Tuesday, 23 April, 2024

कोटा के आईआईटीयंस ने बनाई ‘टाइनीआॅल’ कंपनी

आईआईटी,मुंबई से बीटेक कर ठुकराया जाॅब आॅफर।वहीं से नई कंपनी की शुरूआत। 100 करोड़ रूपए के निवेश से पांच शहरों में हुई धमाकेदार एंट्री।
कोटा। महज 23-24 साल के पांच जुझारू आईआईटीयन। 2013 मेंआईआईटी, मुंबई से एक साथ बीटेक किया। प्लेसमेंट कैंपस मे ंबडी ंकंपनियों के उंचे पैकेज ठुकराकर अपनी ही कंपनी खड़ी करने में जुट गए। अपने घरों से बिना आर्थिक मदद लिए वे एक नए क्षेत्र में चुनौती के साथ उतरे।
आईआईटी, मुंबई में सीखा था-आंत्रप्रिन्योरशिप यानी जाॅब सीकर्स बनने की बजाय जाॅब प्रोवाइडर बन जाओ।कोटा के आईआईटीयन सौरभ गोयल, तनुज खंडेलवाल, जोधपुर के गौरव चैधरी, पिलानी के हर्षवर्धन व सूरत के शिखर पालीवाल ने मिलकर चार वर्ष पूर्व मुंबई से एक कंपनी ‘टाइनीआॅल’ लांच की। किसी भी शहर में फूड आर्डर एप्लीकेशन पर आधारित कंपनी की शुरूआत 2015 में मंुबई, पुणे, गुड़गांव, बैंगलुरू एवं हैदराबाद में की गई।
कोटा के सौरभ गोयल एवं तनुज खंडेलवाल ने बताया कि इस हाईब्रिड माॅडल में स्नेपडील, फ्रीचार्ज, सिक्वा केपिटल, नेक्शसवेंचर और मेट्रिक्स पार्टनर ने 100 करोड़ रूपए का निवेश किया है। आज 500 से अधिक कर्मचारियों को रोजगार भी दे रहे हैं। इस साल के अंत तक इसे देश के 50 प्रमुख शहरों में सेवाएं देने का लक्ष्य है। फिलहाल वे लोगों के खाने-पीने की हेबिट्स पर भी रिसर्च कर रहे हैं।
ऐसे किया संघर्ष
कोटा के आईआईटीयन तनुज ने बताया कि सबसे पहले जाॅब आॅफर ठुकराकर आंैत्रप्रिन्योर बनने का फैसला लिया तो घरवालों को यह कम पसंद आया। लेकिन हमने घर से एक रूपया नहीं लिया। पहले आइडिया पर काम शुरू किया तो हर रेस्तरांे से रिस्पांस नही ंमिला। कई दिनो ंतक रोज खाली हाथ लौटते रहे लेकिन हिम्मत नहीं हारी। कोटा के सीनियर आईआईटीयन सौरभ गोयल स्वयं नंबर-1 कंपनी ‘हाउसिंग डाॅट काॅम’ भी चला रहे हैं ,इसलिए नई चुनौती लेकर आगे बढे़। आज सफलता मिल रही है तो घरवाले भी खुश हैं।
क्या है ‘टाइनी आॅल’
रेस्तरां का मार्केट प्लेस बनाने वाली यह कंपनी आपको रिलेक्स रखते हुए पसंदीदा लंच या डिनर घर पहुंचाएगी। खासियत यह कि किसी भी शहर में कहीं भी अच्छे रेस्तरों से मनपंसद डिश या खाना मात्र 30 सेकंड में आॅनलाइन बुक करके तुरंत घर मंगा सकते हो और भुगतान भी आॅनलाइन। यानि किसी अच्छे रेस्तरां में खाना खाने के लिए एक या दो घंटे इंतजार करने की नौबत नहीं।

(Visited 200 times, 1 visits today)

Check Also

हार न मानें बल्कि उससे सीख लेकर खुद को चुनौती दें और आगे बढ़ते जाएं – डॉ. गोस्वामी

मोटिवेशनल सेमिनार : मोशन एजुकेशन में जिला कलक्टर ने ली लाइव क्लास न्यूजवेव @कोटा जिला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!