Tuesday, 23 July, 2024

IJSO में एलन स्टूडेंट्स ने भारत के लिए जीते 6 गोल्ड मेडल

न्यूजवेव @ कोटा

16वें इंटरनेशनल जूनियर साइंस ओलम्पियाड (IJSO) में भारतीय विद्यार्थियों ने 6 गोल्ड मेडल जीतने का कीर्तिमान बनाया है। इस ऐतिहासिक सफलता से भारत दुनिया के 55 देशों की सूची में अव्वल रहा है।

एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक नवीन माहेश्वरी ने बताया कि कतर की राजधानी दोहा में हुये इस ओलम्पियाड में भारत इकलौता देश है, जिसके सभी 6 स्टूडेंट्स ने गोल्ड मेडल जीते हैं और खास बात यह कि सभी स्टूडेंट्स एक ही संस्थान एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट से हैं। IJSO के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब एक ही देश के एक ही इंस्टीट्यूट के सभी 6 स्टूडेंट्स ने गोल्ड मेडल अर्जित किए हो।
इस वर्ष 16वें जूनियर साइंस ओलम्पियाड में 55 देशों के 322 स्टूडेंट्स शामिल हुए। भारतीय टीम में शामिल सभी छह स्टूडेंट्स ने 3 से 11 दिसम्बर तक दोहा में आयोजित फाइनल राउण्ड में आलराउंड प्रदर्शन किया और सबसे अधिक स्कोर करते हुए गोल्ड मेडल व ट्रॉफी हासिल की। श्रे

ष्ठता हासिल करने वाले 6 स्टूडेंट्स में अरनव आदित्य सिंह, अथर्व शिवराम महाजन, कृष्णा शर्मा, माहित राजेश गढ़ीवाला, मनप्रीत सिंह व प्रियांशु यादव शामिल हैं। ये सभी एलन के क्लासरूम स्टूडेंट्स हैं। इनमें से कृष्णा शर्मा ने बहुविकल्पीय प्रश्नों के पेपर में 100 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं, इसके साथ ही प्रायोगिक परीक्षा में बॉयोलॉजी में भी 100 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं।
इस टीम का निर्देशन मुंबई के प्रो.विनायक कठारे, प्रो.चित्रा जोशी तथा एचबीसीएसई से विक्रांत घनेकर ने किया। विद्यार्थियों की इस असाधारण उपलब्धि पर होमी भाभा सेंटर फॉर साइंस एजुकेशन द्वारा बधाई दी गई। IJSO के फाइनल राउंड में दो थ्योरी परीक्षाएं, जिसमें एमसीक्यू आधारित प्रश्न पूछे गये। इसके आलावा प्रेक्टिकल परीक्षा में टीम के सभी स्टूडेंट्स ने ग्रुप में प्रदर्शन किया। याद दिला दें कि इससे पहले 2018 में इंटरनेशनल फिजिक्स ओलिम्पियाड में सभी 5 भारतीय स्टूडेंट्स ने 5 गोल्ड मेडल जीतने का रिकॉर्ड बनाया था।

(Visited 685 times, 1 visits today)

Check Also

हॉस्टल्स से यूडी टैक्स की वसूली आवासीय श्रेणी में हो

जयपुर में विधायक संदीप शर्मा के साथ यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा से मिला प्रतिनिधिमंडल …

error: Content is protected !!