Saturday, 13 April, 2024

किसानों की कर्जमाफी से 18 हजार करोड़ रु. का भार

राजस्थान में किसानों का 2 लाख रु. तक कर्जा माफ

न्यूजवेेेव @ जयपुर

राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों को 2 लाख तक कर्जमाफी की घोषणा कर दी, जिससे राज्य के खजाने पर 18000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। इससे पहले वसुंधरा सरकार ने भी 50 हजार रु की दर से कुल 8000 करोड़ रु. की कर्जमाफी की घोषणा की थी, लेकिन सरकार बजट से मात्र 2 हजार करोड़ ही दे पायी थी। कांग्रेस सरकार ने 30 नवम्बर,2018 तक कर्ज लेने वाले किसानों को यह मोटी राहत दी है,लेकिन इस वित्तीय भार को कहां से पूरा किया जाएगा, इसका कोई खुलासा नही किया गया।राजस्थान में किसानों को कर्जमाफी की सौगात से कॉपरेटिव बैंक, राष्ट्रीयकृत, कॉमर्शियल और ग्रामीण बैंकों में 30 नवंबर तक के सभी डिफॉल्टर किसान कर्जमुक्त हो जाएंगे।

6000 करोड़ एनपीए की भरपाई कैसे होगी

राज्य में किसानों ने 1लाख करोड़ रुपये के कृषि लोन ले रखे हैं। बैंक रिपोर्ट के अनुसार, इसमे से 6 प्रतिशत लोन राशि अर्थात 6 करोड़ रुपये एनपीए यानी डिफाल्टर्स की है। सहकारी बैकों में 11 हजार 543 करोड़ कर्ज के बाद नेशनल बैंकों के लोन की भरपाई कैसे होगी, इस पर राज्य सरकार ने कोई स्पष्ट जानकारी नही दी है।सूत्रों के मुताबिक, 18 हजार करोड़ रुपये की कर्जमाफी का असर नववर्ष के बजट में भी दिखाई दे सकता है। आम करदाताओं से अप्रत्यक्ष कर वसूली के जरिये इस राजकोषीय घाटे की भरपाई की जा सकती है।

(Visited 207 times, 1 visits today)

Check Also

जेईई मेन अप्रैल-सेशन में पहले दिन एनटीए ने पकड़े नकल के 10 मामले

** एक केस में कैंडिडेट बदला हुआ था, वहीं 9 अनुचित साधनों के प्रयोग के …

error: Content is protected !!