Saturday, 15 May, 2021

रेजोनेंस ने स्टूडेंट्स की याददाश्त से किया ऑनलाइन जेईई-एडवांस्ड पेपर का एनालिसिस

न्यूजवेव कोटा
इस वर्ष ऑनलाइन जेईई-एडवांस्ड पेपर का विश्लेषण करना प्रत्येक कोचिंग संस्थान के लिए चुनौतीपूर्ण रहा, क्योंकि हर वर्ष ऑफलाइन मोड की तरह पेपर किसी स्टूडेंट को नहीं मिला। रेजोनेंस ने अपने क्लासरूम विद्यार्थियों से पेपर का फीडबेक लिया और उनकी मैमोरी के आधार पर पेपर का एनालिसिस किया।

आईआईटी, कानपुर द्वारा सोमवार शाम को वेबसाइट पर पेपर-1 एवं पेपर-2 को जारी किए गए जिससे शिक्षकों को पेपर सॉल्व करने में मदद मिली। उन्होंने परीक्षार्थियों से मिले प्रश्नों का सटीक विश्लेषण किया।

रेजोनेंस के प्रबंध निदेशक श्री आर.के.वर्मा ने बताया कि पेपर में एक से अधिक टॉपिक्स मिलाकर कुछ प्रश्न पूछे गए। इस वर्ष पेपर में कुछ आंसर दशमलव के बाद दो स्थानों तक होने के कारण भी पेपर लम्बा रहा।

केमिस्ट्री के 36 में से 28 प्रश्नों के बारे में विद्यार्थियों ने बताया। जिसमें 4 प्रश्न आसान, 11 प्रश्न मॉडरेट एवं 13 कठिन थे। फिजिकल केमिस्ट्री से 47, इनॉर्गेनिक से 35 और ऑर्गेनिक केमिस्ट्री से 40 अंकों का वेटेज रहा। प्रश्नों का लेवल पिछले वर्षों की तुलना में बेहतर था, जिससे मेधावी विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा।

फिजिक्स में कुछ प्रश्नों को छोड़कर सभी टॉपिक्स कवर किए गए। कुल 36 में से 34 प्रश्नों की जानकारी विद्यार्थियों से मिली। इसमें 12वीं के सिलेबस से अपेक्षाकृत कम लेकिन कठिन प्रश्न पूछे गए। क्लास-11वीं से आए प्रश्न सरल एवं मध्यम स्तर के थे।

मैथ्स के सवाल 2016 की तुलना में सरल लेकिन 2017 की तुलना में कठिन थे। मैथ्स में 3-4 सवाल सरल थे, जो आमतौर पर एडवांस्ड परीक्षा में नहीं पूछे जाते हैं। जबकि 4-5 सवाल बहुत कठिन थे। शेष सामान्य स्तर के रहे।

(Visited 83 times, 1 visits today)

Check Also

राज्य की इंजीनियरिंग शिक्षा में क्वालिटी इम्प्रूवमेंट की कार्ययोजना नही

राज्य के 11 कॉलेजों में 250 असिस्टेंट प्रोफेसर्स की नियुक्तियां अधर में अटकी न्यूजवेव@ कोटा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: