Monday, 20 May, 2024

टूरिज्म मानचित्र पर कोटा को मिली विश्वस्तरीय पहचान

चम्बल हैरिटेज रिवर फ्रंट का भव्य लोकार्पण, जगमग उठा कोटा शहर
न्यूजवेव@कोटा 

कोटा शहर में 1442 करोड़ रुपये से विकसित देश के पहले हैरिटेज रिवर फ्रंट का लोकार्पण विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने नगरीय विकास मंत्री शांति धारीवाल की उपस्थिति में किया। राज्य सरकार के कई मंत्रियों सहित विभिन्न बोर्ड-निगम-आयोग अध्यक्ष एवं विशिष्ट लोग इस ऐतिहासिक पल के गवाह बने। कोटा बैराज से नयापुरा पुलिया तक 2.75 किमी क्षेत्र में विकसित 27 आकर्षक घाटों का अवलोकन कर उनकी खूबियों को सराहा।


विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सी.पी. जोशी ने कहा जो भी पर्यटक कोटा आएंगे वे यहां की खूबसूरती आजीवन याद रखेंगे। शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने कहा कि चम्बल रिवर फ्रंट ने राज्य में विकास की नई इबारत लिखी है। पर्यटन की दृष्टि से यह मील का पत्थर साबित होगा।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादीलाल मीणा ने कहा कि कोटा में विकसित चम्बल रिवर फ्रंट ना केवल पर्यटन और कला की दृष्टि से महत्वपूर्ण है बल्कि राजस्थान की गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल भी है। कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने कहा कि वे चंबल रिवर फ्रंट के विभिन्न घाटों को देखकर अभिभूत हैं। जो भी देशी-विदेशी पर्यटक यहां आएंगे उनके जेहन में लंबे समय तक कोटा की यादें ताजा रहेंगी।


सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कहा कि राज्य विकास के पद पर निरंतर आगे बढ़ रहा है। चंबल रिवर फ्रंट देश-दुनिया के पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा। उद्योग मंत्री श्रीमती शकुंतला रावत ने कहा कि चंबल रिवर फ्रंट के बारे में जितना सुना था उससे कहीं बढ़कर पाया है। यहां पूरे विश्व की संस्कृति के दर्शन हो रहे हैं। महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती ममता भूपेश ने कहा कि वसुधैव कुटुम्बकम की कल्पना को साकार करता रिवर फ्रंट राजस्थान की लोक संस्कृति को प्रमुखता से दर्शाता है। राजस्थान पर्यटन सहित हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। इससे पर्यटन के साथ स्थानीय रोजगार के अवसर भी खुलेंगे।


राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने कहा कि कोचिंग सिटी के तौर पर पहचान रखने वाला कोटा अब चम्बल रिवर फ्रंट के लिए भी देश-दुनिया में जाना जाएगा। सार्वजनिक निर्माण मंत्री भजन लाल जाटव ने कहा कि चंबल रिवर फ्रंट का कार्य अद्भुत और अकल्पनीय है। यहां निर्मित हर एक घाट और हर एक इमारत आकर्षित करने वाली है। चंबल माता की विशालकाय मूर्ति विशेष रूप से आकर्षित करती है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि भविष्य में चंबल रिवर फ्रंट प्रमुख पर्यटन केन्द्र के रूप में उभरेगा। बड़ी संख्या में सैलानी हर साल यहां आएंगे जो यहां से खूबसूरत यादें लेकर जाएंगे।

इस अवसर पर राज्य मंत्रिपरिषद् के अन्य सदस्यों, विभिन्न बोर्ड-निगम-आयोग अध्यक्षों, विधायकों एवं अन्य विशिष्टजनों ने भी चम्बल रिवर फ्रंट को कला एवं पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण बताते हुए यहां हुए विकास कार्यों की सराहना की।

(Visited 932 times, 1 visits today)

Check Also

पुरस्कृत शिक्षकों का सम्मान आगे भी बना रहे- सतीश गुप्ता

पुरस्कृत शिक्षक फोरम कोटा इकाई की शैक्षिक संगोष्ठी संपन्न न्यूजवेव @कोटा राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर …

error: Content is protected !!