Tuesday, 16 July, 2024

जिपमेर-2019 में सूरत के अरूनांग्शु ऑल इंडिया टॉपर

5 दिन में रिजल्ट घोषित, एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के टॉप-10 में 9 स्टूडेंट्स

न्यूजवेव कोटा

जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च  की एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा जिपमेर-2019 का रिजल्ट शुक्रवार 7 जून को जारी हुआ जिसमे सूरत के छात्र अरूनांग्शु भट्टाचार्य ऑल इंडिया टॉपर रहे। एलन कॅरिअर इंस्टीट्यूट के क्लासरूम विद्यार्थी अरूनांग्शू ने सर्वाधिक 99.9986791 परसेंटाइल स्कोर अर्जित किया है। जिपमेर में 26, 27 व 28 जून को काउंसलिंग प्रक्रिया होगी।

एलन निदेशक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि संस्थान के विद्यार्थियों ने मेरिट सूची की टॉप-10 में 9 रैंक पर सफलता का परचम लहराया। इनमें रैंक-1 पर अरूनांग्शु, रैंक-2 पर प्रतीक उपाध्याय, रैंक-3 पर आर्यन बंसल, रैंक-4 पर प्रांजपन बासु, रैंक-5 पर चेतन्य मित्तल, रैंक-6 पर अमृतेश एस. ग्रेवाल, रैंक-8 पर बहादुर सिंह, रैंक-9 पर अपूर्व राघव तथा रैंक-10 पर छात्रा निशिता ने सफलता हासिल की।

इस वर्ष 1,45,170 ने दी परीक्षा


देश के 1,45,170 परीक्षार्थियों ने 120 शहरों में 2 जून को ऑफलाइन मोड में जिपमेर-2019 प्रवेश परीक्षा दी थी। इस प्रवेश परीक्षा से पुडुच्चेरी व कराईकल मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की 200 सीटों पर प्रवेश दिए जाएंगे। जिसमें पुडुच्चेरी की 150 सीटें तथा कराईकल कैंपस की 50 सीटें शामिल हैं। इनमें सामान्य वर्ग की 74, ओबीसी की 37, एससी की 20 तथा एसटी वर्ग की 9 एमबीबीएस सीटें होंगी। दिव्यांग तथा ओसीआई व एनआरआई की 6-6 सीटें निर्धारित हैं। शेष सीटें पुडुच्चेरी प्रदेश के लिये आरक्षित होंगी।
यह प्रवेश परीक्षा केवल इंग्लिश मीडियम में होती है। 2ः30 घंटे के पेपर में 200 प्रश्न पूछे जाते हैं। जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी प्रत्येक से 60 प्रश्न पूछे जाते हैं। 10 प्रश्न इंग्लिश तथा 10 प्रश्न तार्किक क्षमता एवं संख्यात्मक विश्लेषण से पूछे जाते हैं।
दो विद्यार्थियों को शून्य अंक
जिपमेर की मेरिट सूची में दो विद्यार्थियों को शून्य परसेंटाइल दी गई है। इनमें 1,45,169 रैंक पर मुर्तिजा तथा 1,45,170 रैंक पर मोहम्मद आरिफ को शून्य परसेंटाइल अंक मिले हैं।
ये रहे केटेगरी टॉपर्स
सामान्य वर्ग में अरूनांग्शु भट्टाचार्य, ओबीसी वर्ग में सम्पति कुशवंथ, एससी वर्ग में अभिषेक सोमनाथ घोलप, एसटी वर्ग में अमगोथ शरथ पावर ऑल इंडिया केटेगरी टॉपर रहे। दिव्यांग वर्ग में सभ्यत सिंह कुशवाह टॉपर रहे। सामान्य वर्ग में 750 रैंक, ओबीसी में 370 रैंक, एससी में 200 रैंक तथा एसटी वर्ग में 90 रैक की सूची दी गई है।

रोज 7 घंटे नींद लेने से नई उर्जा मिली

अरूनांग्शु भट्टाचार्य, एआईआर 1

Arunangshu, AIR-1

जिपमेर टॉपर अरूनांग्शु को नीट-यूजी-2019 में भी एआईआर-19वीं मिली है। वह 5 वर्षों से एलन में क्लासरूम स्टूडेंट है। दो वर्ष एलन सूरत एवं दो वर्ष कोटा सेंटर से कोचिंग ली। 12वीं बोर्ड में 94.8 प्रतिशत अंकों के साथ ही मेडिकल की शीर्ष प्रवेश परीक्षा में भी अव्वल रहा। उसने रिवीजन पर फोकस किया। बॉयोलॉजी के 30 चेप्टर में उसने प्रति सप्ताह एक चेप्टर को रिवाइज करने का लक्ष्य पूरा किया। नियमित 7 घंटे नींद लेने से उसका ब्रेन हमेशा फ्रेश रहता था। पिता समरजीत इलेक्ट्रिकल इंजीनियर व मां अपराजिता कैमिकल इंजीनियर हैं लेकिन उसने बॉयोलॉजी में रूचि दिखाई। किसी अच्छे संस्थान से एमबीबीएस के बाद न्यूरो या कार्डियो में स्पेशलाइजेशन करने का ख्वाब है। केवीपीवाय में उसे एआईआर-26 मिली थी। अभी हंगरी में होने वाले इंटरनेशनल बॉयो ओलंपियाड के फाइनल की तैयारी कर रहा है।

(Visited 348 times, 1 visits today)

Check Also

कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र में ओम बिरला पर हुई स्नेह वर्षा

उत्सवी फिजां : 18 घंटे में 80 किमी दूरी तक जनता ने पलक पांवडे बिछाकर …

error: Content is protected !!