल रही हैं।
भले ही राममंदिर आयोजन को लेकर कुछ राजनीतिक दल विरोधाभास पैदा कर रहे हैं। पर इस सबके बीच जो तैयारियां चल रही हैं उनसे झलक रहा है कि राम सबके हैं। देश के विभिन्न राज्यों से मिल रही सूचनाओ से एक सुखद अनुभूति यह कि सामान्य मुसलमान भी इस आयोजन से किसी न किसी तरह से जुड़ रहे हैं। कई बड़े शहरों की मुस्लिम बस्तियों में तो उत्सव भी मनाया जाएगा। आगरा, जयपुर, जोधपुर, लखनऊ, अहमदाबाद सहित हर शहर कस्बे में ऐसा वातावरण दिखाई देगा। चुनींदा लोगों को छोडकर मुस्लिम समाज में उदार लोग इस आयोजन से खुद को जोड़कर गर्व महसूस कर रहे हैं।


राम मंदिर के लिए पादुकाएं बनाने में मुस्लिम कारीगर का योगदान, एक मुसलमान लड़की का अयोध्या में आयोजन के लिए रवाना होना, राजस्थान के गंगापुर सिटी में मोलवी का अक्षत आमंत्रण पर हर्षित होना एक अलग संकेत दे रहे हैं। यह हिंदू मुस्लिम मुद्दा न होकर कट्टरता और उदारता का विषय है।
राजस्थान के जोधपुर के निकट सांगासनी के यहां मोयलों की ढाणी है। यहां मुस्लिम कारीगर 22 जनवरी के आयोजन के लिए दीपक बना रहे हैं। ढाणी के करीब सभी मुस्लिम परिवार उत्साहित हैं। उत्तरप्रदेश के आगरा में अल्पसंख्यक आयोग ने 5 हजार मुस्लिम परिवारों में दीपक वितरित किए हैं। हर घर में प्राणप्रतिष्ठा की खुशी में दीपक जलेंगे। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा 36 दरगाह और मस्जिदों में दीपक जलाने के अभियान में लगा है। राष्ट्रवादी मुस्लिम मंच के सदस्य इसे राष्ट्र का आयोजन बनाने के लिए मुस्लिम बस्तियों में सम्पर्क कर रहे हैं। देशभर से मंच के तत्वावधान में मुस्लिम समाज के लोग अयोध्या आ रहे हैं। वाराणसी में तो मुस्लिम छात्राओं नेे हिंदू छात्राओं के साथ मिलकर 5 फीट का दीपक बनाया है। इसमें 2 क्विंटल घी आ सकता है। हिमाचल प्रदेश के मंडी में तो हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई मिलकर एक आयोजन कर रहे हैं। यही समरसता देशभर में देखी जा रही है।
प्राण प्रतिष्ठा समारोह में ‘सजा दो घर को गुलशन सा‘
ऽ उरी बारामुला जम्मू कश्मीर के रहने वाली बतूल जहरा ने पहाड़ी भाषा में राम आएंगे भजन गाया जो इन दिनों वायरल हो रहा है। वायरल होने के बाद बतूल जाहरा ने एक और वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने बताया की वह चाहती है कि जम्मू कश्मीर के लोगों का भी राम मंदिर में योगदान हो।
इन्हीं दिनों रतलाम की एक जेल का वीडियो भी आया जिसमें मुबारक खान अन्य कैदियो के साथ ‘सजा दो घर को गुलशन सा‘ भजन गाते और रामभक्ति में झूमते नजर आए।
एक और वीडियो में लखमीपुर की छात्रा इमान अंसारी ने ‘मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे‘ यह भजन गाया, जो वायरल हो रहा है
ऽ इस इस तरह के कोई ना कोई समाचार प्रतिदिन सामने आ रहे हैं जिसमें मुस्लिम समाज बढ़कर प्रत्यक्ष प्रमुख रूप से राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में अपना योगदान सुनिश्चित कर रहा है।
जम्मू कश्मीर के नूर आलम ने श्री राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में भोजन बनाने के लिए सहर्ष अपनी जमीन ट्रस्ट को दी। उनका कहना है कि यहां श्री राम के मेहमान आएंगे और यह उनके लिए बड़ी बात है।
वाराणसी में मुस्लिम महिला फाऊंडेशन चलने वाली नाजनीन व उनके साथी नजमा ने श्री राम मंदिर से ज्योति वाराणसी ले जाकर हिंदू मुस्लिम परिवारों में राम ज्योति ले जाने का निर्णय लिया। नजमा ने कहा कि भगवान राम कण -कण में बसे हैं हम सभी जानते हैं कि हम अपना धर्म बदल सकते हैं लेकिन हमारे पूर्वज नहीं बदल सकते।
श्री राम मंदिर निर्माण के लिए मकराना के व्यवसाय मोहम्मद रमजान ने मार्बल की आपूर्ति की है। उन्होंने बताया कि वह खुद को इस बात के लिए सौभाग्यशाली समझते है। इन्हीं की कंपनी के मुख्य शिल्पकार वह कई वर्षों से राम मंदिर से नक्काशी के काम में जुड़े हैं और उन्हेंइस बात की खुशी है।
निधि समर्पण अभियान के दौरान काशी के 22 मुस्लिम परिवारों ने भी अपना योगदान दिया। इनमें एक लॉ की छात्रा अनवर खान भी है जिन्होंने 21000 की राशि निधि समर्पण के लिए दी थी और अपने हाथ पर राम नाम भी लिखवाया।
मुस्लिम समाज में राम मंदिर को लेकर अद्भुत उत्साह है। राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर मुस्लिम समाज ने कई स्थानों एवं मस्जिदों में सफाई अभियान चलाया। 22 जनवरी तक अलग अलग दरगाहों और मस्जिदों पर सफाई अभियान चलाया जाएगा।

(Visited 78 times, 1 visits today)

Check Also

राजस्थानी मसाले औषधि गुणों से भरपूर, एक्सपोर्ट बढाने का अवसर – नागर

RAS रीजनल बिजनेस मीट-2024 : मसाला उद्योग से जुड़े कारोबारियो ने किया मंथन, सरकार को …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: