Thursday, 25 April, 2024

डॉ.जमशेद भरुच एसआरएम यूनिवर्सिटी,अमरावती में कुलपति नियुक्त

न्यूजवेव @ नईदिल्ली

अमेरिका में आईवी लीग यूनिवर्सिटी में डीन डॉ. जमशेद भरूच एसआरएम यूनिवर्सिटी, एपी-अमरावती में नए कुलपति नियुक्त किये गये हैं। वे पहले ऐसे भारतीय अमेरिकी हैं जिन्होने वर्ल्डक्लास आइवी लीग यूनिवर्सिटी में डीन के पद पर सेवाएं दी। अनुभवी शिक्षाविद् डॉ भरूच डार्क माउथ कॉलेज, यूएसए में विशिष्ट फैलो भी हैं। वे हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से कॉग्निटिव साइकोलॉजी में पीएचडी हैं। ट्रिनिटी कॉलेज ऑफ लंदन से उन्हें वायलिन वादन में एसोसिएट्स डिप्लोमा (एटीसीएल) हासिल है।

शिक्षाविद् डॉ भरूच ने कॉग्निटिव न्यूरोसाइंस और संगीत पर रिसर्च किया है। उन्होने कहा कि एसआरएम यूनिवर्सिटी, अमरावती को वर्ल्ड रैंकिंग से जोड़ने के लिए नए कॅरिकुलम से क्वालिटी एजुकेशन, समर इंटरर्नशिप, रिसर्च बेस्ड प्रोग्राम जैसे पहलुओं पर फोकस किया जाएगा। इस यूनिवर्सिटी से निकलने वाले प्रत्येक ग्रेजुएट को इंटरनेशनल एक्सपोजर मिलेगा।

एसआरएम में 460 मिलियन का निवेश होगा
एसआरएम अमरावती कैम्पस की स्थापना के लिए एसआरएम ट्रस्ट ने 460 मिलियन के निवेश की घोषणा की है। एसआरएम यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट डॉ. पी.सत्यनारायणन ने कहा कि कुलपति डॉ.जमशेद भरुच के अनुभव से भारतीय स्टडेंट्स को इंटरनेशनल एक्सपोजर मिलेेगा। उनके नेतृत्व में एसआरएम यूनिवर्सिटी, एपी-अमरावती एजुकेशन में नई उंचाइयों को छुएगी।

उन्होंने बताया कि आने वाले समय में एसआरएम यूनिवर्सिटी में स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, मेडिसिन और लॉ स्कूल खोलने की योजना है ताकि अगले 5 वर्ष में यहां से 10,000 ग्रेजुएट वर्ल्ड क्लास डिग्री लेकर निकलें। एसआरएम यूनिवर्सिटी अमरावती में स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड अप्लायड साइंसेज के पहले बैच ने एक वर्ष पूरा किया है। द स्कूल ऑफ लिबरल आर्ट एंड बेसिक साइंसेज की शुरुआत की गई है।

एकेडेमिक एक्सीलेंस

नवनियुक्त कुुलपति डॉ. भरुच ‘द कूपर यूनियन फॉर दि एडवांसमेंट ऑफ साइंस एंड आर्ट’ के प्रेसिडेंट, टफ्ट्स यूनिवर्सिटी के प्रोवोस्ट एवं सीनियर वाइस प्रेसिडेंट रहे। उन्होंने डार्टमाउथ कॉलेज में फैकल्टी ऑफ आर्ट्स एंड साइंसेंज के डीन पद को सुशोभित किया। वे पहले ऐसे भारतीय अमेरिकी बने जिसे आइवी लीग यूनिवर्सिटी में एक स्कूल डीन घोषित किया गया। डार्टमाउथ कॉलेज में वे साइक्लॉजिकल और ब्रेन साइंसेत के जॉनवेन्टवर्थ प्रोफेसर रहे। उनको हंटिगटन टीचिंग अवार्ड तथा द अंडरग्रेजुएट टीचिंग स्पेशल अवार्ड मिल चुके हैं।

डॉ.भरुच ने वस्सर कॉलेज से बायो साइकोलॉजी में बीए और येल यूनिवर्सिटी से दर्शनशास्त्र में एमए किया है। अमेरिका में नेशनल साइंस फाउंडेशन से उन्हें कई बार ग्रांट मिलीे है और स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर एडवांस्ड स्टडी इन बिहेवियोरल साइंसेज में वे फेलो रहे। वसर कॉलेज में उन्हें अचीवमेंट अवार्ड मिला है जहां वे बोर्ड ऑफ ट्रस्टी में है और उन्हें न्यूयॉर्क के कार्निज कोऑपरेशन से प्राइड ऑफ अमेरिका अवार्ड मिला है।

200 एकड़ में वर्ल्डक्लास कैम्पस

एसआरएम यूनिवर्सिटी, एपी-अमरावती अन्य यूनिवर्सिटी से अलग पहचान रखता है। यहां इंजीनियरिंग प्रोग्राम्स, लिबरल आर्ट्स, मैनेजमेंट, लॉ, मेडिकल साइंस, प्योर साइंस आदि विषय शामिल किए जाएंगे। यूनिवर्सिटी में प्रतिभाशाली स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप भी दी जाएगी। स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड अप्लायड साइंसेज पहले से संचालित है। इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स का पहला बैच अगस्त 2017 में निकलेगा। यहां एडवांस्ड लैबोरेट्री, सुसज्जित लाइब्रेरी, कम्प्यूटर लैब, वर्कशॉप आदि का दर्जा इंटरनेशनल लेवल का है।

200 एकड़ में फैला विशाल कैम्पस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई यूनिवर्सिटी से जुड़ा रहेगा। नवीनतम एजुकेशपन पैटर्न, टीचिंग मैथेडोलॉजी, फिलॉसफी, कैम्पस डिजाइन, इन्फ्रास्ट्रक्चर, लर्निंग कंसेप्ट, हॉस्टल सहित अनुभवी फैकल्टी से कॅरिअर गाइडेंस जैसे कई नवप्रयोग किए जाएंगें। यूनिवर्सिटी के विभिन्न कोर्सेस की जानकारी के लिए वेबसाइट www.srmap.edu.in देखें।

(Visited 335 times, 1 visits today)

Check Also

आपका एक-एक वोट देश को मजबूत करेगा – अमित शाह

न्यूजवेव @कोटा कोटा-बूंदी सीट पर चुनाव प्रचार के अंतिम दौर में शनिवार को भाजपा के …

error: Content is protected !!