Thursday, 30 May, 2024

प्रदेश की पहली आदिवासी यूनिवर्सिटी में प्रवेश जुलाई से

रानपुर के 75 बीघा क्षेत्रफल में प्रथम चरण का निर्माण कार्य जारी, नदी पार क्षेत्र मीणा समाज ने 70 लाख की सहायता की
न्यूजवेव @ कोटा

शिक्षा नगरी में प्रदेश की पहली निजी जय मीनेश आदिवासी यूनिवर्सिटी के प्रथम चरण का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। रानपुर में निर्माणाधीन यूनिवर्सिटी में जुलाई,2022 से प्रथम शैक्षणिक सत्र की प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जायेगी। प्रदेश का यह पहला विश्वविद्यालय है जिसमें गरीब आदिवासी विद्यार्थियों के लिये 50 प्रतिशत सीटें आरक्षित होंगी। शेष सीटों पर सभी समुदायों के विद्यार्थी प्रवेश ले सकेंगे।


अ.भा.श्री मीणा सामाजिक एवं शैक्षणिक समिति कोटा के निदेशक आर.डी.मीणा ने बताया कि आदिवासी विश्वविद्यालय के अत्याधुनिक कैम्पस के प्रथम चरण में 10,000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में प्रशासनिक भवन, स्वागत कक्ष, कुलपति सचिवालय, रजिस्ट्रार कार्यालय, परीक्षा एवं प्रवेश विभाग, वित्त व लेखा विभाग, कम्प्यूटर लैब, लाइब्रेरी, वाचनालय एवं सभागार आदि का निर्माण होगा। जिसकी लागत करीब 15 करोड़ रू होगी, इसके लिये लगभग 6 करोड़ रू एकत्रित हो चुके हैं। यूआईटी द्वारा 2012 में आदिवासी विवि के लिये रानपुर में 30 एकड़ (75 बीघा) भूमि रियायती दरों पर आवंटित की गई थी। सामाजिक सरोकार के तहत इसे मीणा समाज द्वारा संचालित किया जायेगा।
नदी पार भामाशाहों द्वारा 70 लाख की मदद


समिति के सदस्य ललित कुमार मीणा एवं अर्जुन मीणा ने बताया कि रानपुर में निर्माणाधीन निजी यूनिवर्सिटी के लिये भामाशाहों को श्रीनाथपुरम में आयोजित सम्मान समारोह में निदेशक आरडी मीणा एवं पूर्व जिला प्रमुख कमला मीणा ने सम्मानित किया। नदी पार मीणा समाज द्वारा 43 लाख रुपए एकत्रित किए जा चुके हैं एवं 27 लाख की घोषणाएं की गई। इस तरह कुल 70 लाख रुपए का सहयोग नदी पार के भामाशाहों द्वारा किया गया।
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 8 अगस्त, 2021 को इसका वर्चुअल शिलान्यास किया था। विश्वविद्यालय के प्रथम चरण का निर्माण पूर्ण होने पर राज्य सरकार द्वारा एक समिति गठित की जायेगी, जो विवि परिसर एवं अन्य व्यवस्थाओं पर रिपोेर्ट प्रस्तुत करेगी। जिसके आधार पर विधानसभा द्वारा आदिवासी विश्वविद्यालय की स्थापना के लिये एक्ट पारित किया जायेगा।
कौन-कौन से कोर्स होंगे
जय मीनेश आदिवासी विवि कोटा में जुलाई,22 से 9 विभागों के विभिन्न कोर्सेस में प्रवेश प्रारंभ कर दिये जायेंगे जिसमें आटर्स, कॉमर्स, साइंस व लॉ संकाय व अन्य प्रोफेशनल यूजी एवं पीजी कोर्सेस होंगे। जिसमें बीए, एलएलबी, बीआर्क, बीए बीएड, बीबीए, बी.लिब, बीएससी, नर्सिंग, बीबीए, एमबीए, बीकॉम, एम.कॉम, एम.फिल, बीएड, बी फार्मा, एम.फार्मा, आर्किटेक्चर, होटल मैनेजमेंट सहित अन्य कई प्रोग्राम के बैच में प्रवेश दिये जायेंगे।

(Visited 1,091 times, 1 visits today)

Check Also

प्रचंड तापमान ने जेईई-एडवांस्ड परीक्षार्थियों की ली दोहरी परीक्षा

 जेईई-एडवांस्ड, 2024: देश के 222 शहरों व राजस्थान में कोटा सहित 10 शहरों के परीक्षा …

error: Content is protected !!