Tuesday, 23 July, 2024

राजस्थान में जागरूकता से ही कोरोना थमेगा – चिकित्सा मंत्री

  • राजस्थान में 6557 में से 6289 सैंपल नेगेटिव
  • पूरे राज्य में 108 हैं कोरोना पॉजिटिव
  • 19 लोगों को पॉजीटिव से किया नेगेटिव

न्यूजवेव @ जयपुर

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने कहा कि राजस्थान में अब तक 6557 सैंपल में से 6289 नेगेटिव आए हैं, जबकि 178 सैंपलों की जांच अभी प्रक्रिया में है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों की मेहनत से अब तक 19 पॉजिटिव मरीजों को नेगेटिव किया जा चुका है। लॉक डाउन के दौरान जनसहयोग से ही कोरोना को कम्यूनिटी में फैलने से रोका जा रहा है।
अब तक 108 पॉजीटिव
चिकित्सा मंत्री ने बताया कि राज्य में 1 अप्रैल दोपहर 3 बजे तक 15 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं। इनमें से 13 जयपुर से रामगंज के पॉजिटिव रोगियों के रिश्तेदार हैं, जबकि एक ईरान से इवेक्यूएट कराकर लाई महिला भी पॉजिटिव पाई गई है, जो आर्मी कैंप में क्वारेंटाइन में थी। एक 65 वर्षीय पुरुष जोधपुर के एमडीएम अस्पताल, जोधपुर में भर्ती हैं। इस तरह राज्य में कुल कोरोना पॉजीटिव की संख्या 108 है।
19 में से 15 को किया डिस्चार्ज
डॉ. शर्मा ने बताया कि 19 लोग अब तक नेगेटिव हो चुके हैं। उनमें से 15 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया है, जबकि 4 को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। उन्होंने बताया कि भीलवाड़ा मंे जहां अकेले 26 पॉजिटिव केस आए थे वहां चिकित्सकों की मेहनत से 13 पॉजिटिव से नेगेटिव में गये हैं। शेष 6 लोग प्रदेश के विभिन्न जिलों से हैं।
97 हजार क्वारेंटाइन बैड तैयार
चिकित्सा मंत्री ने बताया कि 1 लाख क्वारेंटाइन बैड के लक्ष्य के अनुसार अब तक 97 हजार बैड चिन्हित कर लिए गए हैं। आइसोलेशन के 18,182 बैड चिन्हित करके तैयार किये गये हैं। विभाग के पास फिलहाल पर्याप्त वेंटीलेटर्स हैं। 250 नयेे वेंटिलेटर्स खरीदने के ऑर्डर दिये जा चुके हैं। 10,020 पीपीई किट और 69,739 एन-95 मास्क उपलब्ध हैं। उन्होंने बताया कि बफर स्टाक में 3031 पीपीई किट, 36764 एन-95 मास्क भी विभाग के पास उपलब्ध हैं।
राज्य में 3.86 करोड़ की हुई स्क्रीनिंग
उन्होंने बताया कि चिकित्सा विभाग द्वारा 27 हजार लोगों की टीमें घर-घर जाकर एक्टिव सर्विलांस में लगी हुई हैं और घर-घर जाकर सर्वे और स्क्रीनिंग का काम कर रही है। टीम ने अब तक 92 लाख 9686 घरों का सर्वे कर 3 करोड़ 86 लाख 23 हजार लोगों का सर्वे कर उनकी स्क्रीनिंग कर चुके हैं। सर्वे और स्क्रीनिंग का काम निरंतर जारी है। राज्य में प्रत्येक व्यक्ति की व्यक्तिगत स्क्रीनिंग हो ताकि संदिग्ध केसेज की पहचान हो सके। उन्होंने कहा कि संदिग्ध लोगों के सैंपल लेकर उनकी जांच हो जाए ताकि कोरोना नहीं फैल सके।
पॉजिटिव के संपर्क में आए 2000 की ट्रेसिंग
डॉ. शर्मा ने बताया कि 108 कोरोना पॉजीटिव लोगों के संपर्क में आए 2000 से ज्यादा लोगों की ट्रेसिंग कर उनकी भी स्क्रीनिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में हालात चिंताजनक हैं लेकिन नियंत्रण में है। उन्होंने अपील की कि जितना हो सके सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं। लॉकडाउन में घरों से बाहर बिल्कुल ना निकलें। बार-बार साबुन से हाथ धोए एक अनुशासित नागरिक के रूप में आप सभी गाइडलाइन का पालन करेंगे तो कम्यूनिटी स्प्रेडिंग के खतरे को हम कम कर सकते हैं।

(Visited 209 times, 1 visits today)

Check Also

Govt take action against Spice export companies over ethylene oxide

India is one of the world’s largest producers and exporters of spices Hong Kong completely …

error: Content is protected !!