Monday, 22 April, 2024

बसंत पंचमी पर मां फलौदी के चरण छूकर धन्य हुये हजारों श्रद्धालु

  • प्राकट्य दिवस- लोकसभा स्पीकर श्री ओम बिरला ने मेड़तवाल वैश्य समाज की तीर्थनगरी खैराबाद में देश के इकलौते श्री फलौदी माताजी मन्दिर में की आरती।

न्यूजवेव @ रामगंजमंडी

अखिल भारतीय मेडतवाल (वैश्य) समाज की तीर्थनगरी खैराबादधाम में बुधवार को बसंत पंचमी महोत्सव पारंपरिक उल्लास के साथ मनाया गया। आराध्यदेवी श्री फलौदी माताजी महाराज का प्राकट्य दिवस होने से आज उनके दिव्य विग्रह को गर्भगृह से बाहर सिंहासन पर विराजित किया गया।

बुधवार दोपहर 12 बजे लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिरला ने माताजी की चरणपूजा कर आशीर्वाद लिया। बिरला ने कहा कि श्री फलौदी माता मंदिर समूचे क्षेत्र में जन आस्था का केंद्र है। इस सम्पूर्ण क्षेत्र पर मां फलौदी की अपार कृपा है, जिससे यहां खेती,व्यापार, उद्योग, कोटा स्टोन सहित प्रत्येक क्षेत्र में समृद्धि एवं खुशहाली रहती है। उन्होंने कामना  की कि फलौदी माता सभी पर कृपा बनाये रखे और देश इसी तरह निरंतर उन्नति की ओर अग्रसर होता रहे।
दरीखाना में लोकसभा अध्यक्ष का सम्मान

मंदिर के दरीखाना में समाज के कार्यकारी अध्यक्ष सेठ मोहनदास करोडिया, महामंत्री विष्णुप्रसाद करोडिया, कोषाध्यक्ष कैलाश चंद्र दलाल, मंदिर व्यवस्था संयोजक मोहनलाल चौधरी एवं सभी केंद्रीय पदाधिकारियों ने लोकसभा अध्यक्ष व क्षेत्रीय सांसद श्री ओम बिरला को प्रतीक चिन्ह भेंट कर समाजबंधुओं की ओर से उनका भव्य स्वागत कर सम्मानित किया और बसंत पंचमी पर मंदिर आने के लिये आभार जताया।
बसंत पंचमी पर माताजी के दर्शन की लालसा
श्री फलौदी माताजी मन्दिर में बसंत कथा के बाद मां फलौदी का 10 माला हार से श्रंगार हुआ। सबसे पहले मुहुर्त के अनुसार, पारम्परिक महाआरती की गई। जिसमें लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के साथ श्यामसुंदर भानेज, ब्यावरा द्वारा बडी आरती एवं वरिष्ठ समाजसेवी मदनलाल दलाल,कोटा द्वारा कपूर आरती की गई। मंदिर में गर्भगृह से बाहर सिंहासन पर विराजित मां फलौदी विग्रह के सम्मुख पुलकित गिरिराज गुप्ता खेराबाद ने स्वर्ण चंवर सेवा की। संजय राजेश सर्राफ, खिलचीपुर, रामबाबू अशोक गुप्ता सुठालिया, मुकेश गुप्ता दुर्गपुरा व गौरीशंकर गुप्ता, झालरापाटन ने चांदी चंवर से सेवा की। मदनलाल दलाल व मनोहर लाल गुप्ता डोंगरगॉव के परिजनों ने छडी सेवा ली। इसके बाद मंदिर प्रांगण से बाहर 1 किमी तक कतारों में खडे श्रद्धालुओं ने बारी-बारी से चरण दर्शन व पूजा की।
श्रद्धालुओं की लंबी कतारें लगी रही
खैराबाद में बुधवार सुबह से ही पवित्र धार्मिक उल्लास का वातावरण दिखाई दिया। विभिन्न राज्यों से आये श्रद्धालु पारंपरिक परिधानों में पंचमेवे का प्रसाद लेकर माताजी की चरणपूजा करने के लिये कतारों में खडे़ रहे। दोपहर 12 बजे से देर शाम तक चरण दर्शन व केसर-चंदन के जल से पूजा करने का सिलसिला जारी रहा। समूचा मंदिर परिसर फलौदी माता के जयकारों से गूंजता रहा। मंदिर में दर्शन व्यवस्था प्रभारी मेडतवाल वैश्य समाज रामगंजमंडी के अध्यक्ष रामदयाल गुप्ता एवं उपाध्यक्ष जगदीश गुप्ता एमआरएफ ने बताया कि पूरे दिन समाजबंधुओं ने अनुशासित ढंग से शांतिपूर्वक दर्शन किये। महिलाओं को फलौदी माता की चरणपूजा करने की अनुमति नहीं होने से वे प्रांगण में माताजी के दर्शन करती रहीं।
फलौदी मेला ग्राउंड में हुआ महाप्रसादी वितरण
फलौदी मेला ग्राउंड में समाज के महिला मंडल एवं नवयुवक संघ की टीमें मां फलौदी के महा प्रसादी वितरण में जुटी रहीं। बसंत पंचमी महोत्सव पर प्रसादी का महत्व होने से सभी श्रद्धालुओं ने प्रसादी ग्रहण की। खास बात यह रही कि प्रतिवर्ष की तरह समाजबंधुओं ने पत्तलों में झूठन नहीं छोडी। बसंत पंचमी के साथ ही समाज का तीन दिवसीय धार्मिक मेला शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ

(Visited 204 times, 1 visits today)

Check Also

नवनीत ने AcSIR से हिंदी में पीएचडी करने का कीर्तिमान रचा

न्यूजवेव @नई दिल्ली राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 में उच्च शिक्षा में भारतीय भाषाओं को बढ़ावा देने …

error: Content is protected !!