Monday, 22 April, 2024

ये हैं ‘रारामुरी’ जिनके कदम कभी रूकते नहीं..

वायब्रेंट चम्बल चैलेंज-2019 : अल्ट्रा मैराथन में सरहद पार जिन्होंने तिरंगा फहराया 

न्यूजवेव कोटा
कोटा में पहली बार हो रही नेशनल अल्ट्रा मैराथन ‘वायब्रेंट चम्बल चैलेंज-2019’ में भाग लेने के लिए विभिन्न राज्यों से देश के प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय एथलीट 500 रनर्स के साथ दौडेंगे।

आयोजक इनशेप रनर क्लब के निदेशक अजय सेठी ने बताया कि हाडौती में इको टूरिज्म विकसित करने के उद्देश्य से यह मैराथन नया इतिहास रचेगी। मैराथन के धावक चंबल की वादियों के बीच कोटा से रावतभाटा तक 10 घंटे की दौड में हैंगिंग ब्रिज, गरडिया महादेव, बोराबांस के सघन जंगलों से होते हुए जवाहर सागर डेम व राणाप्रताप सागर डेम तक पहुंचेंगे। हाडौती के प्राकृतिक सौंदर्य के बीच 63 किमी लंबी यह मैराथन नववर्ष में हर इंसान को खुद को चुनौती देना सिखाएगी। प्रत्येक रनर जो नहीं कर सकते, उसे करने के लिए वे दौडेंगे।

वर्ल्ड चैम्पियनशिप में इंजीनियर संदीप कुमार की धाक

सूरत के इंजीनियर संदीप कुमार ऐसे अंतरराष्ट्रीय एथलीट हैं, जिन्होंने कोरिया, दक्षिण अफ्रीका व चीन में वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। 2018 में दक्षिण अफ्रीका में कॉमरेड अल्ट्रा मैराथन में 90 किमी दौडने वाले सबसे तेज भारतीय हैं। इस वर्ष होने वाली बॉस्टन मैराथन, यूएसए में क्वालिफाई कर चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कोच व मोटिवेटर संदीप को सम्मानित किया है।

सेना के जांबाज नायक लालू लाल मीणा


सवाईमाधोपुर के रहने वाल अल्ट्रा रनर जांबाज नायक लालू लाल मीणा इन दिनों भारतीय सेना में जबलपुर सेवाएं दे रहे हैं। वे ऐसे अंतरराष्ट्रीय एथलीट हैं, जिन्होंने 1 व 2 दिसंबर,2018 को ताइवान में हुई एशिया व ओसेनिया चैम्पियनशिप में देश के लिए कांस्य पदक जीता। 100 किमी वर्ल्ड चैम्पियनशिप, 111 किमी उंची ला अल्ट्रा, 220 किमी की हैन्नुर बम्बू अल्ट्रा रेस, रन फॉर रन में 161 किमी मैराथन के अतिरिक्त नईदिल्ली में 24 घंटे दौड़ने का कीर्तिमान बनाया। गोवा, बैंगलुरू, मुंबई व मुन्नार में 72 किमी की मैराथन में उन्होंने अपने जुनून का जलवा साबित कर दिखाया।

दुनियाभर में छाए आईईएस सत्यनारायण

कोटा के आईआईटीयन व आईइएस-2000 बैच के अफसर सत्यनारायण (सत्या सर) रेलवे मंत्रालय, दिल्ली में निदेशक हैं। इन्होंने चीन में हुई 20वीं वर्ल्ड मास्टर्स एथेलेटिक्स चैम्पियनशिप,2017 में 5 हजार व 10 हजार मीटर मैराथन में देश का प्रतिनिधित्व किया। स्पेन में हुई वर्ल्ड मास्टर्स एथेलेटिक्स चैम्पियनशिप,2018 में क्वालिफाई किया। इस वर्ष न्यूयार्क में हो रही इंटरनेशनल हाफ मैराथन में वे भाग ले रहे हैं। साथ ही, बोस्टन, यूएसए में हो रही 42.195 किमी की इंटरनेशनल फुल मैराथन में वे भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।

कंसलटेंट विनोद प्रधान रनिंग कोच भी

गुरूग्राम के रनर विनोद प्रधान (विन) 9 वर्ष पेन इंडिया प्रा.लि. में कंसलटेंट व लॉग क्वालिटी एनालिस्ट रहे। इस समय वे कल्ट के रनिंग कोच हैं। मैराथन व साइक्लिंग इवेंट में उनकी गहरी रूचि है। वे देशभर में अल्ट्रा रनिंग ग्रुप ‘द सनचेसर्स’ का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने गत 3 वर्षों में 20 से अधिक मैराथन दौड़ में भाग लेकर नये कीर्तिमान बनाए हैं।

वायब्रेंट चम्बल चैलेंज में ऐसे अन्य कई रनर्स होंगे, जिन्होंने अंतराराष्ट्रीय मैराथन के मैदान में चुनौतियां का सामने करते हुए भारतीय तिरंगा फहराया है।

(Visited 290 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा में रेलवे तत्काल टिकट की दलाली करते दो आरक्षण बाबू गिरफ्तार

मुंबई भेजते थे टिकटो को, RPF की बड़ी कार्रवाई न्यूजवेव @ कोटा आरपीएफ खुफिया अपराध …

error: Content is protected !!