Saturday, 15 May, 2021

कॅरिअर पाँइंट यूनिवर्सिटी में 104 रिसर्च पेपर प्रस्तुत

दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वर्चुअल सेमिनार में कई देशों के शोधार्थी शामिल हुये
न्यूजवेव @ कोटा
आज कोविड-19 वैश्विक महामारी में वायरस से जुडी समस्याओं पर निरंतर अनुसंधान चल रहे हैं। यही अनुसंधान समस्या के समाधान की ओर ले जाते हैं। यह कहना है इराक के प्रसिद्ध वैज्ञानिक प्रोफेसर अहमद जे ओबेद का। प्रोफसर अहमद जे ओबेद कॅरिअर पॉइंट विश्वविद्यालय में आयोजित दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सेमीनार मे मुख्य वक्ता के रूप में बोल रहे थे।


सेमीनार में कंप्यूटर साइंस विशेषज्ञ एवं नामीबीया यूनिवर्सिटी के प्रोफसर धरम सिंह ने विशेष व्याख्यान दिया। प्रोफेसर सिंह ने कोविड सेनीटाइजेशन से संबंधित अपने प्रयोगो को शोद्यार्थियों के साथ साझा किया। उन्होंने बताया कि इंडस्ट्री 4.0 के द्वारा किस प्रकार कोविड और अन्य समस्याओं से सफलतापूर्वक निपटा जा सकता हैं।
विश्वविद्यालय के कुलाधिपति प्रमोद माहेश्वरी ने यूनिवर्सिटी में किये जा रहे नवाचार एवं विभिन्न क्षेत्रों में नये अनुसंधान संबंधी कार्यो की जानकरी दी। उन्होंने बताया कि सीपीयू के शोधार्थी हाड़ौती क्षेत्र के विकास में अहम भूमिका निभा रहे हैं।
दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय वर्चुअल सेमिनार मे पांच तकनीकी सेशन आयाजित किये गये। प्रत्येक तकनीकी सेशन को प्रसिद्ध वैज्ञानिको एवं अकादमिक विशेषज्ञो ने संचालित किया। सेमीनार में कुल 104 रिसर्च पेपर प्रस्तुत किए गए। जिनमें से भारत सहित इंग्लैंड, दुबई, नाईजीरिया एवं नामीबीया आदि देशो के शोधार्थियों ने भाग लिया।
सेमीनार के अंतिम सत्र मे प्रस्तुत रिसर्च पेपर्स से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों एवं सूचनाओं का विवेचन किया गया। सेमीनार में प्रस्तुत सूचनाओं एव जानकारियों का गहन मंथन किया जाएगा एवं इसकी रिपोर्ट उच्च स्तरीय विभाग को आवश्यक सूचना एवं कार्यवाही के लिये भेजा जाएगा। सेमिनार के अंतिम सत्र में सीपीय कुलपति डॉ.गुरूदत्त कक्कड, आयोजन सचिव डॉ.अदिती गौड, कन्वीनर डॉ. सुरभि एवं संयुक्त सचिव डॉ.आशुतोष आदि उपस्थित रहे।

(Visited 43 times, 1 visits today)

Check Also

प्रो. विनय पाठक छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटी, कानपुर के नये कुलपति

न्यूजवेव @लखनऊ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल एवं कुलाधिपति आनंदी बेन पटेल ने गुरूवार को आदेश …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: