Tuesday, 20 October, 2020

गांधीसागर की वादियों में पर्यटकों को लुभाता है-‘हिंगलाज रिसोर्ट’

कोटा से 135 किमी दूर हिल स्टेशन जैसा पर्यटक स्थल
न्यूजवेव @ कोटा
प्रकृति की खूबसूरत वादियों के बीच गांधीसागर बांध के नजदीक बना ‘हिंगलाज रिसॉर्ट’ मध्यप्रदेश व राजस्थान के सैलानियों का पसंदीदा पर्यटक स्थल बन चुका है।चंबल नदी की अथाह लहरों के बीच क्रूज व बोटिंग का लुत्फ इसकी मनोहारी छटा में चार चांद लगा देते हैं। बरसात के बाद इस क्षेत्र में चट्टानों के बीच झरने व हरियाली की चादर सैलानियों को बहुत लुभाती है।

एग्जॉटिक हॉलिडे के निदेशक सिद्धार्थ विजय ने बताया कि कई सैलानी परिवार के साथ यहां 2-3 दिन ठहरते हैं। आसपास के बेजोड़ पर्यटक स्थल उनके टूर को यादगार बना देते हैं। हिंगलाज रिसोर्ट में सुसज्जित डीलक्स रूम किसी हिल स्टेशन से कम नही हैं। रिसोर्ट के बीच में हरियाली के बीच रेस्तरां हैं। यहां कमरों का किराया लगभग 4100 रुपये (GSTसहित) है। नदी किनारे खूबसूरत गार्डन व स्वीमिंग पुल इसके मुख्य आकर्षण हैं। रिसोर्ट में जिम व स्पोर्ट रूम भी हैं। गांधी सागर का विहंगम दृश्य देखकर टूरिस्ट चकित रह जाते हैं।

जल तरंगों पर मोटर बोट्स सफारी

कोटा से नजदीक यह दर्शनीय स्थल प्राकृतिक सौंदर्य का खजाना है। यह भानपुरा से 30 किमी तथा रावतभाटा से 60 किमी दूर है। चंबल नदी की जल तरंगों पर मोटर बोट्स सफारी और क्रूज का आनंद अनूठा अहसास कराता है।

अन्य नजदीकी दर्शनीय स्थल

  •  रिसोर्ट से 40 किमी दूर गांधी सागर डेम है, जिसका 165 मेगावाट क्षमता का पन बिजलीघर देखने लायक है।
  • चतुर्भुज नाथ नाले की रॉक पेंटिंग्स। करीब 5 किमी लंबी चट्टानी गुफाएं,उनमें हजारों पेंटिंग्स पर्यटकों को लुभाती है।
  • रिसोर्ट से कुछ दूर बड़ा महादेव के पास 70 मीटर ऊंचे पानी के झरने छोटा महादेव के झरने सबका मनमोह लेते हैं।
  • 100 पर्वतीय गुफाएं। रिसोर्ट से कुछ दूरी पर बुद्धकालीन पोला पर्वतीय गुफाएं रोमांचकारी हैं।
  • इसके आसपास डूंगर हरियाली से आच्छादित हैं।

(Visited 208 times, 3 visits today)

Check Also

भ्रष्टाचार की शिकायत हेल्पलाइन नम्बर 1064 पर करें

प्रतिवर्ष की जाने वाली ऑनलाइन सम्पत्ति की घोषणा सभी सरकारी कार्मिकों के लिए भी अनिवार्य …

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: