Thursday, 2 July, 2020

नीट की सेंट्रल काउंसलिंग में मॉप-अप राउंड के रजिस्ट्रेशन 18 अगस्त तक

  • नीट-यूजी,2018: एमबीबीएस व बीडीएस की 3042 सीटों पर दाखिले के लिए अंतिम अवसर
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी तथा जामिया मिलिया इस्लामिया में एमबीबीएस एवं बीडीएस सीटों पर मिलेंगे एडमिशन

न्यूजवेव कोटा
एमबीबीएस तथा बीडीएस की सीटों के लिए केंद्रीय काउंसलिंग के मॉप-अप राउंड के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 16 अगस्त से प्रारंभ हुई जो 18 अगस्त शाम 5 बजे तक चलेगी। इसके बाद 19 अगस्त को च्वाइस फिलिंग व लॉकिंग करना होगा। 20 अगस्त को रिक्त सीटें आवंटित कर दी जाएंगी।
21 से मेडिकल कॉलेजों में रिपोर्टिंग
21 से 26 अगस्त तक अभ्यर्थियों को आवंटित कॉलेज में रिपोर्टिंग करना होगी। कॅरिअर पॉइंट के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट देव शर्मा ने बताया कि मॉप-अप राउंड सेंट्रल यूनिवर्सिटी, डीम्ड यूनिवर्सिटी तथा ईएसआईसी के लिए ही उपलब्ध होता है। केंद्रीय काउंसलिंग की वेबसाइट पर सीट मैट्रिक्स भी अपलोड कर दी गई है।
जैन व मुस्लिम अल्पसंख्यक के लिए अलग कोटा
डीम्ड यूनिवर्सिटी, सेंट्रल यूनिवर्सिटी तथा ईएसआईसी की कुल 3042 सीटों पर मॉप-अप राउंड सेे एडमिशन दिए जाएंगे। मुस्लिम अल्पसंख्यकों के लिए हमदर्द इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च नईदिल्ली तथा कर्नाटक में मैंगलूर स्थित येनेपोया मेडिकल कॉलेज में कुछ सीटें उपलब्ध है। जैन अल्पसंख्यक वर्ग के लिए सुमनदीप विद्यापीठ बड़ोदरा गुजरात में कुछ सीटें उपलब्ध है।


2 लाख की सिक्यूरिटी राशि खतरे में
मेडिकल स्टूडेंट्स याद रखें कि मॉप अप राउंड में डीम्ड यूनिवर्सिटी की कोई सीट आवंटित हुई और स्टूडेंट उसे स्वीकार नहीं करता हैै तो रजिस्ट्रेशन के दौरान जमा ₹2,00,000 की सिक्योरिटी राशि लौटाई नहीं जाएगी।
केटेगरी की सही सूचना दें
यदि विद्यार्थी किसी गलत सूचना के आधार पर डीम्ड यूनिवर्सिटी में कोई सीट प्राप्त कर लेता है लेकिन डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के दौरान सही सूचना गलत पाए जाने पर विद्यार्थी को आवंटित सीट तो रद्द होगी ही, साथ ही दो लाख रुपए की रिफंडेबल सिक्योरिटी राशि भी वापस नहीं की जाएगी। ऐसे में यह ध्यान रखें कि च्वाइस फिलिंग के दौरान केटेगरी एवं जाति से संबंधित सही सूचनाएं अपलोड करें तथा ऐसी डीम्ड यूनिवर्सिटी में च्वाइस नहीं भरें, जहां आप प्रवेश नहीं लेना चाहते।

(Visited 20 times, 1 visits today)

Check Also

सुवि नेत्र चिकित्सालय अब NABH से प्रमाणित

NABH प्रमाणित होने से कोविड-19 महामारी के दौरान नेत्र रोगियों को मिलेगा क्वालिटी ट्रीटमेंट न्यूजवेव@ …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: