Saturday, 4 December, 2021

नीट-यूजी,2021 में कटऑफ क्या रहेगी?

पेपर में बी-पार्ट से होगा प्राप्तांकों का फैसला, गत वर्ष सामान्य वर्ग की कटऑफ 147 अंक थी,
न्यूजवेव@ कोटा
एनटीए द्वारा रविवार को नीट-यूजी,2021 परीक्षा ऑफलाइन मोड में सफलतापूर्वक आयोजित की गई। पेपर में फिजिक्स, केमिस्टी, जूलॉजी व बॉटनी के प्रश्नों को देखकर विद्यार्थियों में कटऑफ पिछले वर्ष से कम या अधिक होने के कयास लगाये जा रहे हैं।
एजुकेशन एक्सपर्ट एव फिजिक्स फैकल्टी देव शर्मा ने बताया कि नीट-यूजी-2021 की कटऑफ बढ़ेगी या घटेगी यह कहना फिलहाल जल्दबाजी होगी। पेपर के सभी प्रश्नों को हल करके आंसर-की जारी की जायेगी, जिससे परीक्षार्थी अपने प्राप्ताकों का अनुमान लगा सकेंगे। प्राप्तांकों के डाटा एनालिसिस के आधार पर ही कटऑफ निर्धारित होगी।
वर्ष 2020 में सामान्य वर्ग के लिए कटऑफ अंक 147 तथा ओबीसी एससी एवं एसटी कैटेगरी के लिए कटऑफ 113 अंक घोषित किए गए थे। पूर्णांक इस वर्ष भी 720 ही है। कटऑफ की स्थिति आंसर की जारी होने के बाद ही स्पष्ट हो सकेगी।
पेपर एनालिसिस-
फिजिक्स फैकल्टी देव शर्मा ने बताया कि नीट-यूजी-2021 में फिजिक्स के 62 फीसदी प्रश्न कक्षा-12वीें के सिलेबस से पूछे गए जबकि 11वीं कक्षा से मात्र 38 फीसदी प्रश्न पूछें गए। केमिस्ट्री में इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री का पलड़ा भारी रहा। फिजिक्स एवं केमिस्ट्री के कुछ प्रश्न जेईई-मेन-2021 के पेपर से पूछे गए।
फिजिक्स में पार्ट-बी मुश्किल रहा
यदि कैपेसिटर, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव तथा रेडियोएक्टिविटी के कुछ प्रश्नों को छोड़ दें तो फिजिक्स के पेपर में पार्ट-ए फार्मूला बेस्ड रहा। पार्ट-बी थोड़ा कठिन रहा। कैपेसिटर, अल्टरनेटिंग करंट, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव, फोटोइलेक्ट्रिक इफेक्ट, डुएल नेचर ऑफ मैटर तथा लॉजिक गेट,जेनर-डायोड से कुछ स्तरीय प्रश्न पूछे गए। मेटल सर्फेस से उत्सर्जित फोटो इलेक्ट्रॉन की डीब्रोग्ली वेवलेंथ से संबंधित एक स्तरीय प्रश्न विद्यार्थियों के मध्य चर्चा का विषय रहा। मैकेनिक्स, प्रॉपर्टीज ऑफ मैटर, ग्रेविटेशन, तथा हीट एंड थर्मोडायनेमिक्स से प्रश्न पूछें गए।
इनॉर्गेनिक केमिस्ट्री से पूछे अधिक प्रश्न
केमिस्ट्री के पेपर में इनॉर्गेनिक केमिस्ट्री का पलड़ा भारी रहा। पीरियोडिक प्रॉपर्टीज, केमिकल बॉन्डिंग, एक्सट्रैक्शन ऑफ मेटल्स, सरफेस केमिस्ट्री तथा केमिस्ट्री इन एवरिडे लाइफ के फैक्ट बेस्ड क्वेश्चन पूछें गए। केमेस्ट्री इन एवरिडेे लाइफ से एनाल्जेसिक-ड्रग्स एस्पिरिन, मार्फिन तथा हीरोइन के साथ ही नोवोलेक-पालीमर पर प्रश्न पूछा गया। फिजिकल केमिस्ट्री से सॉलिड स्टेट, केमिकल थर्मोडायनेमिक्स तथा इलेक्ट्रो केमेस्ट्री पर प्रश्न पूछें गए। केमिकल काइनेटिक्स से कोई प्रश्न नहीं पूछा गया। ऑर्गेनिक केमिस्ट्री के प्रश्न आईयूपीएसी नेमिंग, नेम रिएक्शंस तथा रिएजेंट आईडेंटिफिकेशन पर आधारित रहे। केमिस्ट्री का पेपर मॉडरेट रहा।
बॉटनी एवं जूलॉजी
नए पेपर-पैटर्न के अनुसार बाटनी एवं जूलॉजी दोनों विषयों से 50-50 प्रश्न पूछे गए। सभी प्रश्न NCERT बेस्ड थे। जूलॉजी में रिप्रोडक्शन से संबंधित एक प्रश्न NCERT सिलेबस से बाहर पूछा गया जो विद्यार्थीयों में चर्चा का विषय बना रहा। प्रश्न पत्र साधारण होने के कारण विद्यार्थी बॉटनी एवं जूलॉजी में अच्छे स्कोर की उम्मीद है।

(Visited 227 times, 1 visits today)

Check Also

जेईई-एडवांस्ड,2021 में जयपुर के मृदुल बने ऑल इंडिया टॉपर

रिजल्टः  कुल 1,41,688 लाख परीक्षार्थियों में से 41,862 हुये चयनित, रिजल्ट 29.54 प्रतिशत रहा न्यूजवेव …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: