Thursday, 25 April, 2024

न्यूमेरिकल वैल्यू के आंसर में परीक्षार्थियों को मिली छूट

त्वरित: #जेईई-एडवांस्ड,2018 में दशमलव के बाद 2 अंकों की बाध्यता खत्म की, 1 अंक भरने पर भी आंसर सही माने जाएंगे

न्यूजवेव @ कोटा

जेईई-एडवांस्ड पेपर देने वाले स्टूडेंट के लिए अच्छी खबर। आईआईटी ने इस वर्ष पेपर में इंटीजर वैल्यू वाले प्रश्नों को लेकर विद्यार्थियों के हित में भ्रांतियां दूर कर दीं। वेबसाइट www.jeeadv.ac.in पर सोमवार को आईआईटी ने स्पष्ट किया कि न्यूमेरिकल आंसर वाले प्रश्नों में परीक्षार्थी ने जो न्यूमेरिकल वैल्यू दी है, उसका मूल्यांकन किया जाएगा।
ऐसे सभी आंसर का मूल्यांकन किया जाएगा, जिनमें परीक्षार्थी ने दशमलव के 2 अंकों तक आंसर दिए हैं, चाहे प्रश्न के अनुसार उसमें रेंज की अपर या लोअर वैल्यू शामिल की हो या नहीं। जैसे-

1. यदि आंसर में इंटीजर 11 है तो उसका उत्तर 11, 11.0 या 11.00 देने पर तीनों को सही माना जाएगा। इतना ही नहीं, आवश्यकता होने पर 10.99 से 11.01 को भी सही माना जा सकता है।

2. यदि आंसर 11.5 है तो ऐसे सभी आंसर जो 11.5 या 11.50 भरे गए हैं, सही माने जाएंगे। यदि आवश्यकता हुई तो 11.49 से 11.51 को भी सही उत्तर माना जा सकता है।

3. यदि आंसर 11.367777777… जैसा नंबर है तो ऐसे में निर्धारित रेंज 11.36 से 11.37 में आने वाले सभी आंसर सही माने जाएंगे, बशर्ते यह रेंज इलेस्ट्रेशन के लिए ली गई हो। ऐसे प्रश्नों में 11.36 से 11.37 लिखने वाले आंसर सही होंगे।

आईआईटी ने इन अंकों के उदाहरण देकर परीक्षार्थियों की शंकाओं को दूर कर दिया। इससे परीक्षार्थियों की यह चिंता दूर हो गई कि इंटीजर में उनका आंसर गलत नहीं माना जाएगा।

सेक्शन-2 के 8 प्रश्न इंटीजर आधारित थे
जेईई-एडवांस्ड के पेपर में सेक्शन-2 में 24 अंकों के 8 प्रश्न पूछे गए थे। प्रत्येक सही उत्तर पर 3 अंक दिए जाएंगे। खास बात यह कि इस सेक्शन में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं रही। इस सेक्शन में सभी प्रश्न इंटीजर टाइप के पूछे गए, जिसमें 0 से 9 की रेंज में उत्तर देना था। प्रत्येक न्यूमेरिक आंसर को दशमलव के बाद अंकों तक राउंड ऑफ करना था। जबकि 2017 में ऐसे प्रश्न नहीं पूछे गए थे। जिससे परीक्षार्थी दुविधा में रहे।

पेपर में यह थे निर्देश –
20 मई को हुए जेईई-एडवांस्ड पेपर के सेक्शन-2 में निर्देश दिए गए थे कि सभी 8 प्रश्न 3-3 अंकों के हैं। इनमें आंसर में सही न्यूमेरिकल वैल्यू भरने पर सही माना जाएगा। प्रत्येक प्रश्न के आंसर में वैल्यू को दशमलव के बाद 2 अंकों तक भरना था। (जैसे- 6.25, 7.00, -0.33, -.37, 30.27, -127.30)

आईआईटी के इस त्वरित निर्णय से लाखों परीक्षार्थियों को राहत मिली और उनकी भ्रांतियां दूर हो गई।

आगे क्या-

  • 22 से 25 मई – परीक्षार्थियों को रेस्पांस कॉपी
  • 29 मई, 10 बजे से – ऑनलाइन ‘आंसर की’ डिस्प्ले
  • 30 मई, 5 बजे तक -‘आन्सर की’ पर आपत्ति
(Visited 226 times, 1 visits today)

Check Also

मुख्यमंत्री भजनलाल व उपमुख्यमंत्री प्रधानमंत्री मोदी से मिले

न्यूजवेव @नई दिल्ली राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री भजन लाल शर्मा और उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!