Saturday, 13 April, 2024

एलन को लंदन में मिला ‘भारत गौरव’ लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड 

प्राइड आॅफ इंडिया : विभिन्न क्षेत्रों में दुनिया की शीर्ष 27 हस्तियों की सूची में एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के संस्थापक निदेशक श्री राजेश माहेश्वरी को मिला इंटरनेशनल अवार्ड 

न्यूजवेव लंदन/कोटा

ब्रिटिश संसद के हाउस आॅफ काॅमन्स में 13 अप्रैल को हुए अंतरराष्ट्रीय समारोह में एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड ‘भारत गौरव’ (प्राइड आॅफ इंडिया) से सम्मानित किया गया।

यह प्रतिष्ठित इंटरनेशनल अवार्ड एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के संस्थापक निदेशक श्री राजेश माहेश्वरी द्वारा भारतीय एजुकेशन सिस्टम में एक्सीलेंस, इनोवेशन के साथ शिक्षा जगत में महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रदान किया गया।

इससे पहले शैक्षणिक वर्ष में सर्वश्रेष्ठ अकादमिक सिस्टम एवं पर्सनल कॅअरिंग सहित किसी एक संस्थान में सर्वाधिक क्लासरूम स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए लिम्का बुक आॅफ वर्ल्ड रिकाॅर्ड भी एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के नाम दर्ज है।

एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट श्री सी.आर.चौधरी एवं श्री पंकज बिरला ने 13 अप्रैल को लंदन में भव्य समारोह में निदेशक श्री राजेश माहेश्वरी की ओर से यह अवार्ड ग्रहण किया।

समारोह में  विभिन्न देशों में अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रहे 27 भारतीय लीडर्स को ‘भारत गौरव’ अवार्ड से सम्मानित किया गया। सम्मान पत्र में कहा गया कि 30 वर्ष पूर्व शिक्षक राजेश माहेश्वरी ने भारत में 4 विद्यार्थियों से एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट की स्थापना की। उसके बाद अनवरत देश के एजुकेशन सिस्टम में एक्सीलेंस व नवाचार से देश का गौरव बढ़ाया है।

सम्मान एलन के प्रत्येक सदस्य को समर्पित

दुनिया के शिक्षा जगत में अतुल्य पहचान बनाने वाले निदेशक श्री राजेश माहेश्वरी ने कहा कि एलन संस्थान को इस अंतराराष्ट्रीय अवार्ड से सम्मानित किये जाने पर हमें गर्व है। यह सम्मान एलन संस्थान के प्रत्येक सदस्य को समर्पित करता हूं,  जो भारतीय शिक्षा मूल्यों को आगे बढ़ाने के लिए निरंतर कड़ी मेहनत कर रहे हैं

उन्होने कहा कि हमारी प्रतिज्ञा है कि देश की युवा पीढ़ी को सर्वश्रेष्ठ शिक्षा एवं संस्कार देते हुए जीवन में अच्छे इंसान बनने के लिए तैयार करें। देश के सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराना हमारे विजन में धर्म की तरह समाहित है।

उन्होंने कहा कि एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट का लक्ष्य है- सबसे के लिए सुलभ व सर्वश्रेष्ठ शिक्षा। शिक्षा केवल धनार्जन करने का साधन नहीं है। यह बच्चों को अलग-अलग क्षेत्रों में अच्छे इंसान बनाने का संकल्प है।

‘ग्लोरी आॅफ इंडिया’

लंदन स्थित एनजीओ ‘संस्कृति युवा संस्था’ के प्रेसीडेंट सुरेश मिश्रा ने कहा कि प्रतिवर्ष ये अवार्ड दुनिया में ‘ग्लोरी आॅफ इंडिया’ को दर्शाते हैं। देश में कई ऐसे प्रेरक लीडर्स हैं, जिनके ‘पाॅवर आॅफ विजन’ से विभिन्न क्षेत्रों में देश की संस्कृति को ग्लोबल पहचान मिली है।

‘भारत गौरव’ अवार्ड चयन समिति के सचिव डाॅ. दिवाकर शुक्ला ने बताया कि इस वर्ष ‘भारत गौरव’ अवार्ड के लिए दुनियाभर से ऐसे 27 भारतीय शख्स चुने गए जो अपने प्रोफेशन में लैंडमार्क बनकर उभरे हैं और समूचे विश्व में भारतीय संस्कृति का गौरव बढ़ा रहे हैं।

(Visited 249 times, 1 visits today)

Check Also

सबके राम: मुस्लिम भी कर रहे हैं उत्सव की तैयारी

राम मंदिर : 22 जनवरी को अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा न्यूजवेव @जयपुर राममंदिर में प्राण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!