Monday, 27 June, 2022

‘टूरिज्म मैनेजमेंट एंड मार्केटिंग’ पर विश्वकोष में कोटा से दो प्रविष्टि

यूके में दुनिया के 80 देशों के 1500 विद्वानों द्वारा इनसाइक्लोपीडिया के लिये 1250 प्रविष्टियां प्रस्तुत की गई
न्यूजवेव कोटा
उच्च शिक्षा में देश-दुनिया में अलग पहचान रखने वाले कोटा शहर के विद्यार्थी भारत को विश्वस्तरीय सम्मान दिला रहे हैं। हाल ही में कोटा यूनिवर्सिटी में कॉमर्स एंड मैनेजमेंट विभाग की हेड एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अनुकृति शर्मा एवं गेस्ट फैकल्टी डॉ. श्रुति अरोरा ने पर्यटन प्रबंधन और विपणन इनसाइक्लोपीडिया में दो शब्दावली प्रस्तुत कर राजस्थान का गौरव बढ़ाया है।

प्रो. दिमित्रियोस बुहलिस

यूनाइटेड किंगडम की यूनिवर्सिटी में प्रो. दिमित्रोस बुहालीस द्वारा ‘टूरिज्म मैनेजमेंट एंड मार्केटिंग’ पर प्रकशित इनसाइक्लोपीडिया में कोटा की डॉ. अनुकृति शर्मा एवं श्रुति अरोरा की एक टर्म जो कि ‘‘फूड वॉक टूरिज्म‘‘ पर आधारित है को भी प्रकाशित किया गया है। इस इनसाइक्लोपीडिया में 80 देशों से 1250 प्रविष्टियां हैं, जिसमें 1500 विद्वानों की टर्म है। विश्व्यापी इनसाइक्लोपीडिया में भारतीय शिक्षाविदों को स्थान मिलना गौरवपूर्ण उपलब्धि है। ‘टूरिज्म मैनेजमेंट एंड मार्केटिंग’ विश्वकोश को एडवर्ड एल्गर पब्लिशिंग यूके द्वारा प्रकाशित किया गया है। इसके एडिटर इन चीफ प्रोफेसर दिमित्रियोस बुहलिस हैं।

डॉ. अनुकृति शर्मा

कोटा विश्वविद्यालय की डॉ. अनुकृति शर्मा ने गेस्ट फैकल्टी डॉ श्रुति अरोड़ा और बोर्न माउथ यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल, यूके से प्रो. दिमित्रियोस बुहलिस के साथ फूड वॉक टूरिज्म. पर एक शब्दावली का मसौदा तैयार किया। दूसरी शब्दावली मोनिका पिपलानी और डॉ अनुकृति शर्मा द्वारा इंटेलिजेंट सिस्टम पर तैयार किया गया।

डॉ श्रुति अरोड़ा
मोनिका पिपलानी

कोटा फूड वॉक टूर

फूड वॉक टूर शब्दावली में कोटा शहर के फूड वॉक और स्ट्रीट फूड को आधार बनाया है। लेखकों ने कोटा फूड वॉक टूर के साथ-साथ ऐसे फूड वॉकिंग के उदाहरण दिये हैं जो इटली, वालेंसिया, स्पेन, कोपेनहेगन, डेनमार्क, सिंगापुर से संबंधित हैं। उनका कहना है कि हम पुराने जैतून के तेल के बागान, घर की बनी ब्रेड और चीज, पाक कला पर्यटन के माध्यम से स्थानीय उत्पादों को एक्सप्लोर कर सकते हैं। पर्यटकों को होरचट्टा (टाइगर नट्स से बना पेय) सेवन करनेे के लिए प्रोत्साहित करें। घर का बना पनीर और जैतून, वाइन, चॉकलेट और स्पेनिश नौगट, सॉस से हॉटडॉग ,स्ट्रीट किचन, स्थानीय पेय, लक्सा (मसालेदार सूप), होक्किएन मी (नूडल्स) और तेह तारीका (गाढ़े दूध से बनी चाय) फूड वॉकिंग टूर का रोमांच है। अध्ययन में लेखकों ने ‘रेस्तरां होपिंग‘ के तहत एक श्रृंखला में शहर में एक स्थान को भी चुना।

भारत में खाद्य पर्यटन को बढावा
डॉ. अनुकृति शर्मा ने बताया कि देश में डिजाइनिंग और को-क्रिएटिंग पर ज्यादा जोर दिया जाना चाहिए। विशेष स्थानीय खाद्य पर्यटन अनुभव, और सोशल मीडिया पर उनका प्रचार करना, अभिनव खाद्य आयोजनों का विस्तार और एक्टिविटी भारत में खाद्य पर्यटन को बढावा देगी। फूड वॉकिंग टूर आमतौर पर भोजन प्रेमियों द्वारा पेश किए जाते हैं या एक छोटे से निर्देशित दौरे के रूप में खाद्य पेशेवर के माध्यम से .फूड वॉकिंग टूर्स का उदय फूड टेस्टिंग जैसे नए उत्पाद बनाने का शानदार अवसर है। इस बारे में वर्कशॉप, कूकिंग क्लासेस और अन्य खाद्य पर्यटन सबंधी जानकारियां दी जानी चाहिये।

(Visited 127 times, 1 visits today)

Check Also

खनन विभाग के कोटा वृत में बेशकीमती खनिजों के भण्डार

राजस्थान के कोटा वृत में करौली के पास पोटाश व दौसा में कॉपर एवं गोल्ड …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: