Tuesday, 23 April, 2024

बाघिन एमटी-2 का मुकंदरा में स्वछंद विचरण शुरू

न्यूजवेव कोटा

मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व में टाइगर एमटी-1 का साथ निभाने आई बाघिन टी-106 (नया नामकरण- एमटी-2) ने बुधवार से दरा संरक्षित क्षेत्र के जंगलों में स्वच्छंद विचरण शुरू कर दिया है। वन्यजीव विभाग के सूत्रों के अनुसार, रिजर्व में बाघ एमटी-1 एवं बाघिन एमटी-2 का बसेरा हो जाने से मुकंदरा अभयारण्य के विकास में नए पंख लगे हैं।

मुकंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर घनश्याम शर्मा के अनुसार, मुकुन्दरा हिल्स का क्षेत्रफल राज्य के चार जिलों कोटा, बूंदी, झालावाड़ व चित्तौड़गढ़ में लगभग 760 वर्ग किलोमीटर में फैला है। इसका क्षेत्रफल सरिस्का सेंचुरी से ज्यादा है। रणथम्भौर सेंचुरी में इस समय 62 से अधिक टाइगर होने से वहां के नर बाघ समीपवर्ती मुंकदरा रिजर्व में आकर अन्य मादा बाघ से क्रॉसबीड कर सकेंगे, जिससे निकट भविष्य में यहां टाइगर की हाईब्रिड देखी जा सकती है।

चंबल किनारे दरा के जंगल में बाघ, पैंथर, भालू, सांभर, चीतल, जरख (हाइना), भेड़िया, लोमड़ी, नीलगाय, काले हिरण, वनविलाव, खरगोश,दुर्लभ स्याहगोह, निशाचर सिविट केट और रेटल जैसे दुर्लभ वन्यजीव अनायास ही देखने को मिल जाते हैं। वन्य अधिकारियों के अनुसार, मुकंदरा क्षेत्र में लगभग 1000 चीतल, 60 भालू, 60 से 70 पैंथर, 60 नील गायों सहित बाघ प्रजाति के 6 बघेरा (लेपर्ड) भी हैं। बडी संख्या में छोटे वन्यजीव भी इस क्षेत्र में विचरण कर रहे हैं।

(Visited 359 times, 1 visits today)

Check Also

PHF Leasing Ltd. announces hiring of over 200 people

Openings will be across 10 states and Union Territories of Operations  Newswave @ Jallandhar PHF …

error: Content is protected !!