Sunday, 21 July, 2024

देश के 10 लाख युवाओं को दी जाएगी रोजगार ट्रेनिंग

मेगा जॉब प्रोग्राम: मानव संसाधन विकास मंत्रालय, श्रम मंत्रालय और कौशल विकास मंत्रालय मिलकर एक विशेष कोर्स चलाएंगे जिसमें अंडर ग्रेजुएट युवाओं को रोजगार ट्रेनिंग दी जाएगी

न्यूजवेव नईदिल्ली

देश के युवाओं में तेजी से बढ़ रही बेरोजगारी इस समय मोदी सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती है। लोकसभा चुनाव से पहले देश के लाखों शिक्षित युवा बेरोजगारी के नाम पर भ्रमित न हों, इसके लिए केंद्र सरकार जल्द ही देश में मेगा जॉब प्रोग्राम शुरू करने जा रही है। युवा मेनपावर को रोजगार से जोडने के लिए यह प्रभावी योजना प्रत्येक राज्य में लागू की जाएगी।


इस मेगा जॉब ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय, श्रम मंत्रालय और कौशल विकास मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से एक विशेष कोर्स चालू किया जाएगा, जिसमें अंडर ग्रेजुएट युवाओं को रोजगार ट्रेनिंग दी जाएगी, फिर उन्हें रोजगार भी दिया जाएगा.
मेगा जॉब ट्रेनिंग प्रोग्राम में नॉन-टेक्निकल अंडर ग्रैजुएट युवाओं को सरकारी और सरकारी फंडेड संस्थानों में ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग पूरा होने के बाद जैसे ही वे युवा अपना ग्रैजुएशन पूरा करेंगे, उन्हें नौकरी दिलाने की कोशिश होगी।
सर्वे के अनुसार, भारतीय ग्रेजुएट में इतनी क्षमता नहीं होती कि वे किसी काम को दक्षता से कर पाएं। खासकर जब वे नॉन टेक्निकल बैकग्राउंड से हों। इसेे ध्यान में रखते हुए स्किल इंडिया प्रोग्राम को शुरू किया गया था। हालांकि देश के लाखों युवाओं को इसका आंशिक लाभ भी मिला है।
1500 रूपये तक मिलेगा स्टाईपेंड 
रिपोर्ट्स के मुताबिक, पहले चरण में 2019-20 से जो छात्र ग्रेजुशन के फाइनल ईयर में होंगे, उन्हें 6 से 10 माह की ट्रेनिंग दी जाएगी। इस दौरान उन्हें 1500 रूपये तक स्टाईपेंड भी मिलेगा। कोर्स को ऐसे डिजाइन किया गया है कि उन्हें संबंधित फील्ड में ही ट्रेनिंग मिलेगी। पहले से मिली ट्रेनिंग से उन्हें उस फील्ड में नौकरी लेना आसान होगा। शैक्षणिक सत्र 2019-20 में ऐसे करीब 10 लाख युवाओं को इस प्रोग्राम के तहत ट्रेनिंग देने की तैयारी की जा रही है। 2022 तक 50 लाख स्टूडेंट्स को यह लाभ देने की योजना है। इसके लिए नेशनल अप्रेेंटिसशिप प्रोमोशन स्कीम (एनएपीएस) में 10 हजार करोड़ रू. का बजट दिया जाएगा।
इस प्रोग्राम से पब्लिक सेक्टर की कंपनियां और बड़ी प्राइवेट कंपनियों को जोड़ा जाएगा। इसका फायदा होगा कि युवाओं को बेहतर ट्रेनिंग मिलेगी और जिस फील्ड में वे नौकरी करेंगे, उस फील्ड की जानकारी उन्हें पहले से होगी। बहुत जल्द इस ट्रेनिंग प्रोग्राम को शुरू किया जाएगा।

(Visited 189 times, 1 visits today)

Check Also

हम पेड़ लगाकर प्रकृति का पूजन करें- अचार्य त्रिवेदी

श्रीमद भागवत कथा में गौवर्धन पूजा में उमडे़ श्रद्वालु , गाय का दूध पीने का …

error: Content is protected !!