Thursday, 25 April, 2024

कम्प्यूटर बेस्ड जेईई-मेन का पेपर रहा आसान

पेपर-1 में फिजिक्स, केमिस्ट्री के प्रश्नों से मिली राहत, मैथ्स ने बढ़ाई मुश्किलें

न्यूजवेव@कोटा

पहली बार कम्प्यूटर बेस्ड जेईई-मेन,2019 परीक्षा में  9 जनवरी को बीटेक के लिए पेपर-1 दो पारियों में सम्पन्न हुआ। देशभर के 467 परीक्षा केंद्रों पर 9,29,198 रजिस्टर्ड परीक्षार्थी 12 जनवरी तक दो पारियों में पेपर देंगे।

खास बात यह कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित जेईई-मेन में हर पारी में पेपर नया होगा। हालाँकि पेपर का स्तर व पैटर्न एक समान रखा गया है। गत वर्ष तक ऑफलाइन पेपर में सभी परीक्षार्थियों को एक ही पेपर मिलता था, जिसे देखकर एक्सपर्ट एनालिसिस करते थे लेकिन इस वर्ष सीबीटी मोड में 8 से 12 जनवरी तक दो-दो पारियों में सीबीटी मोड में अलग-अलग 10ऑनलाइन पेपर होने से पेपर विश्लेषण भी एक समान नही रहेंगे।

31 जनवरी को मिलेगा स्कोर

इस वर्ष जेईई-मेन का परीक्षा स्कोर एनटीए वेबसाइट पर 31जनवरी को जारी किया जाएगा। परीक्षार्थियीं को 7 डेसीमल पॉइंट तक परसेंटाइल दी जाएगी, जिससे वे जनवरी व अप्रेल में परीक्षा देकर अपना बेस्ट स्कोर चुन सकते हैं। इसी परसेंटाइल से आल इंडिया मेरिट सूची जारी होगी। ऐसे में रिजल्ट का जल्द पूर्वानुमान लगाने की बजाय परीक्षार्थी दोनों अटेम्प्ट में अच्छा स्कोर अर्जित करने पर फोकस करें।

9 जनवरी को हुए पेपर-1 विश्लेषण करते हुए एक्सपर्ट देव शर्मा ने बताया कि परीक्षार्थियों से बातचीत के आधार पर इस वर्ष का पेपर गत वर्ष जैसा ही रहा। इस पेपर में 9 प्रश्न जेईई मेन के सिलेबस से रहे। कुछ प्रश्न पिछले वर्षो के पेपर जैसे ही रहे। द्वितीय पारी का प्रश्न पत्र परीक्षार्थियों के अनुसार लगभग प्रथम पारी जैसा ही रहा।

फिजिक्स में 60 फीसदी प्रश्न 12वीं से

जेईई-मेन के फिजिक्स पेपर में 12वीं बोर्ड के सिलेबस का पलड़ा 11वीं के सिलेबस पर भारी रहा। 12 वीं कक्षा के सिलेबस से 60 प्रतिशत प्रश्न तथा 11वीं के सिलेबस से 40 प्रतिशत प्रश्न पूछे गए।  फिजिक्स में ऐसे टॉपिक्स जो जेईई एडवांस के सिलेबस में नहीं है, किंतु जेईई मेंस के सिलेबस में है जैसे- पोलराइजेशन, मैग्नेटिज्म, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव, कलर कोडिंग ऑफ रेजिस्टेंस तथा सेमीकंडक्टर सभी से प्रश्न पूछे गए।

12 वी के 18 प्रश्नों का विश्लेषण
कक्षा 12 से संबंधित हिस्से की बात की जाए तो 18 प्रश्नों का विभाजन इस प्रकार है। करंट इलेक्ट्रिसिटी से चार प्रश्न, इलेक्ट्रोस्टेटिक्स एवं कैपेसिटर्स से तीन प्रश्न, मैग्नेटिक फील्ड से चार प्रश्न तथा मॉडर्न फिजिक्स से कुल 4 प्रश्न पूछे गए। रे एवं वेव ऑप्टिक्स के कुल 3 प्रश्न पूछे गए।
11 वीं से जुड़े 12 प्रश्नों का विश्लेषण-
कक्षा 11 से संबंधित प्रश्नों की बात की जाए तो 12 प्रश्नों का विवरण इस प्रकार है। मैकेनिक्स जैसे बड़े भाग से 6 प्रश्न। गुरुत्वाकर्षण, द्रव्य की प्रकृति एवं तरंग से एक-एक प्रश्न। ऊष्मा गतिकी से कुल 3 प्रश्न पूछे गए।
कैपेसिटर, ट्रांसवर्स वेव तथा रोटेशनल मोशन के प्रश्नों को छोड़ दें तो अन्य सभी प्रश्नों का स्तर सामान्य रहा।

मैथ्स कुछ कठिन रहा

जेईई मेन गणित के प्रश्न पत्र में 12वीं बोर्ड के सिलेबस तथा 11 वीं कक्षा से बराबर प्रश्न थे। सबसे अधिक 11 प्रश्न बीजगणित से पूछे गए। कैलकुलस से 9 प्रश्न, निर्देशांक ज्यामिति से 6 प्रश्न, वेक्टर तथा त्रिविम ज्यामिति से तीन प्रश्न पूछे गए। मैथमेटिकल रीजनिंग तथा स्टैटिसटिक्स से भी एक-एक प्रश्न प्रश्न पूछा गया।

केमिस्ट्री में रहा सन्तुलन

जेईई मेन केमिस्ट्री का पेपर पिछले वर्ष के पेपर के सापेक्ष आसान रहा। 12वीं बोर्ड तथा 11वीं कक्षा के सिलेबस से लगभग समान मात्रा में प्रश्न थे। केमिस्ट्री वस्तुतः तीन हिस्सों फिजिकल, इनऑर्गेनिक, ऑर्गेनिक में बटी होती है। प्रश्न पत्र में इन तीनों ही हिस्सों से 10-10 प्रश्न पूछे गए। बायोमोलीक्यूलिस पॉलीमर साइंस तथा एनवायरमेंटल केमेस्ट्री से भी प्रश्न पूछे गए।

(Visited 202 times, 1 visits today)

Check Also

हार न मानें बल्कि उससे सीख लेकर खुद को चुनौती दें और आगे बढ़ते जाएं – डॉ. गोस्वामी

मोटिवेशनल सेमिनार : मोशन एजुकेशन में जिला कलक्टर ने ली लाइव क्लास न्यूजवेव @कोटा जिला …

error: Content is protected !!