Monday, 27 June, 2022

महिलाएं हार नही मानें दृढ़ता से आगे बढ़ें- नवनीत राणा

निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने कोटा में महिलाओं से किया संवाद
न्यूजवेव@ कोटा

मराठी फिल्मों की प्रख्यात अभिनेत्री और अमरावती सांसद नवनीत राणा ने महिलाओं से कहा कि सामाजिक क्षेत्र में अपना मुकाम बनाना है तो असफलता से हार नहीं मानें और अपने लक्ष्य के प्रति भ्रमित नहीं हो। दृढ़ता और ईमानदारी से कार्य करेंगे तो सफलता जरूर मिलेगी। वे रोटरी बिनानी सभागार में आयोजित महिला सशक्तिकरण संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं।
एक दिवसीय निजी यात्रा पर कोटा आईं सांसद नवनीत राणा ने कहा कि कोई ऐसा लक्ष्य नहीं है जिसे महिला हासिल नहीं कर सकती। बस उन्हें स्वयं की क्षमता और सामर्थ्य पर विश्वास रखना होगा। सामाजिक क्षेत्र में कार्य करते हुए न तो खुद को किसी पर हावी करें न ही किसी और को स्वयं पर हावी होने दें। अपनी प्रतिभा को दबने नहीं दें, जो भी काम मिले उसे पूरी ईमानदारी और समर्पण से करें।
उन्होंने कहा कि महिलाओं के सामने बहुत सी चुनौतियों होती हैं। लेकिन उन्हें धैर्य और विश्वास बनाए रखना है। नकारात्मकता को अपने आसपास फटकने नहीं दें और जो भी सकारात्मक हो, उसे तत्काल ग्रहण करें। अपनी संस्कृति पर गर्व करें और समाज को परिवार जितना महत्व दें। सामाजिक क्षेत्र में काम करने के लिए परिवार भी महिलाओं  को आजादी दें।
कोटा नागरिक सहकारी बैंक के अध्यक्ष राजेश बिरला ने कहा कि महिलाओं की लोकतांत्रिक संस्थाओं में भागीदारी बढ़ना एक सुखद संकेत है। सांसद नवनीत राणा उन महिलाओं के लिए सक्षम उदाहरण हैं जो सामाजिक क्षेत्र में काम करना चाहती हैं। कार्यक्रम में भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष अनुसूइया गोस्वामी, महिला मोर्चा की शहर जिलाध्यक्ष कविता पचवारिया, पूर्व उपमहापौर सुनीता व्यास ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन भाजपा शहर जिला महामंत्री जगदीश जिंदल ने किया।
महाराष्ट्र में हनुमान जी का नाम लेना देशद्रोह
अपनी कोटा यात्रा के दौरान भी सांसद नवनीत राणा ने महाराष्ट्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में हनुमान जी का नाम लेना देशद्रोह हो गया। हमने हनुमान चालीसा पढ़ने की बात कही तो देशद्रोह का केस लगाकर कई दिनों तक यातना दी गई। महिला सांसद होने के बाद भी अमानवीय व्यवहार किया गया। लेकिन हम इससे घबराने वाले कतई नहीं हैं।

(Visited 19 times, 1 visits today)

Check Also

IIT मद्रास के प्रो. प्रदीप को स्वच्छ जल टेक्नोलॉजी में गोल्ड मेडल

आईआईटी मद्रास के रसायन विज्ञान विभाग के प्रोफेसर थलपिल प्रदीप अंतराष्ट्रीय गोल्ड मेडल एवं 2 …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: