Saturday, 15 June, 2024

कोटा विवि की सह आचार्य के रिसर्च प्रोजेक्ट को शिक्षा मंत्रालय से स्वीकृति

महात्मा गांधी नेशनल काउंसिल ऑफ रूरल एजुकेशन द्वारा राजस्थान व हरियाणा के उच्च शिक्षा संस्थानों में ग्रामीण विकास से जुडे़ प्रोग्राम संचालित हों।
न्यूजवेव @ कोटा

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद ने कोटा यूनिवर्सिटी में कॉमर्स एवं मैनेजमेंट विभाग की सह आचार्य डॉ. मीनू माहेश्वरी का मेजर रिसर्च प्रोजेक्ट स्वीकृत किया है।
महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद की सदस्य सचिव डॉ. टी. नागालक्ष्मी ने ‘MGNCRE मेजर एक्शन रिसर्च प्रोजेक्ट 2022’ का स्वीकृति पत्र भेजकर निर्देश दिये कि इस प्रोजेक्ट के माध्यम से राजस्थान एवं हरियाण की प्रदेश यूनिवर्सिटी से संबद्ध उच्च शिक्षा संस्थानों को ग्रामीण आबादी के विकास हेतु सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना से जोडा जाये। उनके द्वारा चलाये जा रहे सीएसआर कार्यों तथा नई संभावनाओं का पता लगाया जाये। उन्हें 12 से 21 माह में इस ग्रामीण विकास प्रोजेक्ट पर कार्य करने के लिये 7.5 लाख रूपये की राशि दी जायेगी। कोटा यूनिवर्सिटी की कुलपति नीलिमा सिंह ने उन्हें बधाई देते हुये कहा कि प्रदेश में ऐसे उपयोगी प्रोजेक्ट से ग्रामीण शिक्षा एवं विकास को बल मिलेगा।
गांवों को गोद लें उच्च शिक्षा संस्थान
डॉ. माहेश्वरी ने बताया कि उन्होंने शिक्षा मंत्रालय की महात्मा गांधी नेशनल काउंसिल ऑफ रूरल एजुकेशन को ग्रामीण शिक्षा को बढावा देने के लिये यह रिसर्च प्रोजेक्ट भेजा था। इसके तहत सरकारी विश्वविद्यालयों से संबद्ध कॉलेज अपने आसपास के गांवों को गोद लेकर उनमें सामाजिक उत्तरदायित्व के साथ स्वच्छता, स्वास्थ्य, शिक्षा, पर्यावरण संतुलन एवं मूलभूत सुविधाओं के कार्यक्रम चलायें।
100 से अधिक शोध पत्र जर्नल में प्रकाशित
शिक्षाविद् डॉ. मीनू माहेश्वरी इससे पहले विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा स्वीकृत प्रोजेक्ट पूर्ण कर चुकी है। उनके 100 से अधिक शोधपत्र नेशनल व इंटरनेशनल जर्नल में प्रकाशित हो चुके हैं। राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठियों में भी उन्होंने 86 शोध पत्र प्रस्तुत किये हैं। अब तक वे 16 पुस्तकों में लेखन कर चुकी हैं।

(Visited 1,702 times, 1 visits today)

Check Also

‘कामयाब कोटा’ अभियान में जिला कलक्टर ले रहे हैं क्लास

न्यूजवेव @कोटा जिला कलक्टर डॉ.रविंद्र गोस्वामी इन दिनों ‘कामयाब कोटा’ मिशन के तहत कोचिंग संस्थानों …

error: Content is protected !!