Monday, 22 April, 2024

बंपर हायरिंग के मूड में स्टार्टअप्स

न्यूजवेव @ नई दिल्ली
करीब दो साल की सुस्ती के बाद भारतीय स्टार्टअप्स ज्यादा हायरिंग  करने लगी हैं। उनमें से कई अगले सालभर में कर्मचारियों की संख्या दोगुनी करना चाहती हैं। फूड, ग्रॉसरी, डिजिटल पेमेंट, एजुकेशन, लॉजिस्टिक्स, फाइनैंशियल सर्विसेज, हेल्थकेयर सहित कई सेक्टरों की एक दर्जन स्टार्टअप्स ने 2019 में बड़ी संख्या में हायरिंग की योजना के बारे में बताया। उनका कहना है कि रेवेन्यू ग्रोथ, बिजनेस एक्सपैंशन और नया फंड हासिल होने जैसे कारणों से वे ज्यादा लोगों को भर्ती करना चाहती हैं।

रिविगो, मोबिक्विक, नेटमेड्स, जीरोधा, फार्मईजी, सात्विको, टॉपर, रेजरपेर, क्विकर जैसी कंपनियां बढ़ते बाजार को सेवाएं देने के लिए अपनी टीमों को मजबूत बना रही हैं।

करीब एक दर्जन स्टार्टअप्स में 7500-8000 पदों पर भर्तियां हो सकती हैं। इसके अलावा बिग बास्केट ने भी अगले फाइनैंशल ईयर में 10,000 लोगों को हायर करने की योजना बनाई है। इस तरह स्टार्टअप्स में इस साल करीब 18,000 लोगों को हायर किया जा सकता है।

बिग बास्केट में ह्यूमन रिसोर्सेज हेड टी.एन.हरि ने कहा, ‘वित्त वर्ष 2019 में सभी कंपनियां ज्यादा हायरिंग करेंगी और कंज्यूमर के वॉलिट का बड़ा हिस्सा पाने की कोशिश करेंगी।’ इस ऑनलाइन ग्रॉसरी रिटेलर ने अलीबाबा की अगुवाई में हुई सीरीज ई फंडिंग में 30 करोड़ डॉलर हासिल किए थे और मार्च 2019 तक यह अपने कर्मचारियों की संख्या बढ़ाकर 23000 कर लेगी। इस सेगमेंट में ऐमजॉन की एंट्री और फ्लिपकार्ट की आगामी योजनाओं को देखते हुए मुकाबला तेज होने की संभावना है।

इसका अर्थ यह होगा कि मैनेजर से लेकर निचले लेवल तक सभी स्तरों पर हायरिंग होगी क्योंकि यह कंपनी 12 महीनों में 6000 करोड़ रुपये के ऐनुअल रन रेट यानी फाइनैंशल ईयर 2019 में करीब एक अरब डॉलर खर्च करने के साथ ढाई गुनी ग्रोथ का लक्ष्य बनाकर चल रही है।

टेक एनेबल्ड लॉजिस्टिक्स कंपनी रिविगो ने हाल में वॉरबर्ग पिंकस और सैफ पार्टनर्स से 5 करोड़ डॉलर जुटाए हैं। उसकी योजना 2018 में विभिन्न पदों पर 2500 लोगों को हायर करने की है। इनमें 500 इंजिनियर होंगे। बाकी भर्तियां सेल्स और ऑपरेशंस से जुड़ी होंगी।

रिविगो की को-फाउेंडर गजल कालरा ने कहा, ‘इस साल हमारा बड़ा फोकस इंडिया की बेस्ट टेक्नॉलजी और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस टीम बनाने पर होगा। हम अपनी टेक्नॉलजी टीम्स के लिए इस साल दुनियाभर से 500 टॉप इंजिनियर हायर करने और आर्टिफिशल इंटेलिजेंस के लिए एक अलग टीम बनाने पर गौर कर रहे हैं।’
स्पेंसर स्टुअर्स में कंसल्टेंट सी के गुरुप्रसाद ने कहा, ‘स्टार्टअप्स फिर हायरिंग मोड में आ गई हैं, लेकिन इस पर वे असल कारोबारी जरूरतों के लिहाज से ऐसा कर रही हैं।’

डिजिटल पेमेंट स्टार्टअप मोबिक्विक इस साल 425 मेंबर्स की अपनी टीम का आकार 20 पर्सेंट बढ़ाना चाहती है, वहीं ऑनलाइन फार्मेसी नेटमेड्स इस वित्त वर्ष के अंत तक कर्मचारियों की संख्या दोगुनी कर करीब 550 करना चाहती है।

 

(Visited 187 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा में रेलवे तत्काल टिकट की दलाली करते दो आरक्षण बाबू गिरफ्तार

मुंबई भेजते थे टिकटो को, RPF की बड़ी कार्रवाई न्यूजवेव @ कोटा आरपीएफ खुफिया अपराध …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!