Sunday, 21 July, 2024

पीडब्ल्यू विद्यापीठ ने नये सत्र में सफलता के लिये किया- आरंभ

आरंभ – फिजिक्स वाला विद्यापीठ (PW) के कोटा में मेगा ओरियेंटेशन सेशन में अभिभावकों के साथ पहुंचे 5 हजार से अधिक विद्यार्थी
अरविंद
न्यूजवेव @ कोटा

शिक्षा नगरी कोटा में नये शैक्षणिक सत्र 2023-24 का आगाज प्रचंड उत्साह के साथ हुआ। सोमवार को ब्रांड कोचिंग संस्थान फिजिक्स वाला विद्यापीठ ने तलवंडी के श्यामप्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में मेगा ओरियेंटेशन सेशन आयोजित किया। देश के विभिन्न राज्यों से कक्षा-10 बोर्ड परीक्षा के बाद हजारों विद्यार्थियों ने जेईई-मेन, एडवांस्ड एवं नीट की सर्वश्रेष्ठ क्लासरूम कोचिंग के लिये ब्रांड कोचिंग संस्थान पीडब्ल्यू विद्यापीठ में एडमिशन लिया है।


नये सत्र के प्रथम मेगा ओरियेंटेशन सत्र में मुख्य अतिथि कोटा जिला कलक्टर आईएएस ओपी बुनकर ने कहा कि बाहरी राज्यों से इतनी बड़ी संख्या में विद्यार्थी पहली बार कोचिंग के लिये कोटा आये हैं। देशभर में कहा जाता है कोटा मतलब सक्सेस। यहां के कोचिंग संस्थान, फैकल्टी, विद्यार्थी मिलकर बहुत मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने बच्चों से कहा कि वे हर समय अपने माता-पिता के सपनों का ध्यान रखें। अपनी प्लानिंग को कभी कमजोर नहीं होने दें। जो चीज हाथ में नहीं है, उसकी परवाह न करें। कडी मेहनत करेंगे तो सफलता आपके पीछे खडी होगी।
कोचिंग को एक यात्रा समझें
जिला कलक्टर ने स्टूडेंट्स से कहा कि वे प्रवेश परीक्षाओं की कोचिंग को एक यात्रा समझें। आईआईटी-जेईई में चयनित होना ही एकमात्र सफलता नहीं है, आपकी मेहनत या संघर्ष फैल्योर नही है। इसी मेहनत के दम पर आप किसी दूसरे फील्ड में ज्यादा अच्छा कर सकते हैं। चूंकि जेईई या नीट प्रवेश परीक्षायें बोर्ड की तरह पासिंग मार्क्स का खेल नहीं है। आईआईटी, एनआईटी, एम्स या मेडिकल कॉलेजों में सीटें सीमित हैं। इसलिये कुछ मार्क्स कम रहने पर अपनी परसेंटाइल से बिल्कुल विचलित न हों। मन से मजबूत बने रहें। जब भी समय मिले कुछ देर रिलेक्स रहें। कोटा में चंबल रिवर फ्रंट, वर्ल्ड क्लास सिटी पार्क आदि घूमने की कई जगह हैं, वहां घूमें। जिंदगी में अभी बहुत आगे जाना है।
ई-पोर्टल कोटा कोचिंग स्टूडेंट से जुडें

बुनकर ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन ने कोचिंग विद्यार्थियों की प्रॉब्लम को 7 दिन में दूर करने के लिये e-complaint portal for coaching students kota  शुरू किया है। वे खुद को अकेला महसूस नहीं करें। नेगेटिव बातें पेरेंट्स को अवश्य बतायें। एक अच्छा दोस्त बनायें। अपने पेरेंट्स का फोटो साथ रखें, जब भी कोई प्रॉब्लम हो, उनसे बातें करें। कोटा में कोचिंग इंस्टीट्यूट वैकल्पिक कॅरिअर काउंसलिंग भी कर रहे हैं। उसका लाभ उठायें।
आप तपने के लिये तैयार रहें- एसपी


समारोह के विशिष्ट अतिथि कोटा सिटी एसपी शरद चौधरी ने कहा कि जिस तरह चमकने के लिये सोना आग में तपता है, हीरा भी तराशने के लिये तपता है। आप अपनी क्षमतायें लेकर कोटा आयें हैं। अपने टारगेट तक पहुंचने के लिये तपने के लिये तैयार रहें। आप में उर्जा भरी है। अर्जुन की तरह तीर मारने के लिये नियमित प्रेक्टिस करें।
उन्होंनें स्टूडेंट्स से रूबरू होकर पूछा,पीडब्ल्यू ने आपको शाहरूख खान की तरह ब्लेक यूनिफार्म क्यों दी। आप सब ब्लेक बॉडी बनकर घूम रहे हो। वरिष्ठ फैकल्टी कुंदन कुमार ने कहा कि यह ब्लेक कलर स्टूडेंट में नेगेटिविटी खत्म कर देता है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जिंदगी में तमाम कमजोरियों के बावजूद विपरीत धारा में तैरने का आनंद आता है। इसलिये कोचिंग करते हुये हर चुनौती का हंसते हुये सामना करो। एक दिन कोहिनूर बनकर निकलोगे।
उन्होंने कहा कि कोटा में हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग पर आपका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। सबकी अपनी खूबियां हैं, क्षमतायें हैं। रिजल्ट चाहे जो आये, तुरंत सत्य को स्वीकार कर आगे की तैयारी शुरू कर दें। पेरेंट्स अपनी इच्छायें नहीं थोपें। जिम्मेदारी के साथ बच्चों को नोबल गाइडेंस दें।
इसलिये सबसे खास है- पीडब्ल्यू (PW) विद्यापीठ


फिजिक्स वाला विद्यापीठ के संस्थापक निदेशक अलख पांडे के अनुसार, पीडब्ल्यू विद्यापीठ देश के लाखों विद्यार्थियों की पहली पसंद बन चुका है। यू-ट्यूब पर पीडब्ल्यू के 26 चैनल हैं। जेईई-मेन, एडवांस्ड, नीट-यूजी, यूपीएससी, क्लेट, कैट, सीए, सीयूआईटी, एडीए सहित कई राष्ट्रीय प्रतियोगी परीक्षाओं की ऑनलाइन कोचिंग कराते हुये देश-विदेश के 2 करोड़ से अधिक स्टूडेंट्स इससे जुडे हुये हैं। गत वर्ष से रियायती दरों पर क्वालिटी ऑफलाइन कोचिंग आरंभ कर संस्थान ने लाखों विद्यार्थियों एवं अभिभावकों का विश्वास जीता है।
पीडब्लू विद्यापीठ के देश में 32 से अधिक शहरों में क्लासरूम कोचिंग के लिये स्टडी सेंटर हैं। रोज 12 लाख से अधिक स्टूडेंट्स 90 मिनट की क्लास में पढाई कर रहे हैं। अब तक 12 हजार से अधिक स्टूडेंट्स आईआईटी-जेईई, नीट व एनडीए में सलेक्ट हो चुके हैं।
कोचिंग ब्रांड पर भरोसा करें-कुंदन कुमार


20 वर्षों से कोचिंग स्टूडेंट्स में लोकप्रिय मैथ्स के सीनियर फैकल्टी कुंदन कुमार ने कहा कि 10वीं के बाद जेईई या नीट की तैयारी के लिये दो साल का समय पर्याप्त है। 9वीं तक 90 प्रतिशत मार्क्स मिल जाते थे, अब पढाई का लेवल डिफरेंट होगा। आपने कोटा से अपनी यात्रा आरंभ की है, इसलिये जो कोचिंग ब्रांड चुना है, उस पर पूरा भरोसा करें। एक या दो टेस्ट से खुद को कमजोर नहीं समझें। स्टूडेंट्स, पेरेंट्स व टीचर्स तीनों टीम भावना से सपोर्ट करें। सक्सेस मिलकर रहेगी।
‘कम फीस पर क्वालिटी कोचिंग’- राजीव रस्तोगी


जेईई-मेन डिविजन के हेड राजीव रस्तोगी ने कहा कि वे 23 साल में हजारों विद्यार्थियों को आईआईटी में भेज चुके हैं। 2021 में पीडब्ल्यू से जुडकर गर्व महसूस हुआ। पीडब्ल्यू का उद्देश्य है-‘कम फीस पर क्वालिटी कोचिंग देना’ गरीब बच्चों के सपने भी हकीकत में बदल रहे हैं। कोचिंग में रिवाल्यूशन आ चुका है। आप समय से आगे चलो, कामयाबी पीछे खडी है। रोज का होमवर्क रोज करने की निरंतरता आपकी सबसे बडी ताकत है। हमें आज का सपना, कल हकीकत में बदलना है। कुछ बातों का ध्यान रखें- नये फ्रेंड सर्किंल से बचें, टीचर्स को बेस्ट फ्रेंड बना लें। हॉस्टल में अपनी टेबल के सामने आईआईटी या एम्स का पोस्टर लगा दें। पेरेंट्स का संघर्ष याद रखें, उनसे बात करते रहें। सातों दिन रोज शैडयूल से 7-8 घंटे पढना है।
आपकी जिद ही जीत दिलायेगी- हितेश शर्मा
नीट डिविजन के हेड हितेश शर्मा ने कहा कि एक-दो साल आप विज्ञान के ज्ञान में डूब जायें। सब्जेक्ट गुरू तो ज्ञान के सागर है, हमें तो थोडा सा पानी ही पीना है। एक विद्यार्थी को काक चेष्टा, बको ध्यानी, अल्पाहारी और गृह त्यागी बनकर सफलता की सीढियां चढना है। रोज खुद से पूछें, क्या मैं अपने लक्ष्य के लिये पूरी पढाई कर रहा हंू। यही जिद आपको जीत अवश्य दिलायेगी।

(Visited 704 times, 1 visits today)

Check Also

हॉस्टल्स से यूडी टैक्स की वसूली आवासीय श्रेणी में हो

जयपुर में विधायक संदीप शर्मा के साथ यूडीएच मंत्री झाबर सिंह खर्रा से मिला प्रतिनिधिमंडल …

error: Content is protected !!