Saturday, 13 April, 2024

डिजिटलाइजेशन से छोटे कारोबार संकट में

जेसीआई कोटा के बिजनेस ट्रेनिंग प्रोग्राम ‘एबल’ में वक्ताओं ने कहा, अब आंत्रप्रिन्योर बनने का समय आ गया है
न्यूजवेव कोटा
जेसीआई कोटा द्वारा जयपुर स्थित गोल्ड पैलेस रिसोर्ट में अकेडमी ऑफ बिजनेस लर्निंग एंड एक्सीलेंस (एबल) प्रोग्राम में मुख्य अतिथि जेसीआई इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिरीष डुन्डु ने कहा कि जिस तरह देश में हर चीज का डिजिटलाइजेशन हो रहा है, उससे निकट भविष्य में मध्यम व लघु श्रेणी के कारोबार पूर्णतया समाप्त हो जाएंगे। ऐसे में अपने खुद को अभी से तैयार करना है।
उन्होने कहा कि फैमिली बिजनेस भी अब रूढिवादी सोच से नहीं चलेंगे, उनको कॉर्पोरेट्स की तरह चलाना होगा। इसे लेकर सबकी जिम्मेदारी निर्धारित हो। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि आप केवल बिजनेसमैन मत बनो। आज समय आंत्रप्रिन्योर बनने का है। बिजनेस में सिर्फ कमाई पर ही नहीं ओवरऑल ग्रोथ पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

बिजनेस लर्निंग ट्रेनिंग जरूरी

जेसीआई कोटा के अध्यक्ष नवनीत मोहता ने बताया कि जेसीआई इंडिया का यह सबसे बड़ा बिजनेस ट्रेनिंग प्रोग्राम है, जिसे जेसीआई कोटा ने दूसरी बार आयोजित किया है। विशिष्ठ अतिथि प्रमुख समाजसेवी रत्नेश कश्यप रहे। अंतरराष्ट्रीय टैªनर रमन नैय्यर ने नागरिकों को बिजनेस लर्निंग ट्रेनिंग, व्यापार को आगे कैसे बढ़ाया जाए के साथ व्यापार में पेमेंट फ्लो, मार्केटिंग व फाइनेंस आदि की जानकारी दी।
जेसीआई कोटा के सचिव विभोर लोढ़ा व कोषाध्यक्ष सीए निखिल जैन ने बताया कि कार्यक्रम में बिजनेस ट्रेनिंग के साथ ही चार लाइव बिजनेस केस का प्रजेंटेशन दिया गया, जिसमें दो बिजनेस लाइव केस कोटा के थे। कार्यक्रम में कोटा समेत पूरे देशभर के अलावा नेपाल से करीब दर्जनों लोगों ने हिस्सा लिया है। इस मौके पर जेसीआई कोटा के पूर्व अध्यक्ष सीए योगेश चांडक, गौरव माहेश्वरी, राजा पंडित, नेहा जैन, दीपिका लोढ़ा, प्रिया मोहता व सागर सुवालका आदि मौजूद रहे।

(Visited 206 times, 1 visits today)

Check Also

जेईई मेन अप्रैल-सेशन में पहले दिन एनटीए ने पकड़े नकल के 10 मामले

** एक केस में कैंडिडेट बदला हुआ था, वहीं 9 अनुचित साधनों के प्रयोग के …

error: Content is protected !!