Tuesday, 23 April, 2024
RTU Campus

आरटीयू में रिसर्च पीठ व स्किल डेवलपमेंट सेंटर खुलेगा

आरटीयू की 17वीं वित्त समिति की बैठक में इसके लिए 1-1 करोड़ का बजट मंजूर। पीएचडी फैलोशिप में प्रतिमाह 5 हजार रू. की बढोतरी। नए सत्र से परीक्षा शुल्क में होगी 10 प्रतिशत वृद्धि।

न्यूज वेव, कोटा
राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय, कोटा ने स्टूडेंट्स में स्किल डवलपमेंट को अनिवार्य बनाते हुए ‘स्किल डवलपमेंट सेंटर’ स्थापित करने के लिए नए वित्त वर्ष 2018-19 में 1 करोड़ रूपए़ का बजट मंजूर कर दिया। साथ ही, यूनिवर्सिटी में शोध कार्याें को बढ़ावा देने और उसमें क्वालिटी इम्प्रवमेंट के लिए ‘रिसर्च पीठ’ की स्थापना करने का निर्णय लिया गया।

शनिवार को कुलपति प्रो. एन.पी.कौशिक की अध्यक्षता में हुई 17वीं वित्त समिति की बैठक में शोध पीठ के संचालन हेतु 1 करोड़ रूपए के कॉर्पस फंड का सृजन करने तथा आवर्ती खर्च के लिए 25 लाख रू. के प्रावधान स्वीकृत किये गये।

 

माननीय कुलाधिपति के दिशानिर्देशों के अनुरूप परीक्षा नियंत्रक ने प्रस्ताव रखा कि यूजी एवं पीजी कोर्सेस के परीक्षा शुल्क में अगले वर्ष 10 प्रतिशत फीस की वृद्धि की जाएगी। जिसे वित्त समिति ने मंजूरी दे दी। यूनिवर्सिटी कार्मिकों को सातवें वेतन आयोग का लाभ देने के लिए 45 करोड़ रू. का प्रावधान किया गया।

बैठक में वित्त विभाग, राजस्थान सरकार के प्रतिनिधि श्री एस.एन.शर्मा, वित्त सलाहकार सीएडी कोटा एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के प्रतिनिधि श्री विष्णु एस. शर्मा, पॉलिटेक्निक कॉलेज, कोटा के प्रिंसिपल प्रो.राजीव गुप्ता, प्रति कुलपति, डॉ. आभा जैन, कुलसचिव, प्रो. ए.के. द्विवेदी, परीक्षा नियंत्रक श्री आर.एल. परसोया,वित्त नियंत्रक तथा विशेष आमंत्रित सदस्य मौजूद रहे।

ऑडिटोरियम, लॉन टेनिस कोर्ट, वेयर हाउस बनेंगे
बैठक में आगामी वित्त वर्ष 2018-19 के लिए बजट को मंजूरी दी गई। जिसमें आय राशि रू. 9356.89 लाख रूपए एवं पूंजीगत खर्च राशि रू.11605.51 लाख रूपए का ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। पूंजीगत खर्च में यूनिवर्सिटी कैम्पस में ऑडिटोरियम के निर्माण, लॉन टेनिस कोर्ट, वेयर हाउस इत्यादि निर्माण कार्याें तथा स्किल डवलपमेंट एवं रिसर्च पीठ हेतु आयकर अधिनियम 1961 की धारा 11(5) के अनुसार 1650 लाख रू की राशि अगले 5 वर्ष में खर्च करने का प्रस्ताव पारित किया गया।

यूनिवर्सिटी को होने वाली आय से प्रशासनिक खर्च में 6873.51 लाख रूपए, परीक्षा खर्च में 1662.00 लाख रू. खर्च करने का बजट स्वीकृत किया जाएगा। पूंजीगत खर्चों के लिए 3,070 लाख रू. का प्रावधान बजट अनुमान समिति द्वारा अनुमोदित किया गया।

पीएचडी में हर माह 13 हजार फैलोशिप मिलेगी
बैठक में रिसर्च को बढ़ावा देने के उद्धेश्य से यूनिवर्सिटी के संघठक कॉलेज (यू.डी.) में फुलटाईम पीएचडी कोर्स चलाए जाएंगे, जिसमें एडमिशन लेने वाले शोधार्थियों को प्रतिमाह फैलोशिप राशि 8,000रू. से बढ़ाकर 13,000 रू. देने का निर्णय लिया गया। एमटेक कोर्स के स्टूडेंट्स के लिए कॉन्फ्रेंस आदि में भाग लेने एवं पेपर प्रजेंटेशन करने हेतु प्रावधान किए गए।

इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स केे स्किल डेवलपमेंट एवं इंडस्ट्रियल एक्सपोजर को बढ़ावा देने के लिए एआईसीटीई के मापदंडों के अनुसार सहायक फैकल्टी नियुक्त किये जाने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से अनुमोदित किया गया। अंत में वित्त नियंत्रक आर.एल. परसोया ने आभार जताया।

newswavekota@gmail.com

(Visited 373 times, 1 visits today)

Check Also

हार न मानें बल्कि उससे सीख लेकर खुद को चुनौती दें और आगे बढ़ते जाएं – डॉ. गोस्वामी

मोटिवेशनल सेमिनार : मोशन एजुकेशन में जिला कलक्टर ने ली लाइव क्लास न्यूजवेव @कोटा जिला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!