Sunday, 9 February, 2020
Home / Featured / नए सत्र से सेंट जोसेफ सी.सै. स्कूल में ई-लर्निंग कंसेप्ट से होगी पढ़ाई

नए सत्र से सेंट जोसेफ सी.सै. स्कूल में ई-लर्निंग कंसेप्ट से होगी पढ़ाई

नवाचार : लीड स्कूल के साथ हुआ करार। एलकेजी से 12वीं तक एडवांस तकनीक से शिक्षा देने वाला प्रथम स्कूल।

न्यूजवेव @ कोटा

एजुकेशन सिटी के सेंट जोसेफ सीनियर सेकंडरी स्कूल में नए शैक्षणिक सत्र से  बच्चों को प्रत्येक क्लासरूम में ई-लर्निंग कंसेप्ट से पढ़ाया जाएगा। रविवार को स्कूल में आयोजित ओरिएंटेशन समारोह में ग्रुप के चेयरमेन डॉ अजय शर्मा ने कहा कि आज बिट्स पिलानी, जेईई-मेन, एडवांस्ड सहित कई प्रवेश परीक्षाएं ऑनलाइन होने लगी है, जबकि बच्चे सीबीएसई एग्जाम तक ऑफलाइन दे रहे हैं।

Chairman Dr.Ajay Sharma

उन्होंने कहा कि आज अच्छे कालेज में बच्चे को बुक्स की जगह लेपटॉप दिए जाते हैं। इसी तरह, स्कूल लेवल पर भी स्किल बेस्ड लर्निंग देने के लिए अप्रेल,2020 से सेंट जेसेफ एजुकेशनल ग्रुप में लीड स्कूल के साथ मिलकर  एडवांस डिजिटल तकनीक से बच्चों को पढ़ाया जाएगा। इस इको सिस्टम में स्कूल के प्रत्येक क्लासरूम में एलसीडी टीवी, शिक्षकों के हाथ मे टेबलेट, पेरेंट्स एप आदि सुविधाएं प्रारम्भ की जाएगी, जिससे बच्चों की नींव मजबूत होगी।

हाल में मुम्बई में हुई वर्ल्ड एजुकेशन कॉन्फ्रेंस में भाग लेकर लौटे डॉ शर्मा ने कहा कि कई प्रमुख यूनिवर्सिटी में तीनों संकाय को मिलाकर नए डिग्री कोर्सेस शुरू किये जा रहे हैं।टेक्नोलाजी स्मार्ट फोन से एलेक्सा तक तेजी से बदल रही है, ऐसे में बच्चों को कोटा शहर में ही ऐसी एडवांस्ड लर्निंग दी जाएगी, जिसके लिए उन्हें मेट्रो शहरों में नही जाना पड़ेगा। इसके लिए डिजिटल क्लासरूम तैयार किये जा रहे है तथा टीचर्स को भी टेबलेट से पढ़ाने की ट्रेनिंग दी जाएगी।
देश के 800 स्कूलों में ई-लर्निंग शुरू

Himanshu Sharma

लीड स्कूल के प्रेसीडेंट हिमांशु शर्मा ने प्रजेंटेशन में बताया कि आज एक क्लास में पांच तरह के लर्नर होते हैं। हर बच्चे में नया सीखने की क्षमता है। 21वीं सदी के लिए बच्चों को मार्कशीट व डिग्री से बाहर निकालकर स्किल एजुकेशन दें। सिर्फ परीक्षा में पास होने से आज 80 फीसदी ग्रेजुएट बेरोजगार हैं। हम आडियो-विजुअल व एक्टिविटी के जरिये क्लास में बच्चे के लर्नर ग्रुप बनाएंगे। 15 दिन में उनका मूल्यांकन होगा। लर्निंग रूम में वे स्वत्रंत होकर रुचि से पढेंगे।

सिंगापुर लर्निंग मेथेडोलोजी पर आधारित ELGA कंसेप्ट

लीड स्कूल की एकेडमिक हेड अनन्या ने बताया कि बच्चों में इंग्लिश, साइंस व मैथ्स को इम्प्रूव करने के लिए सिंगापुर लर्निंग मेथेडोलोजी परआधारित इंग्लिश लेंग्वेज व जनरल अवेयरनेस (ELGA) कंसेप्ट से पढ़ाया जाएगा। इससे बच्चे इंग्लिश को सब्जेक्ट की तरह बोझ नही मानकर भाषा के रूप में बोलेंगें। जो उन्होंने क्लास में सीखा, उसे पेरेंट्स एप के जरिये अभिभावकों को बताएंगे। इससे बच्चों के स्तर में 60 से 70 प्रतिशत इम्प्रूवमेंट आएगा। इसमें बेहतर इंसान बनाने के लिये लाइफ स्किल व मोरल एजुकेशन को भी शामिल किया गया।
ओरिएंटेशन में सेंट जोसेफ एजुकेशनल ग्रुप के संरक्षक टी.एल. शर्मा ने कहा कि बच्चों को टेक्नोलॉजी की बेसिक लर्निंग बचपन से ही दी जाए, जिससे वे अपनी रुचि व दक्षता के अनुसार सही केरियर बना सकें। सीईओ नवीन कुमार ने अभिभावकों का आभार जताया। अभिभावकों ने स्कूल की इस पहल का स्वागत किया।

(Visited 1 times, 1 visits today)

Check Also

इंजीनियरिंग के लिये कॉमेड के व यूनी-गेज प्रवेश परीक्षा 10 मई को

देश की 32 प्राइवेट यूनिवर्सिटी के 190 शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेजों में 22 हजार बीटेक सीटों …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: