Saturday, 6 June, 2020

सम्पूर्ण लॉक डाउन में श्रमिकों का पलायन रोकें -बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ने उद्योगों व अन्य नियोक्ता संस्थानों से किया आव्हान, कोटा-बूंदी के तीनों एनएच पर निःशुल्क भोजन व्यवस्था प्रारंभ
न्यूजवेव @कोटा
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि कोरोना को हराने के लिये सम्पूर्ण लॉक डाउन तभी संभव है जब हम श्रमिकों व मजदूरों का पलायन रोकें। श्रमिकों के नियोक्ता, फैक्ट्री मालिक व ठेकेदारों की यह नैतिक जिम्मेदारी है कि ऐसे प्रकोप के समय पलायन अवश्य रोकें। इन दिनों आजीविका छूटने से मजदूरों को पेट भरने की चिंता है, इसलिये उनकी मदद के लिये भोजन व अन्य सामग्री की आपूर्ति करें जिससे उन्हें तत्काल राहत मिल सके। कोई श्रमिक परिवार गांव लौट रहे हैं तो उनके लिये कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र के तीनों प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्गों पर जनसहयोग से निःशुल्क भोजन व्यवस्था रविवार से प्रारंभ कर दी गई है।

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा नगरी में हजारों कोचिंग विद्यार्थी घर से दूर शहरवासियों के भरोसे कोटा में रहकर अध्ययन कर रहे है, ऐसे में सभी कोचिंग संस्थानों व नागरिकों की जिम्मेदारी है कि 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान इन विद्यार्थियों को भोजन व स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी नही हो। बिरला ने कहा कि देश में कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जो आवश्यक कदम उठाये गये हैं, उसी दौरान शहरों के दिहाड़ी मजदूरों का गांवों की ओर पलायन एक बड़ी चुनौती बन गया है। यदि बड़ी संख्या में भीड़ के साथ पलायन करने से संक्रमण फैलने लगा तो यह राष्ट्रीय आपदा का रूप ले सकता है। इसके लिये हर वर्ग को मिलकर प्रयास करने होंगे।

प्रत्येक घर से भोजन के पैकेट निकालें

उन्होंने सुझाव दिया कि शहर के प्रत्येक गली-मोहल्ले के नागरिक कोरोना से लड़ने के लिये एक सामूहिक कार्ययोजना बनायें। प्रत्येक घर से एक-दो भोजन के पैकेट जरूरतमंद लोगों के लिए अलग निकालें और आसपास रहने वाले मजदूरों को वितरित करें। लॉकडाउन के कारण बडी संख्या में मजदूर वर्ग परिवहन के साधनों के अभाव में सैंकड़ों किलोमीटर पैदल चलकर घर जाने को मजबूर हैं। उनके लिये रविवार से झालावाड़ रोड, बारां रोड व बूंदी रोड पर जनसहयोग से निःशुल्क भोजन व्यवस्था प्रारंभ कर दी गई है।
यह संभाल रहे भोजन व्यवस्था
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की पहल पर जनसहयोग से कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में शुरू की गई भोजन व्यवस्था में एनएच-27 पर सीमल्या के पास मुख्य मार्ग पर स्वामी विवेकानंद यूथ क्लब सीमल्या के सदस्यों के प्रेम गोचर, खेमचंद गौतम, हंसराज गौतम, औंकार अ्रग्रवाल,इन्द्रकुमार शर्मा, कमलेश वैष्णव ,चन्द्रशेखर वर्मा द्वारा एवं एनएच-52 पर मंडाना के गोयल समूह द्वारा राहगीरों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुऐ भोजन करवाया जा रहा है। साथ ही चम्बल फर्टीलाईजर प्रशासन ने जिला प्रशासन को करीब 3 लाख रूपये की सेनेटाईजर बोतलें उपलब्ध करवाई है।

(Visited 43 times, 1 visits today)

Check Also

विद्यार्थी परिषद कोटा ने बांटेगी 1 लाख मास्क व सेनिटाइजर

शहर में सुरक्षा के लिये ‘नमस्ते एक अभियान सुरक्षा का’ प्रारंभ न्यूजवेव@ कोटा अखिल भारतीय …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: