Friday, 19 July, 2024

प्रमोद माहेश्वरी सर के फिजिक्स विडियो लेक्चर्स निःशुल्क जारी

जेईई-मेन, जेईई-एडवांस्ड एवं नीट-यूजी विद्यार्थियों के लिये फिजिक्स की तैयारी हुई आसान
न्यूजवेव @कोटा

कॅरिअर पॉइंट संस्थान ने देश के लाखों विद्यार्थियों को जेईई-मेन, जेईई-एडवांस्ड एवं नीट-यूजी की प्रभावी तैयारी करने के लिये फिजिक्स के निःशुल्क विडियो लेक्चर्स गुरूवार को जारी कर दिये। संस्थान के प्रबंध निदेशक प्रमोद माहेश्वरी ने पत्रकारों को बताया कि संस्थान द्वारा प्रारंभ राइट-टू-कोचिंग (Right to Coaching) अभियान के तहत देश में प्रत्येक आय वर्ग के विद्यार्थी को निःशुल्क क्वालिटी कोचिंग मुहैया कराने के उद्देश्य से उनके द्वारा तैयार फिजिक्स के 130 से अधिक विडियो लेक्चर्स ‘फिजिक्स मास्टरी’ (Physics Mastery) नाम से रिलीज किये गये हैं।

उन्होंने बताया कि ये निःशुल्क क्वालिटी विडियो लेक्चर कॅरिअर पॉइंट की वेबसाइट पर कोई भी विद्यार्थी घर बैठे सुनकर प्रवेश परीक्षा के लिये अपनी स्मार्ट तैयारी कर सकता है। 90 मिनट के सभी लेक्चर हिंदी व अंग्रेजी दोनों माध्यम वालों के लिये उपयोगी हैं। एक सवाल के जवाब में माहेश्वरी ने कहा कि नये पेपर पैटर्न में भी इन विडियो लेक्चर से फिजिक्स की प्रभावी तैयारी होगी, क्योंकि इसमें प्रत्येक टॉपिक के कंसेप्ट को बेसिक से एडवांस लेवल तक गहराई तक से समझाया गया है।


खास बात यह है कि आईआईटीयन गुरू प्रमोद माहेश्वरी कोटा में 1990 के दशक से फिजिक्स पढाते हुये हजारों विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस में शीर्ष रैंक से सफलता दिला चुके हैं। कोटा कोचिंग के कई शिक्षक उनके विडियो लेक्चर सुनकर ही विद्यार्थियों को फिजिक्स पढ़ा रहे हैं। अब ये निःशुल्क विडियो लेक्चर उपलब्ध हो जाने से गरीब वर्ग के हजारों विद्यार्थियों को महंगी कोचिंग के तनाव से मुक्ति मिलेगी।
माहेश्वरी ने कहा कि कोचिंग विद्यार्थियों में फिजिक्स को लेकर हमेशा डर बना रहता है, जबकि विडियो लेक्चर से प्रत्येक टॉपिक के कंसेप्ट समझ में आ जाने पर यह डर आसानी से दूर हो जाता है। एनटीए ने कुछ वर्षों से विद्यार्थी हित में फिजिक्स के पेपर को निरंतर आसान कर दिया है। कोचिंग शिक्षकों ने कोचिंग विद्यार्थियों के लिये इसे अतुलनीय बताया है।
हार के डर से बाहर निकलो
उन्होंने कोचिंग विद्यार्थियों से कहा कि प्रवेश परीक्षाओं की प्रतिस्पर्धा एक माइंड गेम की तरह है। खुद पर विश्वास करके जो पढ़ना है, उसे निरंतर पढ़ते रहो। अपना शैड्यूल बनाकर अनुशासन व समर्पण के साथ मेहनत करें तो सफलता आपके कदम चूमेगी। हार के डर से खुद को बाहर निकालें और खुद की ताकत पर भरोसा रखें।
75 प्रतिशत अंकों की अनिवर्यता गलत
एक सवाल के जवाइ में प्रमोद माहेश्वरी ने कहा कि आईआईटी या एनआईटी में प्रवेश के लिये 12वीं बोर्ड में 75 प्रतिशत अंक व टॉप-20 परसेंटाइल जैसी पात्रता रखना अनुचित है। प्रवेश परीक्षायें कमजोर व मेधावी दोनो तरह के विद्यार्थियों के लिये एक समान होनी चाहिये। दोनों को समान अवसर मिलें। इस वर्ष 12वीं बोर्ड परीक्षा आवेदन की तिथी निकल जाने से हजारों विद्यार्थियों को इम्प्रूवमेंट का अवसर नहीं मिलेगा, ऐसे में विद्यार्थी हित में यह पात्रता हटानी चाहिये।

(Visited 394 times, 1 visits today)

Check Also

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के पास मोबाइल मिले तो खैर नहीं

शिक्षा मंत्री के ओएसडी सतीश गुप्ता ने जयपुर में किया विभिन्न स्कूलों का औचक निरीक्षण …

error: Content is protected !!