Monday, 22 April, 2024

जेईई-एडवांस्ड के पेपर पैटर्न में हुआ आंशिक बदलाव

पेपर-1 के तीसरे भाग में अनुच्छेद के स्थान पर पूछे गये आंकिक प्रश्न 
न्यूजवेव@ कोटा
आईआईटी, रूडकी द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा जेईई-एडवांस,2019 सोमवार 27 मई को प्रारंभ हुई। इस वर्ष देशभर के परीक्षा केंद्रों पर 1.72 लाख पंजीकृत परीक्षार्थी पेपर दे रहे हैं। पहली शिफ्ट में पेपर देने के बाद परीक्षार्थियों ने बातचीत में बताया कि पेपर तीन भागों में था, जिसके तीसरे भाग में अनुच्छेद के स्थान पर आंकिक प्रश्न पूछे गये।

कैरिअर पॉइंट के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट देव शर्मा ने बताया कि पेपर-1 तीन भागों में विभाजित था। प्रथम भाग में चार ऑब्जेटिव प्रश्न थे। नेगेटिव मार्किंग -1 रही। द्वितीय भाग में 8 ऑब्जेक्टिव प्रश्नों में चार विकल्पों में से एक से अधिक सही विकल्प चुनना था।
यदि किसी प्रश्न के चारों विकल्प सही हैं तो चारों का चयन करने पर विद्यार्थी को ़4, तीन सही विकल्पों चुनने पर 3, दो सही विकल्प चयनित करने पर 2 तथा एक विकल्प चुनने पर 1 अंक देने का प्रावधान था।
तृतीय भाग में आंकिक गणना पर आधारित 6 प्रश्न थे। प्रत्येक प्रश्न 3 अंको का था। इस भाग में नेगेटिव मार्किंग लागू नहीं थी। पेपर-1 में प्रत्येक विषय में कुल 18 प्रश्न थे। प्रत्येक विषय में अधिकतम प्राप्तांक 62 अंक रहे। इस तरह, पेपर-1 मंें 186 अंकों के कुल 54 प्रश्न पूछे गए।
अनुच्छेद आधारित प्रश्न नहीं पूछे
गत वर्ष जेईई एडवास्ड के तृतीय भाग में अनुच्छेद आधारित प्रश्न पूछे गए थे, जबकि 2019 में इसके स्थान पर आंकिक प्रश्न पूछे गए।

(Visited 153 times, 1 visits today)

Check Also

नारायणा ई-टेक्नो स्कूल में किया 30 यूनिट रक्तदान

थैलेसिमिया बच्चों के लिये स्कूल शिक्षकों ने पहली बार दिया रक्त न्यूजवेव@कोटा श्रीनाथपुरम-ए स्थित नारायणा …

error: Content is protected !!