Tuesday, 23 April, 2024

वर्ल्ड अल्ट्रा रनिंग सर्किट में शामिल हो सकता है कोटा – कायरन डिसूजा

वाइब्रेंट चम्बल चैलेंज :

  • अल्ट्रा मैराथन के विजेताओं को जिला कलक्टर ने किया सम्मानित
  • 33,50,63 किमी और 50 किमी कॉर्पोरेट रिले में अव्वल रनर्स को ट्रॉफी से नवाज

न्यूजवेव कोटा
इनशेप रनर्स क्लब, कोटा द्वारा आयोजित वाइब्रेंट चम्बल चौलेंज अल्ट्रा मैराथन-2019 के विजेताओं को जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल ने प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। नयापुरा स्थित सुखधाम कोठी में हुए सम्मान समारोह में जिला कलेक्टर ने कहा कि इस दौड़ से खेल जगत में राष्ट्रीय स्तर पर कोटा को एक पहचान मिली है। इससे स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता एवं इको ट्यूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा।

अन्तरराष्ट्रीय धावक एवं वाइब्रेंट चम्बल चैैलेंज के रेस एम्बेसडर कायरन डिसूजा ने कहा कि इस अल्ट्रा मैराथन दौड़ से कोटा का नाम वर्ल्ड अल्ट्रा रनिंग सर्किट में शामिल हो सकता है। वाइब्रेंट एकेडमी के डायरेक्टर पंकज जोशी ने जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल एवं अन्तरराष्ट्रीय धावक कायरन डिसूजा का स्वागत किया।

लेफ्टिनेंट कर्नल स्वरूपसिंह कुंतल प्रथम विजेता

इनशेप रनर क्लब के डायरेक्टर अजय सेठी ने बताया कि कोटा से रावतभाटा तक 63 किमी की इस मैराथन में हर वर्ग के धावकों ने जज्बा दिखाया। मथुरा के लेफ्टिनेंट कर्नल स्वरूपसिंह कुंतल 5 घंटे 39 मिनट में 63 किमी की अल्ट्रा मैराथन दौड़ पूरी कर प्रथम विजेता रहे। बुलंदशहर के बादल टेओटिया ने 6 घंटे 2 मिनट में दूसरे एवं जयपुर के सुमित अग्रवाल 6 घंटे 11 मिनट में दौड़ पूरी कर तीसरे विजता बने।

चम्बल रारामुरी ,महाराणा व राणा सम्मान


चम्बल रारामुरी फिमेल वर्ग में 63 किमी अल्ट्रा मैराथन में दिल्ली की सुषमा शर्मा प्रथम रही। सुषमा ने 7 घंटे 29 मिनट में अल्ट्रामैराथन पूरी की। द्वितीय स्थान पर गागरोन की अंचल सहगल ने 7 घंटे 40 मिनट एवं कोटा की युवा धावक दीपा यादव ने 7 घंटे 51 मिनट में दौड़ पूरी कर तीसरा स्थान प्राप्त किया।
50 किमी की चम्बल महाराणा पुरूष़ में धोलाराम गुर्जर ने 3 घंटे 44 मिनट में दौड़ पूरी कर प्रथम स्थान पर रहे। इंदौर के पंकज परदेसी ने 4.42 घंटे में द्वितीय स्थान एवं कोटा के धावक शक्ति सिंह हाड़ा ने 5.14 मिनट में तृतीय स्थान प्राप्त किया।

वहीं, 50 किलोमीटर की चम्बल महाराणा फीमेल में गुडगांव की गुरलीन अरोड़ा ने 6 घंटे 6 मिनट और 5 सैकंड में दौड़ पूरी कर प्रथम स्थान पाया। वहीं कोटा की महिला धावक अश्वीन मक्करह 7 घंटे 24 मिनट में द्वितीय एवं कोटा की रेखा चौरसिया 7 घंटे 37 मिनट में तृतीय स्थान पर रही।
इसी तरह 33 किमी चम्बल राणा मेल में कोटा के अंकुश वर्मा ने 2 घंटे 34 मिनट 26 सैकंड में दौड़ पूरी कर प्रथम स्थान प्राप्त किया। वहीं गुडगांव के हेमन्त सिंह बेनीवाल ने दो घंटे 41 मिनट में द्वितीय स्थान व दिल्ली के सुरेश चन्द्र मीणा ने 3 घंटे 5 मिनट में तृतीय स्थान पर रहे।
33 किलोमीटर चम्बल राना फिमेल में कोटा की पूजा नागर 3 घंटे 19 मिनट में प्रथम, दिल्ली की डॉ. बबीता कटारिया 4 घंटे 19 मिनट में एवं जयपुर की सुमिता राठी 4 घंटे 24 मिनट में दौड़ पूरी कर तीसरा स्थान पर रहीं।

अन्तरराष्ट्रीय एथेलीट चम्बल एम्बेसेडर लालूलाल मीणा 63 किमी पुरूष वर्ग में, संदीप कुमार ने 33, डॉ. गरिमा वेद ने 50 किमी महिला वर्ग में, संदीप कुमार ने 33 किमी पुरूष वर्ग में फास्टेस्ट समय निकाला।
सम्मान समारोह में विश्वविख्यात अल्ट्रा रनर कायरन डिसूजा भी पहुंचे। शुरुआत एक वीडियो एवं एलईडी से की गई, जिसमें दिनभर चली अनूठी दौड़ की झलकियां दिखाई गई। वाइब्रेंट चम्बल चैलेंज के कुशल संचालन के लिए इवेंट कॉर्डिनेटर अविनाश बेदी को विशेष सम्मान नवाजा गया। इनशेप रनर्स क्लब के प्रेसीडेंट पंकज सेठी ने सभी प्रतिभागियों और गणमान्य लोगों को आभार जताया।

(Visited 302 times, 1 visits today)

Check Also

PHF Leasing Ltd. announces hiring of over 200 people

Openings will be across 10 states and Union Territories of Operations  Newswave @ Jallandhar PHF …

error: Content is protected !!