Tuesday, 23 April, 2024

3 वर्षीय बालक नाले में गिरा, युवती ने बचाई जान

कॉमर्स कॉलेज चौराहे के पास हुआ हादसा, गरीब बच्चे के सिर में टांके लगे

न्यूजवेव@ कोटा

शहर में एक युवती ने 3 वर्षीय गरीब बच्चे को नाले से निकालकर उसकी जान बचाने जैसा साहसिक कार्य कर दिखाया। गुरूवार शाम 6ः30 बजे झालावाड़ रोड़ पर कॉमर्स कॉलेज चौराहे के पास एक मजदूर महिला का मासूम बच्चा सड़क किनारे चल रहा थाए उसी दौरान पैर फिसलने से वह नाले में जा गिराए जिससे उसके सिर में चोंट लगी और लगातार खून बहने लगा।

उसी दौरान रास्ते से गुजर रही वायब्रेंट एकेडमी की अकादमिक काउसंलर मेघा चावला ने जैसे ही उसे बडे़ नाले में गिरते देखा तो तुंरत दौड़कर बच्चे को बाहर निकाला लेकिन उसके सिर में गहरी चोट आने से खून बहने लगा। मेघा ने पास खड़ी दो मजदूर महिलाओं को बुलाया और बच्चे का सिर बांधकर मैत्री अस्पताल में बच्चे का इलाज कराने पहुंची। यहां सर्जन डॉ.आर.के. जैन ने फौरन इमरजेंसी वार्ड में बच्चे के सिर में टांके लगाकर उसे संभाला और मेघा को रसीद के पैसे लौटाते हुये बच्चे का निःशुल्क इलाज करने का भरोसा दिलाया।
एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि गरीब बच्चे के सिर से बहता खून देखकर देर तक मेघा की आंखों में आंसू नहीं थम रहे थे। दवाइयों की राशि भी उसने दी। अस्पताल में मौजूद तीमारदारों ने यह घटना देख उसके प्रयासों की प्रशंसा की। युवती ने बताया कि मजूदर माता.पिता अस्पताल में घायल बच्चे के पास तक नहीं पहुंच सके. वे कहीं मजदूरी करने गए हुये थे। दोे महिलाएं सिर पर पट्टी बांधे इस बच्चे को गोद में लेकर उसके घर तक छोड़ने गई। डॉ. जैन ने कहा कि युवती मेघा चावला ने अनजान बच्चे की तुरंत मदद करके इंसानियत की अनूठी मिसाल पेश की है। वे इस गरीब मासूम का निःशुल्क इलाज करेंगे।

(Visited 180 times, 1 visits today)

Check Also

‘अभयदान की महिमा’ नाटिका का भव्य मंचन

भगवान महावीर जन्म कल्याणक के उपलक्ष्य में सम्यक् महिला मंडल द्वारा मंचन न्यूजवेव@कोटा  भगवान महावीर …

error: Content is protected !!