Thursday, 30 May, 2024

नीट-यूजी परीक्षा 5 मई को, राज्य में 1.97 लाख एवं कोटा में 28 हजार परीक्षार्थी

देश के 557 शहरों में 24 लाख 6 हजार परीक्षार्थी, राजस्थान के 24 शहरों में एक ही पारी में देंगे पेपर
न्यूजवेव @ कोटा 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा देश की सबसे बडी मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी,2024 (NEET-UG) रविवार 5 मई को दोपहर 2 से शाम 5ः20 बजे तक पेन-पेपर मोड में आयोजित की जायेगी। इसके लिये ऑनलाइन प्रवेश पत्र व दिशानिर्देश 1 मई को जारी कर दिये गये है। इस परीक्षा के लिये भारत में 557 शहरों एवं विदेशों के 14 शहरों में परीक्षा केंद्र घोषित किये गये हैं। इस वर्ष नीट परीक्षा में 24 लाख 6 हजार विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया है। जो अब तक की सभी प्रवेश परीक्षाओं में सर्वाधिक हैं।
एनटीए के जोनल कॉर्डिनेटर प्रदीप सिंह गौड ने बताया कि यह प्रवेश परीक्षा राजस्थान के 24 शहरों के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जायेगी, जहां 1 लाख 97 हजार परीक्षार्थी पेपर देंगे। इनमें जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, उदयपुर, भरतपुर, अलवर, बीकानेर, बांसवाडा, श्रीगंगानगर, जैसलमेर, बाडमेर, बारां, झुंझनू, सीकर, सिरोही, सवाईमाधोपुर, पाली, नागौर, चुरू, दौसा, धौलपुर, करौली के परीक्षा केंद्र शामिल हैं। यह परीक्षा पेन-पेपर मोड में होने से परीक्षार्थियों को कड़ी सुरक्षा जांच से गुजरना होगा। प्रतिवर्ष की तरह इस बार भी शिक्षा नगरी कोटा के परीक्षा केंद्रों पर गर्ल्स को प्राथमिकता दी जायेगी। जिससे भीषण गर्मी में उन्हें बाहरी परीक्षा केंद्रों पर अभिभावकों के साथ यात्रा के शारीरिक व मानसिक दबाव जैसी परेशानी से बचाया जा सके।
कोटा में 20 प्रतिशत परीक्षार्थी बढे़
गौड ने बताया कि कोटा में इस वर्ष 56 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं, जहां 28 हजार परीक्षार्थी पेपर देंगे। इनमें अधिकांश गर्ल्स होंगी। गत वर्ष कोटा में 44 सेंटर थे। परीक्षार्थियों की संख्या 20 प्रतिशत बढा दी गई है। बारां में 5 परीक्षा केंद्रों पर यह परीक्षा होगी।
पेपर पैटर्न में कोई बदलाव नहीं
एनटीए ने नीट-यूजी के पेपर पैटर्न में कोई बदलाव नहीं किया है। यह परीक्षा हिंदी, इंग्लिश सहित 14 भाषाओं में होगी। प्रवेश परीक्षा में कुल 720 अंकों के पेपर में फिजिक्स, केमिस्टी, जूलॉजी व बॉटनी चारों विषयों में दो सेक्शन में एमसीक्यू प्रश्न पूछे जायेंगे। सेक्शन ए में 35 प्रश्न होंगे। जबकि सेक्शन-बी में 15 प्रश्न होंगे, जिसमें से 10 प्रश्न हल करने होंगे। प्रत्येक प्रश्न 4 अंकों का होगा। गलत उत्तर पर एक अंक की नेगेटिव मार्किंग होगी।
2.10 लाख सीटों पर मिलेंगे प्रवेश


कॅरिअर काउसंलर पारिजात मिश्रा के अनुसार, नीट-यूजी प्रवेश परीक्षा देश में MBBS के 706 मेडिकल कॉलेज की 1,09,145, BDS के 323 कॉलेज की 28,088, आयुष पाठ्यक्रम की कुल 55,851 सीटों एवं चयनित बीएससी नर्सिंग कॉलेज के पाठ्यक्रमों की करीब 2 लाख 10 हजार सीटों के लिए होगी।
सुरक्षा जांच के लिये समय से पहले पहुंचे
एनटीए ने नीट-यूजी के प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर कडी सुरक्षा व्यवस्था के लिये जैमर लगाये हैं। हर सेंटर पर फ्लाइंग स्क्वायड की टीमें मॉनिटरिंग करेंगी। परीक्षार्थियों के आधार कार्ड की जांच बायोमेट्रिक पर होगी। आधार कार्ड में समस्या होने पर परीक्षार्थी के फिंगर प्रिंट लिये जायेंगे। प्रत्येक सेंटर पर परीक्षार्थी को पेन दिया जायेगा। वे पानी की पारदर्शी बोतल साथ ले जा सकते हैं। गर्ल्स अधिक गहने नहीं पहने। बडे बटन वाले शर्ट नहीं पहने। अन्य सभी हिदायतें प्रवेश पत्र के साथ दी गई हैं। असुविधा से बचने के लिये निर्धारित समय से आधा घंटे पहले सेंटर पहुंचे।

(Visited 48 times, 1 visits today)

Check Also

डॉ. हेमलता गांधी ने जन्मदिवस पर देहदान का संकल्प लिया

देहदान-संकल्प : हमारे ऋषिमुनियों से सीखें दान का महत्व, इसी भाव ने देहदान-संकल्प के लिए …

error: Content is protected !!