Saturday, 4 December, 2021

RTU में इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन कम्युनिकेशन एंड इंटेलिजेंट सिस्टम शुरू

ICCIS-2020: इंटरनेशनल कांफ्रेंस में 40 से ज्यादा देशों से करीब 400 शोध पत्र 

न्यूजवेव@कोटा
राजस्थान तकनीकी विश्विद्यालय कोटा द्वारा दो दिवसीय द्वितीय इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन कम्युनिकेशन एंड इंटेलीजेंट सिस्टम ( ICCIS-2020) का आरंभ वर्चुअल मोड में हुआ।इस कांफ्रेंस का राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी कोटा, ग्लोबल इंस्टीटूट ऑफ टेक्नोलॉजी, जयपुर, बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ अप्लाइड साइंस उत्तराखंड और सॉफ्ट कंप्यूटिंग रिसर्च सोसायटी के तत्वाधान में किया जा रहा है।


कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी कोटा के कुलपति प्रो. आर ए गुप्ता ने आज के दौर में कम्युनिकेशन और इंटेलिजेंट सिस्टम पर जोर दिया और बताया कि आने वाला समय कम्युनिकेशन सिस्टम के साथ-साथ इंटेलिजेंस पर भी निर्भर करेगा। साथ ही विश्विद्यालय द्वारा किये जा रहे प्रयासों के बारे में बताया। उन्होंने युवा शक्ति को शोध से जोड़ने का आव्हान किया और अधिक से अधिक पेटेंट्स प्रकाशित करने के लिए प्रेरित किया। कुलपति ने कहा कि करीब 40 से ज्यादा देशों से करीब 400 शोध पत्र इस कांफ्रेंस में आये है जो अभूतपूर्व उपलब्धि है, साथ ही इस तरह आयोजनों को और बढ़ावा देने की आवश्यकता बताई।
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि मेडिकल एजुकेशन डिपार्टमेंट ऑफ राजस्थान के सचिव IAS श्री वैभव गलेरिया ने आयोजन समिति को धन्यवाद दिया और अपनी उपस्थिति से सभी पार्टिसिपेंट का मनोबल बढ़ाया। ग्लोबल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी जयपुर के CEO नमन कंदोई ने इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस के आयोजन पर कंप्यूटर के क्षेत्र में नई रिसर्च और टेक्नोलॉजी पर अपने विचार व्यक्त किए। सॉफ्ट कंप्यूटिंग रिसर्च सोसायटी के सेक्रेटरी प्रोफेसर जेसी बंसल ने SCRS सोसाइटी के कार्यक्रम उद्देश्य और उपलब्धता के बारे में सभी से अपने विचार साझा किए।

आरटीयू के TEQIP कोऑर्डिनेटर प्रोफेसर धीरेंद्र माथुर ने TEQIP-III के अंतर्गत हो रही विभिन्न गतिविधियों के बारे में बताया। इंटरनेशनल कांफ्रेंस के जनरल चेयर प्रोफेसर आई सी शर्मा ने बताया कि इस इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस में 40 से अधिक देशों से करीब 400 से ज्यादा रिसर्च पेपर प्राप्त हुए। जिसमें से 81 शोध पत्र पढ़े जाएंगे जिनके लिए पैनल में 20 सेशन आयोजित किए गए हैं और बाद में इन सभी पेपर्स को प्रतिष्ठित स्प्रिंगर जनरल में प्रकाशित किया जाएगा। अंत में ग्लोबल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से प्रोफेसर सायर सिंह शेखावत ने सभी वक्ताओं का धन्यवाद दिया और आशा कि यह इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस आज के दौर में नई टेक्नोलॉजी पर एक अच्छा संवाद प्रस्तुत करेगी। कार्यक्रम का संचालन डॉ हरीश शर्मा किया।

(Visited 210 times, 1 visits today)

Check Also

जेईई-एडवांस्ड,2021 में जयपुर के मृदुल बने ऑल इंडिया टॉपर

रिजल्टः  कुल 1,41,688 लाख परीक्षार्थियों में से 41,862 हुये चयनित, रिजल्ट 29.54 प्रतिशत रहा न्यूजवेव …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: